Friday, 22 January 2021  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 

सीएम नीतीश कुमार बोले- 'किसी में दम नहीं कि हमारे लोगों को देश से बाहर कर दे

जनता जनार्दन संवाददाता , Nov 04, 2020, 20:25 pm IST
Keywords: Nitish Kumar   JantaJanaradan   Nitish Kumar Cm Bihar   Patna News   Bihar News   नीतीश सरकार   
फ़ॉन्ट साइज :
सीएम नीतीश कुमार बोले- 'किसी में दम नहीं कि हमारे लोगों को देश से बाहर कर दे बिहार विधानसभा चुनाव के तीसरे चरण के लिए कल चुनाव प्रचार थम जाएगा. ऐसे में सभी पार्टियों के नेता जोर-शोर से चनाव प्रचार में लगे हुए हैं. इसी क्रम में बुधवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार किशनगंज पहुंचे और एनडीए प्रत्याशी के पक्ष में चुनावी सभा संबोधित की. इस दौरान उन्होंने कहा कि कुछ लोग ऐसी फालतू बातें कर रहे हैं कि लोगों को देश के बाहर कर दिया जाएगा. उन्होंने कहा, ‘किसी में दम नहीं कि हमारे लोगों को देश से बाहर कर दे.’ मालूम हो कि किशनगंज में मुसलमानों की अच्छी खासी आबादी है.

बिहार विधानसभा चुनाव के तीसरे चरण के लिए कल चुनाव प्रचार थम जाएगा. ऐसे में सभी पार्टियों के नेता जोर-शोर से चनाव प्रचार में लगे हुए हैं. इसी क्रम में बुधवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार किशनगंज पहुंचे और एनडीए प्रत्याशी के पक्ष में चुनावी सभा संबोधित की. इस दौरान उन्होंने कहा कि कुछ लोग ऐसी फालतू बातें कर रहे हैं कि लोगों को देश के बाहर कर दिया जाएगा. उन्होंने कहा, ‘किसी में दम नहीं कि हमारे लोगों को देश से बाहर कर दे.’ मालूम हो कि किशनगंज में मुसलमानों की अच्छी खासी आबादी है.


मुख्यमंत्री ने अपने संबोधन के दौरान अल्पसंख्यकों के कल्याण के लिये उनकी सरकार की ओर से किये गए कामों का भी उल्लेख किया. उन्होंने कहा, ‘‘ये कौन दुष्प्रचार करता रहता है, फालतू बातें कहता रहता है. यहां से, देश से कौन किसको बाहर करेगा. देश में किसी में दम नहीं है कि हमारे लोगों को बाहर करे.’’ उन्होंने कहा, ‘‘ सभी लोग हिन्दुस्तान के हैं, कौन बाहर करेगा?’’ विपक्ष पर परोक्ष रूप से निशाना साधते हुए नीतीश ने कहा कि कुछ लोग चाहते हैं कि समाज में झगड़ा चलता रहे और काम करने की जरूरत नहीं हो.


गौरतलब है कि मुख्यमंत्री के इस बयान को संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) और राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) को लेकर एआईएमआईएम सहित कुछ विपक्षी दलों के आरोपों से जोड़कर देखा जा रहा है.


नीतीश ने कहा, ‘‘हमको जब से काम करने का मौका मिला, हमने समाज में शांति, भाईचारा और सद्भाव का माहौल बनाने के लिये काम किया, क्योंकि समाज में जब सद्भाव रहेगा तभी लोग तरक्की करेंगे.’’ उन्होंने कहा, ‘‘जब हमें काम करने का मौका मिला, तब हमने कहा था कि न्याय के साथ विकास किया जाएगा और अपना वादा पूरा किया.’’


उन्होंने कहा, ‘‘हमने अपराध पर नियंत्रण, आर्थिक स्थिति में सुधार समेत न्याय के साथ विकास का काम किया। महिलाओं को सम्मान देने का काम किया.’’ राजद पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि पहले कोई काम नहीं हुआ, कोई विकास नहीं हुआ. नीतीश कुमार ने कहा कि पहले लालटेन का युग था और काम करने का मौका मिलने पर उनकी सरकार ने बिजली की आपूर्ति में सुधार किया। उन्होंने कहा कि 2018 के अक्टूबर में ही उनकी सरकार ने हर घर में बिजली पहुंचायी.


उन्होंने कहा, "अगर इस बार हमें मौका मिलेगा तो हर गांव में सोलर स्ट्रीट लाइट लगाएंगे, साफ-सफाई पर विशेष ध्यान दिया जाएगा और हर खेत तक सिंचाई के लिए बिजली पहुंचायी जाएगी."


महिलाओं के कल्याण के लिये अपनी सरकार के कार्यों का उल्लेख करते हुए नीतीश कुमार ने कहा कि पहले कितना बुरा हाल था महिलाओं का. जब हमें काम करने का मौका मिला तब पंचायतों एवं शहरी निकायों में महिलाओं को आरक्षण दिया. इसके अलावा अनुसूचित जाति, जनजाति, अति पिछड़े वर्गों को आरक्षण दिया. उन्होंने कहा कि अब पंचायतों एवं शहरी निकायों में महिलाओं एवं पिछड़े वर्गों का प्रतिनिधित्व काफी बढ़ गया है. बता दें कि नीतीश ने किशनगंज के अलावा अररिया और सहरसा में भी चुनावी सभाओं को संबोधित किया.

अन्य चुनाव लेख
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack