Wednesday, 01 February 2023  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 

शनि-चंद्रमा की युति आज से बनाएगी विष योग

जनता जनार्दन संवाददाता , Jan 23, 2023, 16:35 pm IST
Keywords: Saturn Moon conjunction   Aquarius 2023   Shani Moon Yuti   शनि   चंद्रमा   ज्योतिष शास्त्र  
फ़ॉन्ट साइज :
शनि-चंद्रमा की युति आज से बनाएगी विष योग

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार हर ग्रह कुछ समय में राशि परिवर्तन करता है. इसमें शनि सबसे धीमी गति और चंद्रमा सबसे तेजी से राशि बदलने वाले ग्रह हैं. शनि ढाई साल में राशि बदलते हैं, जबकि चंद्रमा ढाई-तीन दिन में ही बदल लेते हैं. 17 जनवरी को शनि गोचर करके अपनी मूल त्रिकोण राशि कुंभ में पहुंचे हैं और आज रात से चंद्रमा भी कुंभ राशि में संचरण करेंगे. इससे विष योग बन रहा है, जिसका बड़ा असर सभी राशि वालों पर पड़ेगा. ज्‍योतिष शास्‍त्र में विष योग को अच्‍छा नहीं माना गया है क्‍योंकि विष योग कई तरह से नुकसान पहुंचाता है. अभी कुंभ राशि में बन रहा विष योग 3 राशि वालों के लिए अशुभ है.

विष योग करा सकता है इन लोगों को नुकसान 
  
कुंभ राशि में शनि और चंद्रमा की युति से बन रहा विष योग 3 राशि के जातकों के लिए अशुभ है. इन लोगों को धन हानि समेत अन्‍य नुकसान होने के योग हैं. लिहाजा इन लोगों को अगले 3 दिन तक संभलकर रहना चाहिए. 
 
कर्क राशि: कर्क राशि वालों के लिए विष योग अच्‍छा नहीं है. सेहत का ध्‍यान रखें. साथ ही बातचीत में सतर्क रहें, वरना किसी से झगड़ा हो सकता है. नया काम शुरू कर सकते हैं. नौकरी परिवर्तन करना चाह रहे हैं तो 3 दिन रुकना ही बेहतर है. मानसिक तनाव रहेगा. भोलेनाथ और शनि देव की आराधना करें, लाभ मिलेगा.

कन्या राशि : कन्‍या राशि वालों के लिए भी विष योग अच्‍छा नहीं है. विवाद उलझेंगे. कोर्ट में कोई मामला चल रहा है तो मामला आपके विरोध में जा सकता है. यात्रा करते समय अपने सामान और सुरक्षा का ध्‍यान रखें. व्‍यापारी वर्ग के लोग लेन-देन संभलकर करें, वरना धन हानि हो सकती है. 

मीन राशि : शनि चंद्र की युति से बन रहे विष योग के दौरान मीन राशि वालों को बहुत सतर्कता बरतनी चाहिए. वरना नुकसान हो सकता है. खर्च बढ़े हुए रहेंगे. बजट बिगड़ सकता है. नया काम शुरू न करें. निवेश न करें. नौकरी करने वाले लोग वर्कप्‍लेस पर लापरवाही न करें. सेहत का ध्‍यान रखें. साझेदारी में काम शुरू करने से बचें. थोड़ा इंतजार करें, समय अनुकूल होने पर आगे बढ़ें. 

वोट दें

क्या आप कोरोना संकट में केंद्र व राज्य सरकारों की कोशिशों से संतुष्ट हैं?

हां
नहीं
बताना मुश्किल