हादसा
  • खबरें
  • लेख
राजकोट के TRP गेमिंग जोन में आग लगने से 24 लोगों की मौत जनता जनार्दन संवाददाता ,  May 25, 2024
गुजरात के राजकोट शहर में शनिवार शाम एक 'गेम जोन' में लगी भीषण आग में बच्चों समेत कम से कम 24 लोगों की मौत हो गई. गेमिंग जोन में लगी आग ने कई परिवारों के चिराग बुझा दिए. बताया जा रहा है कि मारे जाने वालों में ज्यादातर छात्र या बच्चे हैं. घटनास्थल से अब तक 24 शव निकाले जा चुके ....  समाचार पढ़ें
महोबा में ब्लास्टिंग के दौरान बड़ा हादसा, 4 मजदूरों की मौत जनता जनार्दन संवाददाता ,  Mar 12, 2024
उत्तर प्रदेश के महोबा जनपद में पहाड़ी पर अवैध खनन के दौरान बड़ा हादसा होने की खबर सामने आई है. यहां पर अवैध खनन के लिए की जा रही ब्लास्टिंग के दौरान बड़ा हदसा हो गया. इस विस्फोट की चपेट में आने से 4 मजदूरों की मौत हो गई, जबकि 8 मजदूरों के दबे होने की आशंका है. पूरी घटना कबरई थाना क्षेत्र के पहरा गांव के पास ....  समाचार पढ़ें
हरदा में पटाखा फैक्ट्री में ब्लास्ट, 6 की मौत, 40 लोग घायल जनता जनार्दन संवाददाता ,  Feb 06, 2024
मध्य प्रदेश के हरदा में पटाखा फैक्ट्री में बड़ा धमाका हुआ है, जिसमें 6 लोगों की मौत हो चुकी है और 40 लोग घायल हैं. इनमें से कई लोगों की हालत गंभीर बनी हुई है. धमाके के बाद इलाके में अफरातफरी मच गई है. मिली जानकारी के अनुसार, हरदा के मगरधा रोड स्थित एक अवैध पटाखा फैक्ट्री में मंगलवार को विस्फोटों के साथ आग लग ग ....  समाचार पढ़ें
सुरंग में 400 से ज्यादा घंटे 41 मजदूरों ने कैसे बिताए? जनता जनार्दन संवाददाता ,  Nov 28, 2023
उत्तराखंड की सिल्कयारा सुरंग की घुप अंधियारी में 41 मजदूरों के 400 से ज्यादा घंटे कैसे बीते होंगे? परिजनों से दूर सुरंग के कुछ किलोमीटर के दायरे में 'कैद' मजदूरों ने 16 दिन काटने के लिए क्या किया? सुरंग हादसे से जुड़े ये कुछ ऐसे सवाल हैं जो आपके भी मन में घूम रहे होंगे. मजदूरों ने सुरंग से बाहर निकलने की आस कभी मरने नहीं दी, यही कारण है कि वे जिंदा हैं. उनकी इच्छाशक्ति प्रबल थी और इसका ही नतीजा है कि वे आज सुरंग से आजाद होकर खुली हवा में फिर सांस लेंगे. आइये आपको बताते हैं मजदूरों ने सुरंग में इतना लंबा वक्त कैसे बिताया और क्या-क्या किया? ....  समाचार पढ़ें
फंसे मजदूरों के बाहर निकलने की बढ़ी उम्मीद, टनल में 6 मीटर की रह गई दूरी जनता जनार्दन संवाददाता ,  Nov 23, 2023
उत्तराखंड के उत्तरकाशी स्थित सिलक्यारा टनल में फंसे मजदूरों को निकालने के लिए लगातार बचाव अभियान जारी है. वहीं, मशीन से ड्रिलिंग के दौरान, जिन आयरन रॉड को एनकाउंटर किया गया था, आज सुबह NDRF के जवानों ने पाइप में घुसकर उन्हें गैस कटर से काटने का काम पूरा कर लिया है. अभी तक 8 पाइप अंदर डाली जा चुकी हैं, जो 45 मीटर तक अंदर है. 1 पाइप की लंबाई 6 मीटर है. वहीं, 9वें पाइप की वेल्डिंग, Positioning और Alignment का काम प्रगति पर है. SDRF ने पहले ही वायर के जरिये Modified Communication स्थापित किया है, जिसके जरिये स्पष्ट संवाद लगातार स्थापित है. बताया जा रहा है कि अब ड्रिलिंग के जरिए 6 मीटर की दूरी रह गई है. अगर सबकुछ बढ़िया रहा तो आज मजूदरों को सकुशल बाहर निकालने की उम्मीद है. ....  समाचार पढ़ें
उत्तरकाशी: मजदूरों को अब तक क्यों नहीं निकाल पाई रेस्क्यू टीम? जनता जनार्दन संवाददाता ,  Nov 21, 2023
उत्तरकाशी में 10 दिनों से सुरंग में फंसे मजदूरों को बचाने की मुहिम दिन ब दिन जोर पकड़ रही है. बड़ी-बड़ी मशीनों के साथ एक्सपर्ट्स भी मौके पर मौजूद हैं. माना जा रहा है कि जल्द ही मजदूरों को निकाल लिया जाएगा. रेस्क्यू मिशन के लिए 6 प्लान तैयार हैं. ताजा जानकारी मिली है कि 6 इंच के पाइप को 53 मीटर तक सुरंग में ....  समाचार पढ़ें
सूरत रेलवे स्टेशन पर बेकाबू हुई भीड़, बिहार जाने वाली ट्रेन में भगदड़ जनता जनार्दन संवाददाता ,  Nov 11, 2023
गुजरात के सूरत से एक दुखद खबर सामने आई है. त्योहार पर घर जाने वालों की भीड़ बेकाबू हुई तो भगदड़ मच गई. शनिवार सुबह सूरत रेलवे स्टेशन से भागलपुर जाने वाली ट्रेन में घुसने की कोशिश में भगदड़ में एक यात्री की मौत हो गई. एक महिला समेत दो अन्य लोग घायल हो गए. घायलों को इलाज के लिए अस्पताल ....  समाचार पढ़ें
फ्लाइट के गेट पर गिरा पायलट..अस्पताल पहुंचते ही मौत जनता जनार्दन संवाददाता ,  Aug 17, 2023
रिपोर्ट के मुताबिक मृत पायलट का नाम और उसके बारे में अन्य जानकारी तत्काल ज्ञात नहीं हो पाई है. पायलट के रोस्टर के मुताबिक ड्यूटी पर आने से पहले पायलट ने अपने काम का अच्छे से संचालन किया और उससे पहले आराम भी किया था. इंडिगो ने यह भी बताया है कि पायलट ने कल दो सेक्टरों त्रिवेन्द्रम-पुणे-नागपुर में फ्लाइट का परिचालन किया है. यह परिचालन सुबह लगभग 3 बजे से 7 बजे के बीच था. उसके बाद 27 घंटे का आराम किया था. फिर आज यानी कि गुरुवार दोपहर एक बजे प्रस्थान के साथ 4 सेक्टरों के लिए पायलट को निर्धारित किया गया था. नागपुर से यह प्रस्थान था यह आज का यह उनका पहला सेक्टर था. फिलहाल घटना के कारणों के बारे में जानकारी सामने नहीं आई है. बता दें कि इस सप्ताह पायलटों की अचानक मौत का यह तीसरा मामला है, मृतकों में दो भारतीय पायलट हैं. इससे पहले बुधवार को कतर एयरवेज के एक सीनियर पायलट की मौत कुछ इसी तरह हुई थी. वह पायलट एक यात्री के रूप में दिल्ली से दोहा के लिए उड़ान भर रहा था और विमान में ही उसकी तबीयत अचानक खराब हो गई थी. इसके बाद उसकी मृत्यु हो गई. हालांकि मेडिकल इमरजेंसी के बाद फ्लाइट को दुबई की ओर मोड़ दिया गया था. ....  समाचार पढ़ें
बचावकर्मियों के पीछे पड़ा रेल हादसे का भूत! पानी लगने लगा खून जनता जनार्दन संवाददाता ,  Jun 06, 2023
उन्होंने कहा, ''अच्छी मानसिक सेहत के वास्ते ऐसी काउंसेलिंग हमारे उन कर्मियों के लिए करायी जा रही है जो आपदाग्रस्त इलाकों में बचाव एवं राहत अभियानों में शामिल होते हैं.'' करवाल ने कहा कि पिछले साल से अब तक इस संबंध में कराए विशेष अभ्यास के बाद तकरीबन 18,000 कर्मियों में से 95 प्रतिशत कर्मी 'फिट' पाए गए. ....  समाचार पढ़ें
दिल्ली अग्निकांड: फायरमैन राजेश शुक्ला बने सबसे बड़े हीरो, लपटों के बीच जाकर 11 लोगों को बचाया जनता जनार्दन संवाददाता ,  Dec 08, 2019
दिल्ली के भीषण अग्निकांड में राजेश शुक्ला नाम के फायरमैन सबसे बड़े हीरो बनकर सामने आए हैं. राजेश शुक्ला ने 11 लोगों की जान बचाई है. शुक्ला आग की लपटों के बीच सबसे पहले फैक्ट्री में घुसे और लोगों को बाहर निकाला. हालांकि इस दौरान वो खुद भी घायल हो गए हैं और उनका अस्पताल में इलाज चल रहा है. दिल्ली सरकार में मंत्री सत्येंद्र जैन ने इसकी जानकारी दी है. ....  लेख पढ़ें
दिल्ली: भीषण आग से फैक्ट्री में सो रहे 43 लोगों की मौत जनता जनार्दन संवाददाता ,  Dec 08, 2019
दिल्ली में रानी झांसी रोड पर अनाज मंडी स्थित एक फैक्ट्री में आज सुबह आग लगने से 43 लोगों की मौत हो गई और कई लोग झुलस गए हैं. गंभीर रूप से झुलसे लोगों को एलएनजेपी, लेडी हार्डिंग और सफदरजंग अस्पताल में भर्ती कराया गया है. पुलिस ने फैक्ट्री मालिक के भाई को हिरासत में ले लिया है. बताया जा रहा है कि आग शॉर्ट सर्किट की वजह से लगी. ....  लेख पढ़ें
पड़ताल- वाराणसी पुल हादसाः अफसर जिम्मेदार तो ठेकेदार-नेताओं का काकस क्यों नहीं? प्रेम प्रकाश ,  May 16, 2018
एक नही, दो स्लैब गिरे हैं। वजन हजारों टन में है। बनारस में आज हर चेहरा धुंआ-धुंआ है, हर आँख नम है। मौत अभी- अभी तांडव करके गुजरी है। झूठ बोल रहा है शासन, प्रशासन और मीडिया कि मौतें दस या बीस हुई हैं। मौतों का आंकड़ा सैकड़ों से पार का है। चूल्हे आज बनारस के किसी घर में नही जले अबतक। लोगों में गुस्सा है, लोग व्यथित हैं, लोग अवाक हैं। ....  लेख पढ़ें
वाराणसी पुल हादसाः दुर्भाग्य मोदी जी, योगी जी! मलबे में सिर्फ लाशें नहीं आपको लेकर उम्मीदें भी दफन हुईं वाराणसी ब्यूरो ,  May 16, 2018
भोले बाबा की नगरी काशी में और उसके आसपास इनदिनों विकास और तरक्की के नाम पर जो हो रहा है, कैंट का ओवरब्रिज हादसा उसका एक छोटा सा नमूना भर है. शर्मनाक तो यह कि इस संसदीय क्षेत्र की नुमाइंदगी खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करते हैं, और कहते हैं कि राज्य के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की इस इलाके पर खास नजर है. ....  लेख पढ़ें
वे औद्योगिक हादसे, जिनसे हिल गई दुनियाः भोपाल गैस त्रासदी से ऊंचाहार एनटीपीसी धमाके तक जनता जनार्दन डेस्क ,  Nov 01, 2017
ऊंचाहार एनटीपीसी की इस दुर्घटना ने एक बार फिर इंडस्ट्रियल एक्सीडेंट की तरफ ध्यान खींचा है। भारत और दुनिया में यह पहला मौका नहीं है, जब इस तरह का हादसा हुआ हो। भोपाल गैस कांड से लेकर फुकुशिमा और चर्नोबिल तक ऐसे कई इंडस्ट्रियल एक्सीडेंट हो चुके हैं। देश-दुनिया के कुछ बड़े इंडस्ट्रियल एक्सीडेंट के बारे में भी चर्चा करेंगे। पहले समझते हैं असल में ऊंचाहार में हुआ क्या? ....  लेख पढ़ें
भारत में हर दिन शराब पीकर वाहन चलाने से 19 की मौत जनता जनार्दन संवाददाता ,  Jul 20, 2017
देश में शराब पीकर वाहन चलाने से होने वाली दुर्घटनाओं में हर दिन 19 व्यक्तियों की जान जाती है, जिसमें औचक निगरानी के जरिए कमी लाई जा सकती है. राजस्थान पुलिस और एक अमेरिकी अनुसंधान एजेंसी द्वारा संयुक्त रूप से किए गए अध्ययन में कहा गया है कि अगर पुलिस इस तरह वाहन चालकों का औचक परीक्षण करे, जिसकी उन्हें उम्मीद भी न हो, इस पर लगाम लगाया जा सकता है. ....  लेख पढ़ें
वाराणसी हादसा: आस्था का समागम या मौत का संगम प्रभुनाथ शुक्ल ,  Oct 18, 2016
देश और दुनिया में धार्मिक आयोजनों में भगदड़ और उसके बाद मौत की यह कोई नई घटना नहीं है. इस तरह की घटनाएं आम हैं. लेकिन इसके बाद भी हम कोई सबक नहीं सीखते बड़ा सवाल यह है. हम धर्म और आस्था को लेकर इतने लचीले रुख क्यों अख्तियार करते हैं. जब लोगों को पर्याप्त सुरक्षा उपलब्ध कराने की हमारे पास व्यवस्था उपलब्ध नहीं है, उस स्थिति में इस तरह के आयोजनों की अनुमति ही क्यों दी जाती है. ....  लेख पढ़ें
जम्मू एवं कश्मीर में आतंकवाद से अधिक घातक हैं सड़कें जावेद ट्राली ,  May 16, 2016
जम्मू एवं कश्मीर में आतंकवाद से कहीं अधिक जानें सड़कें लेती हैं। सरकारी आंकड़े बताते हैं कि तेज या फिर लापरवाही से वाहन चलाने के कारण बीते दो साल में सड़क दुर्घटना में मारे गए लोगों की संख्या आतंकवादियों द्वारा मारे गए लोगों की संख्या से पांच गुना अधिक है. ....  लेख पढ़ें
मप्र रेल हादसा: आंखों के सामने डूब गई जीवन संगिनी! जनता जनार्दन डेस्क ,  Aug 06, 2015
अजय कुमार का रो-रो कर बुरा हाल है। वह बिहार से हैं। जीवन की गाड़ी को रफ्तार देने मुंबई के लिए निकले थे। मगर मध्य प्रदेश के हरदा जिले में हुए रेल हादसे में उनकी जीवन की गाड़ी को ब्रेक लग गया। जीवन संगिनी कंचन बाई आंखों के सामने पानी में डूबती रही और वह चाहकर भी उसे बचाने का साहस नहीं जुटा पाए। अजय जैसे और भी कई लोग हैं, जिन्होंने अपने परिजनों को मौत के मुंह में समाते देखा है। ....  लेख पढ़ें
पिछले 6 सालों में रेलगाड़ी कहाँ कब-कब टकराई जनता जनार्दन संवाददाता ,  Jul 07, 2011
दुनिया के सबसे लम्बे रेल ट्रैक के रखरखाव के साथ ही करोड़ों लोगों को उनके गंतव्य तक पहुँचाने वाली भारतीय रेल की एक रेलगाड़ी जब उत्तर प्रदेश के कांशीराम नगर जिले में बुधवार देर रात एक मानवरहित रेलवे क्रासिंग पर बस से टकराई तो 38 लोग मारे गए। जबकि एक महीने पहले ही भारत ने अंतर्राष्ट्रीय मंच पर यह आश्वासन दिया था कि ऐसे चौराहों पर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए जाएंगे। पिछले छह वर्षो में देश में हुई बड़ी रेल दुर्घटनाएं इस प्रकार हैं.. ....  लेख पढ़ें
वोट दें

क्या आप कोरोना संकट में केंद्र व राज्य सरकारों की कोशिशों से संतुष्ट हैं?

हां
नहीं
बताना मुश्किल