Monday, 18 October 2021  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 

साहित्य अकादेमी के अस्मिता कार्यक्रम में चार भारतीय अंग्रेजी कवयित्रियों ने की शिरकत

नई दिल्लीः साहित्य अकादेमी द्वारा वेबलाइन साहित्य श्रृंखला के अंतर्गत अस्मिता कार्यक्रम का आयोजन किया गया जिसमें चार भारतीय अंग्रेजी लेखिकाओं  ने अपनी कविताएं प्रस्तुत की. कार्यक्रम में भाग लेने वाली यह रचनाकार थीं -  मिताली मधुस्मिता, नीलम चंद्रा, नेहा बंसल एवं नीतू.

इस कार्यक्रम में रचनाकारों द्वारा प्रस्तुत कविताओं में जहां सामाजिक सरोकारों की छाया थी वहीं कई  पौराणिक आख्यानों के स्त्री पात्रों के आधार पर महिला के विभिन्न रूपों को  प्रस्तुत किया गया था. कुछ रचनाएं महिलाओं के विभिन्न दायित्वों जैसे मां, बेटी आदि पर भी केंद्रित थीं. जहां मिताली मधुस्मिता की कविताओं की प्रस्तुति की सरलता प्रभावित करने वाली थी वहीं नीलम चंद्रा की कविताओं में तात्कालिक सामाजिक सरोकारों की सार्थक प्रस्तुति थी.

नेहा बंसल की कविताएं पौराणिक आख्यानों की महिला पात्रों  मंदोदरी, रेणुका, हिडिंबा आदि  पर केंद्रित थीं. नीतू जी की कविताओं में आतंकवाद से प्रभावित महिलाओं की स्थिति का मार्मिक वर्णन था. उन्होंने अपनी कुछ हिंदी कविताएं भी प्रस्तुत की. कार्यक्रम के अंत में साहित्य अकादेमी के सचिव के. श्रीनिवासराव ने सभी चारों सम्मिलित रचनाकारों को धन्यवाद ज्ञापित किया. कार्यक्रम का संचालन उपसचिव कृष्णा किंबाहुने ने किया.
अन्य साहित्य लेख
वोट दें

क्या आप कोरोना संकट में केंद्र व राज्य सरकारों की कोशिशों से संतुष्ट हैं?

हां
नहीं
बताना मुश्किल