Wednesday, 26 September 2018  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 

उपवास कब...

अमित मौर्य , Apr 13, 2018, 9:23 am IST
Keywords: poem   upwas kab   amit maury   varanasi   editor amit mauryकविता   उपवास कब   अमित मौर्य   
फ़ॉन्ट साइज :
उपवास कब...
बलात्कार पर उपवास कब
बेरोजगारी पर उपवास कब 
डॉलर के मुकाबले गिरते हुए रुपये पर उपवास कब 
बढ़ती हुई महंगाई पर उपवास कब
सरकारी अस्पतालों की दुर्व्यवस्था पर उपवास कब
किसानों की आत्महत्याओं पर उपवास कब
नीरव मोदी के बैंक घोटाले पर उपवास कब
धारा 370 पर उपवास कब 
15 लाख मिले नही उस पर उपवास कब
कालेधन पर उपवास कब
समान शिक्षा के अधिकार पर उपवास कब
बाल श्रम पर उपवास कब 
गंगा अभी तक साफ नही हुई उस पर उपवास कब
दलितों के उत्पीड़न पर उपवास कब
जाति मुक्त भारत पर उपवास  कब
गो मांस निर्यात पर उपवास कब
बढ़ते हुए पेट्रोल पर उपवास कब
धार्मिक उन्माद के नेताओ के बयान पर उपवास कब  
आदिवासियों के उत्पीड़न पर उपवास कब
बढ़ती हुई आतंकी घटनाओं पर उपवास कब
अन्य कविता लेख
वोट दें

क्या बलात्कार जैसे घृणित अपराध का धार्मिक, जातीय वर्गीकरण होना चाहिए?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack