Friday, 26 February 2021  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 

भूख और कुपोषण से बच्चों की मौत सरकार के लिए शर्मनाक: सत्यदेव सिंह

भूख और कुपोषण से बच्चों की मौत सरकार के लिए शर्मनाक:  सत्यदेव सिंह लखनऊ: भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता सत्यदेव सिंह ने इलाहाबाद स्थिति अनाथ बच्चों के लिए स्थापित राजकीय बालगृह में भूख और कुपोषण से पांच दिनों के भीतर तीन बच्चों की मौत पर नाराजगी दर्ज करते हुए कहा कि किसी सभ्य समाज तथा सरकार के लिए यह शर्म और कलंक की बात है। पार्टी मुख्यालय पर पत्रकारों से बातचीत मे उन्होने बताया कि उन्हें यह भी जानकारी मिली है कि इसी अनाथालय के तीन और बच्चे भी भूख के कारण ही अस्पताल में जिंदगी की जंग लड़ रहे है।

सिंह ने कहा कि इलाहाबाद के शिव पुरी स्थित यह अनाथालय एकीकृत बाल संरक्षण के तहत चलाई जा रही है। स्वास्थ मंत्री ने इतनी गंभीर और अमानवीय कृत्य पर जांच की बात कहा कर अपनी जिम्मेदारी की इतिश्री सपा सरकार की परम्परा के अनुसार कर लिया है। उल्लेखनीय है कि बालगृह में अनाथ बच्ची के साथ यौन प्रताड़ना के अपराध में स्थानीय न्यायालय द्वारा 6 कर्मचारियों को सजा सुनाई जा चुकी है, और 2002 में इलाहाबाद के इसी राजकीय बालगृह में भूख और कुपोषण से तीन बच्चों की मौत हो चुकी है।

वर्तमान सपा सरकार में अपराधों की आँधी चल रही है। अनाथ एवं अबोध लड़कियों के साथ बलात्कार और उनकी हत्या हो रही है। सपा सरकार द्वारा कन्याओं को विद्याधन और अब अल्पसंख्यक कन्याओं के लिए अलग से शासकीय सहायता दी जा रही है। गरीब व दलित लड़कियों के लिए स्थापित कस्तूरबा विद्यालयों की अलग दुर्दशा है। इन विद्यालयों को दीवाल उठाकर सुरक्षित नही किया गया है और निचली जमीन पर निर्माण होने के कारण बरसात में पानी भरता है। यहां लड़कियाँ पूरी तरह असुरक्षित है। शिक्षा, भोजन, बिस्तर, यूनीफार्म का घोर आभाव है परन्तु 2014 चुनाव की तैयारी मे सरकार कन्याओं के लिए धन की घोषणा कर रही है और इन विद्यालयों के सुधार पर कोई चर्चा भी नही है।

इस देश में स्त्रियों को अनादिकाल से बहुत प्रतिष्ठा और सम्मान प्राप्त है। इस देश में अधर्म नाश के लिए अनेक देवियों के अवतार हुए है। उसी पावन धरती उत्तर प्रदेश में वर्तमान सरकार भी अवसरवादी एवं तुष्टिकरण की नीति के चलते हिन्दूओं की अवहेलना कर रही है, त्यौहारों पर बाधाएं उत्पन्न हो रही है। दंगे कराएं जा रहे है और हिन्दुओ पर ही झूठे और षडयंत्र के तहत मुकदमें दर्ज किए जा रहे है और उत्पीड़न किया जा रहा है। भाजपा सरकार को चेतावनी दे रही है कि परिस्थितियों को ज्वालामुखी न बनाये और अपने राजधर्म का इमानदारी, निषपक्ष भाव से निर्वहन करें अन्यथा पार्टी इसका करारा जवाब देगी।
अन्य राज्य लेख
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack