Monday, 06 December 2021  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 

अघोराचार्य बाबा कीनाराम अधोर शोध एवं सेवा संस्थान, आश्रम में पूजी गयी कुमारी कन्याएँ और भैरव के बाल स्वरूप के पखारे गए पाँव

अमिय पाण्डेय , Oct 14, 2021, 18:39 pm IST
Keywords: Baba Kinaram Ji   Baba Kinaram Maharaj   Happy Dussehra 2021   Navratri   Shubh Dussehra   शुभ दशहरा 2021   हैप्पी नवरात्रि 2021   नवरात्र 2021  
फ़ॉन्ट साइज :
अघोराचार्य बाबा कीनाराम अधोर शोध एवं सेवा संस्थान, आश्रम में पूजी गयी कुमारी कन्याएँ और भैरव के बाल स्वरूप के पखारे गए पाँव
वाराणसी: बाबा कीनाराम आश्रम, क्रीं कुण्ड शिवाला में शारदीय नवरात्र कन्या पूजन के साथ आज सम्पन्न हुआ। वैसे तो शारदीय नवरात्र में कन्या पूजन का विशेष महत्व होता है, परन्तु इस बार कोविड-19 की संभावित तीसरी वेब से बचने के लिए  कोरोनॉ नियमों का अनुपालन करते हुए कन्याओं का पूजन किया गया । इस बार गुरुवार को विश्वविख्यात अघोरपीठ अघोराचार्य बाबा कीनाराम अघोर शोध एवं सेवा संस्थान के पीठाधीश्वर, सर्वेश्वरी समूह एवं अघोर सेवा मंडल के अध्यक्ष परम् पूज्य बाबा सिद्धार्थ गौतम राम जी के दिशा निर्देशन एवं आशीर्वाद से कीनाराम आश्रम में नव कुमारी कन्याओं एवं भैरव का पूजन सामाजिक दूरी का पालन करते हुए पूरे उत्साह से आयोजित किया गया.

इस दौरान कीनाराम स्थल प्राँगण में अत्यधिक संख्या में सम्मिलित भक्तों ने दो गज की दूरी रखते हुए कतारबद्ध तरीके से नव कुमारी एवं भैरव के बाल स्वरूप का दर्शन पूजन कर आशीर्वाद लिया। कीनाराम स्थल इस दौरान देवी भक्ति के साथ-साथ हर-हर महादेव के जयघोष से गुंजायमान रहा.

इसके पूर्व नन्हीं-नन्हीं कुमारी कन्याओं का पाँव पखारे व शुभता के लिए महावर से रंगे गए, नए वस्त्र, बिंदी, कुमकुम आदि से श्रृंगार के उपरांत सजीली, चमकदार चुनरियाँ ओढाई गयीं, विधिवत पूजन कर सात्विक भोजन ( पूड़ी, सब्जी, खीर आदि पकवानों समेत दही, मिष्ठान और ऋतु फल) से तृप्त किया गया। कन्याओं के नौ देवी स्वरूपों एवं भैरव ने अपने बाल स्वरूप में भक्तगणों को आशीर्वाद प्रदान किया। पूजन आचार्य प्रकाश जी एवं श्रीमती संगीता सिंह ने किया । कार्यक्रम के सफलतापूर्वक आयोजन के लिए संस्थान के व्यवस्थापक श्री अरुण सिंह तथा सदस्यों में अभिनव, आराध्या, सौम्या, आयुष, गुंजन, नाना जी, वीरेंद्र, बाऊ, सुरेश, कैलाश माली, विनय, संजय, गोलू, अंशू, राहुल, भूपेन्द्र प्रताप सिंह उर्फ रिंटू, जसवंत, गोवर्धन, मंटू, उपेन्द्र सिंह उर्फ लाठी, वैभव, फागू एवं अभिषेक, इत्यादि लोगों ने सराहनीय योगदान दिया.
अन्य धर्म-अध्यात्म लेख
वोट दें

क्या आप कोरोना संकट में केंद्र व राज्य सरकारों की कोशिशों से संतुष्ट हैं?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
सप्ताह की सबसे चर्चित खबर / लेख