Saturday, 26 November 2022  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 

एनसीडीसी ने दीवाली मेले में कारोबार को बढ़ाने के लिए SKUAST-जम्मू से जुड़े एफपीओ उत्पादों को बढ़ावा दिया

जनता जनार्दन संवाददाता , Nov 06, 2021, 19:54 pm IST
Keywords: NCDC   Diwali Mela   SKUAST   Farmer Producer Organizations   SKUAST-Jammu   FPOs   NCDC News   NCDC Diwali Mela   राष्ट्रीय सहकारी विकास निगम   एनसीडीसी   किसान उत्पादक संगठन   एफपीओ   
फ़ॉन्ट साइज :
एनसीडीसी ने दीवाली मेले में कारोबार को बढ़ाने के लिए SKUAST-जम्मू से जुड़े एफपीओ उत्पादों को बढ़ावा दिया पुंछ: किसान उत्पादक संगठनों (एफपीओ) के माध्यम से जम्मू और कश्मीर के दूरदराज के क्षेत्रों के किसानों के लिए नए अवसर खुल रहे हैं।

हाल ही में, जम्मू के शेर-ए-कश्मीर कृषि विज्ञान और प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, सीबीबीओ ने जम्मू-कश्मीर आत्मनिर्भर सहकारी अधिनियम, 1999 के तहत पुंछ जिले के पुंछ और मंडी ब्लॉक में दो एफपीओ पंजीकृत किए।

राष्ट्रीय सहकारी विकास निगम (एनसीडीसी), नई दिल्ली पुंछ ब्लॉक में एफपीओ के लिए 'पुंछ किसान उत्पादक सहकारी लिमिटेड' और मंडी ब्लॉक में एफपीओ अखरोट 'मंडी अखरोट किसान उत्पादक सहकारी सहकारी लिमिटेड' के लिए कार्यान्वयन एजेंसी की भूमिका में सामने आई है।

पूर्वोत्‍तर क्षेत्र के लिए केन्‍द्रीय सहकारिता एवं विकास राज्‍य मंत्री श्री बी.एल. वर्मा ने डीडीसी अध्‍यक्ष तज़ीम अख्तर, सहकारिता विभाग जम्मू और कश्मीर सरकार की सचिव श्रीमती यशा मुद्गल आईएएस, पुंछ के जिला विकास आयुक्त श्री इंद्रजीत सिंह, जम्मू-कश्मीर के रजिस्ट्रार सहकारी समितियां श्री शफकत इकबाल की मौजूदगी में पुंछ की अपनी यात्रा में इन किसान उत्पादक संगठनों 'एफपीओ' के प्रतिनिधियों को पंजीकरण प्रमाण पत्र सौंपे।

SKUAST-जम्मू में दीवाली मेले के दौरान जम्मू-कश्मीर के विशिष्ट उत्पादों को SKUAST-जम्मू द्वारा प्रचारित किसान उत्पादक संगठनों 'एफपीओ' द्वारा प्रदर्शित और बेचा जा रहा है। प्रदर्शनी में एफपीओ के उत्पाद आकर्षण का केंद्र हैं, जिसमें पुंछ से पानी मिल मक्के का आटा, मंडी से अखरोट, मारवाह से राजमाश, किश्तवाड़ से अनारदाना और केसर शामिल हैं।

प्रो. जे.पी. शर्मा कुलपति स्कूस्ट-जम्मू ने एफपीओ के प्रयासों की सराहना की और जम्मू-कश्मीर के दूरदराज के हिस्सों में एफपीओ के चयन के लिए एनसीडीसी, नई दिल्ली की भूमिका को स्वीकार किया। उन्होंने आगे किसानों को बेहतर रिटर्न लाने के लिए एफपीओ सेल को बाजार उन्मुख व्यवसाय योजना तैयार करने का सुझाव दिया।

इस अवसर पर डॉ. एस.के. गुप्ता, निदेशक विस्तार ने प्रगति पर प्रकाश डाला और मेले में स्टाल लगाने के लिए किसानों को बधाई दी। डॉ. पवन कुमार शर्मा, डॉ. राकेश शर्मा, डॉ. अनिल भट, डॉ. हर्ष शर्मा, अभिषेक कनागत, पूजा शर्मा, हरनीत, दिव्या खजूरिया और धर्मवीर सिंह ने एफपीओ की गतिविधियों का समन्वयन किया।
अन्य प्रांत लेख
वोट दें

क्या आप कोरोना संकट में केंद्र व राज्य सरकारों की कोशिशों से संतुष्ट हैं?

हां
नहीं
बताना मुश्किल