Wednesday, 03 March 2021  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 

पीएम मोदी को लोगों के बाथरूम में झांकने की आदतः मतदान के दिन साझा प्रेस वार्ता में राहुल-अखिलेश

पीएम मोदी को लोगों के बाथरूम में झांकने की आदतः मतदान के दिन साझा प्रेस वार्ता में राहुल-अखिलेश लखनऊ: कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी और सपा अध्यक्ष एवं उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव यहां एक साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित किया.

पीएम मोदी के 'रेनकोट', 'जन्मपत्री' और 'गूगल' वाले बयानों को लेकर कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने निशाना साधा है.

राहुल गांधी ने यहां पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि पीएम को सिर्फ गूगल पर सर्च करना और दूसरों के बाथरूम में झांकना पसंद है. उन्हें जो भी जन्मपत्री निकालनी है निकाल लें.

राहुल ने आगे कहा कि हम यूपी में युवाओं की सरकार चाहते हैं. यूपी के विकास के लिए 10 एजेंडा बनाया है.इन 10 एजेंडों से भी आगे जाकर काम करेंगे.हम किसानों की मदद करेंगे.

हमारी सरकार भाईचारे की सरकार है.यूपी में सबकी सरकार होनी चाहिए. केंद्र का 2 करोड़ युवाओं को रोज़गार का वादा झूठा है. यूपी की 99 प्रतिशत सीट पर कोई समस्या नहीं.
 
पहले बोलते हुए अखिलेश यादव ने कहा कि हम आज ‘ दस कदम प्रगति के’ के बारे में जानकारी दे रहे हैं. यह एक दस सूत्री एजेंडा है, जिसपर सरकार बनने के बाद काम किया जायेगा.

उन्होंने बताया कि इस दस कदम प्रगति के में युवाओं को फ्री स्मार्ट फोन देना, किसानों को फसलों की उचित कीमत देना, गरीब परिवारों को प्रतिमाह एक हजार रुपये पेंशन और अनाज देना, पंचायत में महिलाओं को 50 प्रतिशत आरक्षण देंगे, लड़कियों के लिए कक्षा नौ तक की शिक्षा मुफ्त दी जायेगी.

अखिलेश यादव ने कहा कि सपा-कांग्रेस का गठबंधन युवाओं का गठबंधन है. हम किसी से कुछ छीन नहीं रहे हैं, हम तो जो जैसा है उसे वापस लाने की बात कर रहे हैं, सपा की सरकार थी और हम उसे वापस लाना चाहते हैं. ऐसे में किसी को नाराज होने या भावुक होने की जरूरत नहीं है.

अखिलेश के बाद राहुल गांधी ने कहा कि हम ‘वन डिस्ट्रिक्ट वन प्रोडक्ट’ पर काम करेंगे. राहुल ने एक प्रश्न के जवाब में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला करते हुए कहा कि देश में बेरोजगारी बढ़ रही है, किसान परेशान हैं, लेकिन वे लोगों की जन्मपत्री निकाल रहे हैं. गूगल सर्च कर रहे हैं, लोगों के बाथरूम में झांक रहे हैं.

राहुल ने कहा आप ये सब करें, लेकिन जरूरी यह है कि आप एक प्रधानमंत्री हैं और आपको देश के सामने जो समस्याएं हैं, उनका निराकरण करें.

अखिलेश ने भी पीएम मोदी पर निशाना साधा और कहा कि यह लोकतंत्र है, यहां चुनाव होते हैं. किसी को नाराज होने की जरूरत नहीं है. यूपी ने 70 सांसद भाजपा को दिये, लेकिन यूपी को क्या मिला.

लखनऊ और दिल्ली के इमाम के बारे में बोलते हुए अखिलेश यादव ने कहा कि लखनऊ वाले इमाम पहले भाजपा के लिए वोट मांग रहे थे, अब बसपा के लिए वोट मांग रहे हैं. यह भी संभव है कि वे शायद दोनों पार्टियों में गठबंधन कराना चाहते हों. जहां तक बात दिल्ली वाले इमाम की है, तो वे सामने कुछ भी कहें, लेकिन वे आशीर्वाद हम ही को देंगे.

सपा-कांग्रेस गठबंधन पर उठे सवालों पर राहुल गांधी ने जवाब देते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश में 403 सीटें हैं हम 99 प्रतिशत सीट पर साथ चुनाव लड़ रहे हैं. कुछ 6-7 सीट पर कुछ इश्यू हैं, लेकिन हम इन्हें जल्दी ही सुलझा लेंगे.

अखिलेश ने सपा-कांग्रेस गठबंधन पर बोलते हुए कहा कि लोग इस गठबंधन से डर गये हैं. यही कारण है कि वे इसे कुनबों की सरकार बता रहे हैं. उन्होंने कहा कि इस गठबंधन से डरकर पत्थर वाली सरकार विकास की बात करने लगी है.

मोदी जी डर गये हैं, दो युवाओं के साथ आने से डर गये हैं. उन्हें लग रहा है कि दो नये सोच के लोग साथ आ गये हैं, यह उनके लिए खतरा है. हार का भय उन्हें आतंकित कर रहा है. अखिलेश ने आरोप लगाया कि भाजपा और बसपा एक साथ है, उनकी सांठगांठ है.

इस प्रेस कॉन्फ्रेंस का आयोजन होटल ताज में किया गया. इस प्रेस कॉन्फ्रेंस के लिए राहुल गांधी लखनऊ पहुंच गये हैं. सपा-कांग्रेस के गठबंधन के बाद राहुल और अखिलेश ने उत्तर प्रदेश में साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस और रोड शो का आयोजन किया है. वे दोनों गठबंधन के जीत के प्रति आश्वस्त हैं और इनका दावा है कि उन्हें 300 से ज्यादा सीटें मिलेंगी.

राहुल-अखिलेश ने गिनाए ये 10 वादे-

  1.     किसानों के लिए बिजली सस्ती की जाएगी
  2.     युवाओं को स्मार्टफोन दिए जाएंगे
  3.     कक्षा 9 से 12वीं के सभी मेधावा छात्रों को मुफ्त साइकिल
  4.     1 करोड़ गरीब परिवारों 1000 रुपये मासिक पेंशन
  5.     पुलिस का आधुनिकीकरण किया
  6.     डायल 100 योजना का विस्तार
  7.     5 साल तक हर गांव को बिजली पानी
  8.     हर जिले के 4 लेन रोड से जोड़ेगे
  9.     महिलाओं को सरकारी नौकरी में 30%, तथा पंचायत चुनाव में 50% आरक्षण
  10.     10 लाख दलितों को घर देंगे
अन्य राजनीतिक दल लेख
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack