बीजेपी में शामिल हुए सनी देओल ने कहा है कि मैं बात नहीं काम करके दिखाऊंगा

जनता जनार्दन संवाददाता , Apr 23, 2019, 13:31 pm IST
Keywords: Sunny Deol   Bollywood   Sunny Deol News   Bollywood India   Sunny Deol Join BJP   सनी देओल  
फ़ॉन्ट साइज :
बीजेपी में शामिल हुए सनी देओल ने कहा है कि मैं बात नहीं काम करके दिखाऊंगा

दिल्ली: बॉलीवुड के मशहूर अभिनेता सनी देओल बीजेपी में शामिल हो गए हैं. बीजेपी सनी देओल को पंजाब के गुरदासपुर से चुनावी मैदान में उतार सकती है. बीजेपी में शामिल होने के बाद सनी देओल ने कहा है कि इस देश को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जैसे लोगों की जरूरत है. सनी ने यह भी कहा है कि मैं बातें नहीं बल्कि काम करके दिखाऊंगा.

मैं मोदी जी के साथ जुड़ने आया हूं- सनी देओल

प्रेस कॉन्फ्रेंस में सनी देओल ने कहा, ‘’मेरे पापा अटल जी के साथ जुड़े थे. मैं मोदी जी के साथ जुड़ने आया हूं. इस देश को मोदी जैसे लोगों की जरूरत है. मैं चाहता हूं कि मोदी अगले पांच साल और देश के प्रधानमंत्री बने.’’ उन्होंने आगे कहा, ‘’मैं बातें नहीं काम करके दिखाऊंगा.’’ बता दें कि सनी देओल केंद्रीय मंत्री निर्मला सीतारमण और पीयूष गोयल की मौजूदगी में बीजेपी में शामिल हुए हैं.

इस दौरान रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा, ‘’जब मुझे पता लगा सनी देओल हमारी पार्टी में शामिल हो रहे हैं तो मुझे बार्डर फ़िल्म की याद आ गई, जो राष्ट्रवाद का उदाहरण थी.’’ निर्मला सीतारमण ने कहा कि सनी देओल लोगों की नब्ज समझते हैं.

वहीं केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा, ‘’सनी देओल का पूरा परिवार बीजेपी का वफ़ादार रहा है. जिस प्रकार से इनके पिता धर्मेन्द्र जी ने लोगों की सेवा की. उसी तरह सनी दयोल भी जनता के बीच में रहकर लोगों की सेवा करेंगे.’’

सनी के गुरदासपुर से चुनाव लड़ने की चर्चा

बता दें कि साल 2014 में गुरदासपुर से बीजेपी के टिकट पर विनोद खन्ना चुनाव जीते थे. विनोद खन्ना का साल 2017  में निधन हो गया था. इसके बाद उपचुनाव में कांग्रेस के सुनील जाखड़ चुनाव जीत गए थे.

पिता ध्रमेंद्र की राह पर सनी देओल

सनी देओल के पिता ध्रमेंद्र राजस्थान के बीकानेर से बीजेपी के सांसद रह चुके हैं. साल 2004 में उन्होंने जीत हासिल की थी, लेकिन साल 2009 में उन्होंने राजनीति छोड़ दी. ध्रमेंद्र की दूसरी पत्नी हेमा मालिनी अभी मथुरा से बीजेपी के टिकट पर चुनाव लड़ रही हैं.

अन्य चुनाव लेख
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack