अमेरिका ने पाक को लखवी के खिलाफ दिए सुबूत

अमेरिका ने पाक को लखवी के खिलाफ दिए सुबूत वाशिंग्टन: पाकिस्तान को मुंबई हमलों के साजिशकर्ताओं को न्याय के कटघरे तक लाने की उसकी प्रतिबद्धता याद दिलाने के कुछ ही दिन बाद अमेरिका के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा है कि उसने वर्ष 2008 के मुंबई हमलों में लश्कर ए तैयबा के ऑपरेशंस कमांडर जकी उर रहमान लखवी की संलिप्तता संबंधी विश्वसनीय सबूत पाकिस्तान के साथ साझा किए हैं।

एक वरिष्ठ अमेरिकी अधिकारी ने पहचान उजागर न करने की शर्त पर कहा, अमेरिका ने पाकिस्तान को लखवी के बारे में विश्वसनीय सबूत दिए हैं। अधिकारी ने इस संबंध में विस्तत जानकारी देने से इनकार कर दिया। उन्होंने कहा कि यह एक कानूनी मामला है।

अधिकारी ने बताया कि पाकिस्तान ने लखवी और मुंबई आतंकी हमलों में शामिल अन्य लोगों के बारे में पाकिस्तान को जो सूचना दी है वह विश्वसनीय है।

अमेरिका ने मुंबई में हुए आतंकवादी हमलों में शामिल लोगों के बारे में जो सूचना मुहैया कराई है वह डेविड हेडली से पूछताछ और उससे मिली जानकारी पर आधारित है। हेडली मुंबई हमलों में संलिप्तता के मामले में इस समय जेल में है। अमेरिका की कई सुरक्षा एजेंसियों और खुफिया इकाइयों ने मुंबई आतंकवादी हमलों के बारे में जांच की है।

इस सूचना के आने से पहले पिछले ही सप्ताह अमेरिका ने कहा था कि पाकिस्तान के साथ आतंकवाद से निपटने के लिए मजबूत साझेदारी है। तब अमेरिका ने इस्लामाबाद से अपील की थी कि वह 26/11 हमलों के साजिशकर्ताओं को न्याय के कटघरे में लाने की अपनी प्रतिबद्धता का पालन करे।

इससे पहले अमेरिकी विदेश विभाग की प्रवक्ता जेन साकी ने कहा था, पाकिस्तान सरकार ने मुंबई हमलों को अंजाम देने वालों और उन्हें वित्तीय मदद देने वालों को न्याय के कटघरे में लाने में अपना सहयोग देने का संकल्प लिया था। हम पाकिस्तान से उस प्रतिबद्धता को पूरा करने की अपील करते हैं।

55 वर्षीय लखवी मुंबई हमलों का मास्टरमाइंड है और फिलहाल जन सुरक्षा आदेश के तहत पाकिस्तान की जेल में बंद है। पिछले सप्ताह एक अदालत ने लखवी को जेल से रिहा करने के निर्देश दिए थे। इस कदम पर भारत ने कड़ा विरोध जताया था। लखवी को इस आदेश पर रिहा किए जाने से पहले ही बंधक बना लिया गया था।
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack