Friday, 23 October 2020  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 

वाराणसी: फाइनेंस एजेंसी के आदेश पर पायनियर पत्र देकर कंपनी के कर्मियों द्वारा कन्टेनर को किया सीज

अंकुर मिश्रा , Sep 19, 2020, 9:52 am IST
Keywords: Ramnagar police   Thana Ramnagar   Ramnagar UP   UttarPradesh policeUP Police News   रामनगर पुलिस   यूपी पुलिस  
फ़ॉन्ट साइज :
वाराणसी: फाइनेंस एजेंसी के आदेश पर पायनियर पत्र देकर कंपनी के कर्मियों द्वारा कन्टेनर को किया सीज
वाराणसी रामनगर थाना क्षेत्र के टेंगरा मोड़ इलाके में कंटेनर के सच्चाई का हुआ खुलासा, कंपनी के बकाये राशि 2 लाख भुकतान न करने की वजह व फाइनेंस के उच्चाधिकारियों के द्वारा लेटर को निजी एजेंसी के कर्मचारियों को देकर गाड़ी को कंपनी द्वारा किया गया सीज, कार्यवाहक प्रभारी थाना रामनगर द्वारा यह बताया गया कि कंपनी के द्वारा पूरा डाक्यूमेंट्स ओके है,उच्चाअधिकारियों को इस मामले को अवगत भी कराया गया है जांच चल रही है ,लेकिन देखा जाए तो उस कन्टेनर का मोनोटोरियम भी नही था व रही बात RBI कि तो अगस्त ही महीने में 30 मार्च से लेकर अगस्त महीने में मोनोटोरियम खत्म हो गया है.

कोविड-19 को देखते हुए सितंबर माह से सभी दुकानों व प्रतिष्ठानों को रात्रि 9 बजे तक खोला जा रहा है ,112 नंबर पर सूचना देने पर पहुँची पुलिस ने दोनों तरफ के युवकों को भीटी चौकी पर लायी,जहाँ कार्यवाहक प्रभारी विजय यादव के द्वारा फाइनेंस कंपनी के सम्पूर्ण कागजातों को देख कन्टेनर गाड़ी को फाइनेंस कर्मियों के द्वारा ऑथोराइज़्ड यार्ड बनारस ऑटोमोबाइल में ले जाकर सीज किया गया ,आखिर सवालिया निशान ये खड़ा होता है कि 
 
आखिर रामनगर से लेकर जलीलपुर तक 3 नामी गिरामी यार्ड है 
क्यो ऑथोराइज़्ड यार्ड बनारस ऑटोमोबाइल को ही क्यो बदनाम किया जा रहा है आखिर इसके पीछे कौन - मालिक , ड्राइवर, खलासी या फिर चौथा व्यक्ति कौन? कन्टेनर चालक कन्टेनर को लेके रामनगर स्थित हिंदुस्तान लिवर लिमिटेड के गोदाम पर आया था ।
अन्य राज्य लेख
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack