Monday, 06 February 2023  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 

तरक्की में महिलाओं का अहम योगदान, करें उनके सम्मान का संकल्प: पीएम मोदी

जनता जनार्दन संवाददाता , Aug 15, 2022, 15:25 pm IST
Keywords: PM Modi   Independence Day Speech   Smriti Irani   प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी   स्वतंत्रता दिवस    स्मृति ईरानी  
फ़ॉन्ट साइज :
तरक्की में महिलाओं का अहम योगदान, करें उनके सम्मान का संकल्प: पीएम मोदी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्वतंत्रता दिवस पर लोगों से आग्रह किया कि वह ऐसा कुछ न करने का संकल्प लें, जिससे महिलाओं की प्रतिष्ठा कम होती है. उन्होंने कहा कि बोलने में और आचरण में महिलाओं को अपमानित करने की विकृति आई है. देश के 76वें स्वतंत्रता दिवस पर लाल किले की प्राचीर से अपने संबोधन में उन्होंने कहा कि भारत की तरक्की के लिए महिलाओं का सम्मान एक महत्वपूर्ण स्तंभ है और उन्होंने ‘नारी शक्ति’ का समर्थन करने की आवश्यकता पर जोर दिया.

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, ‘हमारे आचरण में विकृति आ गई है और हम कभी-कभी महिलाओं का अपमान करते हैं. क्या हम अपने व्यवहार और मूल्यों में इससे छुटकारा पाने का संकल्प ले सकते हैं.’ उन्होंने कहा कि यह महत्वपूर्ण है कि बोलने में और आचरण में ‘हम ऐसा कुछ न करें जो महिलाओं का सम्मान कम करता हो.

महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी ने एक ट्वीट में इस मामले पर प्रधानमंत्री की ‘संवेदनशीलता’ की तारीफ की. उन्होंने ट्वीट किया,‘लाल किले की प्राचीर से महिलाओं के सम्मान और प्रतिष्ठा की रक्षा करने की भावुक अपील करना प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी की संवेदनशीलता को दिखाता है. देश की हर महिला अपनी ताकत और क्षमता के बल पर भारत को विकसित बनाने के ख्वाब को पूरा करने के लिए प्रतिबद्ध है.

अखंड भारत के महत्व का उल्लेख करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि भारत के पास एकता की अवधारणा पर दुनिया को सिखाने के लिए काफी कुछ है और एकता की यह अवधारणा परिवार की संरचना से शुरू होती है. उन्होंने कहा कि लैंगिक समानता अखंड भारत की कुंजी है. उन्होंने कहा कि परिवार संरचनाओं में बेटों और बेटियों को समान महत्व दिए बिना एकता का विचार खो जाएगा.

उन्होंने कहा, ‘हमें भारत की विविधता का जश्न मनाना चाहिए...घर पर भी, एकता के बीज तभी बोए जाते हैं जब बेटे और बेटी समान हों. अगर ऐसा नहीं होता तो एकता का मंत्र गूंज नहीं सकता. मैं उम्मीद करता हूं कि हम ऊंच-नीच या मेरा-तेरा के इस रवैया से छुटकारा पा सकें. लैंगिक समानता एकता का अहम मानदंड है.’

पीएम मोदी ने कहा कि महिला शक्ति समाज के सभी क्षेत्रों में मौजूद है और देश के विकास के लिए अहम है. उन्होंने कहा, ‘अगर हम कानून, शिक्षा, विज्ञान और पुलिस में ‘नारी शक्ति’ की ओर देखें तो हमारी बेटियां और माताएं भारत में अहम योगदान दे रही हैं.’

उन्होंने कहा कि नागरिकों को रानी लक्ष्मीबाई, झलकारी बाई, रानी चिनम्मा और बेगम हजरत महल जैसी भारत की महिलाओं की ताकत पर गर्व है. उन्होंने कहा कि भारतीय महिलाएं त्याग और संघर्ष की प्रतीक हैं.

अन्य देश लेख
वोट दें

क्या आप कोरोना संकट में केंद्र व राज्य सरकारों की कोशिशों से संतुष्ट हैं?

हां
नहीं
बताना मुश्किल