Friday, 22 January 2021  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 

चंदौली: पत्रकार रोहित श्रीवास्तव आत्महत्या मामला, परिजनों ने पुलिस पर लगाया लापरवाही का आरोप

चंदौली: पत्रकार रोहित श्रीवास्तव आत्महत्या मामला, परिजनों ने पुलिस पर लगाया लापरवाही का आरोप
चंदौली:  खबर यूपी के चन्दौली जिले से है जहां मुग़लसराय निवासी व वाराणसी के एक प्रतिष्टित टीवी चैनल के पत्रकार रोहित श्रीवास्तव का पिछ्ले 13 अगस्त को आत्महत्या करने के मामले में पत्रकार के परिजनों ने वाराणसी पुलिस पर केस में लापरवाही बरतने का आरोप लगाया है। परिजनों ने इस पूरे मामले में साजिस के तहत रोहित श्रीवास्तव की हत्या किए जाने का संभावना व्यक्त किया है वहीं मृतक पत्रकार के परिजनों ने बरिष्ठ पुलिस अधीक्षक को पत्र लिख कर मामले की उच्चत्तरीय जांच करने की मांग की है।
 
आपको बता दें कि स्वर्गीय पत्रकार रोहित श्रीवास्तव मूलतः चन्दौली के रविनगर निवासी थे जो वाराणसी में रह कर एक प्रतिष्टित टीवी चैनल के लिए काम कर रहे थे। परिजनों के अनुसार बीते 4 अगस्त को रोहित श्रीवास्तव के लापता होने की जानकारी उनको मिली, जिसके बाद परिजनों ने संभावित जगहों पर रोहित को तलाशा पर कुछ पता न चलने पर परिजनों ने बीते 8 अगस्त को वाराणसी के सिगरा थाने पर गुमसुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई। वहीं परिजनों का शक एक मिस्ट्री गर्ल पर थी, जो पिछले 4 महीनों से पत्रकार रोहित के साथ लिव इन रिलेशन में थी। 
पुलिस व परिजन उसे ढूंढ ही रहें थे कि बीते 13 अगस्त को परिजनों को सूचना मिला कि रोहित श्रीवास्तव ने विश्व सुंदरी पूल से गंगा में छलांग लगाया है और उसे घायल अवस्था मे वाराणसी के ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया गया है जहां परिजनों की उपस्तिथि में रोहित श्रीवास्तव ने दम तोड़ दिया। रोहित के मौत के बाद बीते 15 अगस्त को परिजनों ने सिगरा थाने में दो लीगों के ऊपर नामजद मुकदमा दर्ज कराया है। वहीं परिजनों का आरोप है कि पुलिस मामले की जांच में हिला-हवाली कर रही है जिसके कारण नामजद अभियुक्त मौके से फरार न हो जाए।
अन्य हादसा लेख
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack