जलियांवाला बाग नरसंहार का बदला लेने के लिए महारानी एलिजाबेथ द्वितीय की हत्या की धमकी दी गई

जनता जनार्दन संवाददाता , Dec 28, 2021, 10:41 am IST
Keywords: जलियांवाला बाग   महारानी एलिजाबेथ   Jallianwala Bagh Massacre   Queen Elizabeth II   महारानी एलिजाबेथ द्वितीय   
फ़ॉन्ट साइज :
जलियांवाला बाग नरसंहार का बदला लेने के लिए महारानी एलिजाबेथ द्वितीय की हत्या की धमकी दी गई जलियांवाला बाग नरसंहार का बदला लेने के लिए महारानी एलिजाबेथ द्वितीय (Queen Elizabeth II) की हत्या की धमकी वाला एक वीडियो सामने आया है. वीडियो में एक नकाबपोश शख्स यह कहता दिखाई दे रहा है कि 1919 के जलियांवाला बाग हत्याकांड का बदला लेने के लिए महारानी एलिजाबेथ द्वितीय की हत्या की जाएगी. यह व्यक्ति खुद को भारतीय सिख बता रहा है. वहीं, स्काटलैंड यार्ड ने वीडियो की जांच शुरू कर दी है.

स्नैपशॉट पर शेयर किए गए वीडियो में दिख रहा नकाबपोश व्यक्ति खुद को भारतीय सिख जसवंत सिंह चैल बता रहा है. वीडियो में वो कह रहा है, ‘मैं दुखी हूं, मैंने जो किया है और मैं जो करूंगा, उससे भी मैं दुखी हूं. मैं राजपरिवार की महारानी एलिजाबेथ की हत्या करने का प्रयास करूंगा. यह उन लोगों के लिए बदला है जो 1919 के जालियावाला बाग नरसंहार में मारे गये थे. यह उन लोगों के लिए भी बदला है जो अपनी नस्ल के कारण मारे गए, अपमानित या भेदभाव का शिकार हुए. मैं एक भारतीय सिख हूं. मेरा नाम जसवंत सिंह चैल है, मेरा नाम डार्थ जोंस है’.

अप्रैल, 1919 में बैसाखी के दौरान अमृतसर के जालियावाला बाग में यह नरसंहार हुआ था जनरल डायर के आदेश पर ब्रिटिश सैनिकों ने स्वतंत्रता समर्थक शांतिपूर्ण प्रदर्शन पर गोलियां चलाई थीं, जिसमें बड़ी संख्या में लोग मारे गये थे. ‘द सन’ की वेबसाइट पर डाले गए इस वीडियो 'स्टार वार्स' की तरह मास्क लगाए एक व्यक्ति के हाथ में काला हथियार है. यह वीडियो उस व्यक्ति के स्नैपचैट अकाउंट के फालाअर्स को कथित रूप से भेजा गया है.

कुछ दिन पहले ही एलिजाबेथ के विंडसर महल में एक घुसपैठिये को गिरफ्तार किया गया था. ऐसे में इस धमकी ने पुलिस की नींद उड़ा दी है. स्काटलैंड यार्ड के अधिकारी धमकी वाले वीडियो की जांच कर रहे हैं, जिसका कथित रूप से संबंध क्रिसमस के दिन विंडसर महल से गिरफ्तार किए गये घुसपैठिये से बताया जाता है. इस घुसपैठिये के पास तीर-धनुष था. मेट्रोपोलिटन पुलिस ने बताया कि मानसिक स्वास्थ्य जांच के बाद गिरफ्तार संदिग्ध के विरुद्ध ब्रिटेन के मानसिक स्वास्थ्य कानून की धाराएं लगाई गयी हैं और वह चिकित्सकों की देखभाल में है.
वोट दें

क्या आप कोरोना संकट में केंद्र व राज्य सरकारों की कोशिशों से संतुष्ट हैं?

हां
नहीं
बताना मुश्किल