Friday, 26 February 2021  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 

जबरन धर्म परिवर्तन करवाना इस्लाम के खिलाफ: इमरान खान

जबरन धर्म परिवर्तन करवाना इस्लाम के खिलाफ: इमरान खान इस्लामाबाद: पाकिस्तान की तहरीक-ए-इंसाफ [पीटीआइ] पार्टी के प्रमुख इमरान खान ने कहा है कि जबरन लोगों को इस्लाम कबूल कराना पवित्र कुरान और सुन्ना के खिलाफ है।

इमरान ने हाल में पाकिस्तान तालिबान द्वारा इस्माइली व कलश समुदाय के लोगों को इस्लाम कबूलने के लिए दी गई धमकियों पर यह टिप्पणी की। दोनों जनजातियां पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा प्रांत की चितराल घाटी में रहती हैं और एक से ज्यादा ईश्वर को मानती हैं।

आतंकी संगठन तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान [टीटीपी] ने अपनी वेबसाइट पर गत दो फरवरी को 50 मिनट का वीडियो जारी कर कलश व इस्माइली मुसलमानों के खिलाफ सशस्त्र संघर्ष का एलान किया है। वीडियो में कलश जनजाति को धमकी दी गई कि वे इस्लाम कबूल लें या मरने को तैयार रहें।

इमरान ने शुक्रवार को यहां कहा, लोगों को धमकाना और उन्हें धर्म परिवर्तन के लिए मजबूर करना इस्लाम के उसूलों के खिलाफ है। पाकिस्तान सरकार को समाज के सभी वर्गो के लोगों के जीवन व उनकी संपत्तियों की सुरक्षा करनी चाहिए।

गौरतलब है कि पाकिस्तान का एक वर्ग इमरान पर टीटीपी का पक्षधर होने का आरोप लगाता है। हाल में सरकार के साथ शांति वार्ता के लिए टीटीपी ने उन्हें अपने वार्ताकारों में भी शामिल किया था, लेकिन इमरान ने इससे इन्कार कर दिया था।
अन्य पास-पड़ोस लेख
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack