Thursday, 17 October 2019  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 

तीसरे दिन 364 अंक बढ़त के साथ बंद हुए शेयर बाजार

जनता जनार्दन डेस्क , Mar 03, 2016, 18:33 pm IST
Keywords: BSE Sensex   NSE Nifty   Global cues   Trading sessions   Sensex Closed   बंबई स्टॉक एक्सचेंज   सेंसेक्स   निफ्टी  
फ़ॉन्ट साइज :
तीसरे दिन 364 अंक बढ़त के साथ बंद हुए शेयर बाजार मुंबईः बाजार में लगातार तेजी का दौर जारी है. आज चौथे दिन बंबई स्टॉक एक्सचेंज का सेंसेक्स 203 अंकों की तेजी के साथ 24,446 अंक पर खुला. शुरुआती कारोबार में भी सेंसेक्स ने बढ़त बरकरार रखी.

सुबह के कारोबार में सेंसेक्स 199 अंकों की तेजी के साथ 24,442 अंकों पर पहुंच गया. इसी प्रकार नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का प्रमुख इंडेक्‍स निफ्टी भी 50 से अधिक अंकों की तेजी के साथ खुला और शुरुआती कारोबार में 50 अंकों की तेजी के साथ 7,419 अंक पर पहुंच गया.

मिडकैप और स्मॉलकैप के शेयरों में भी जबर्दस्त तेजी देखने को मिल रही है. दोनों ही इंडेक्स हरे निशान में नजर आ रहे हैं.

मिडकैप में 15 अंकों की जबकि स्मॉलकैप के शेयरों में 47 अंकों की तेजी दर्ज की जा रही है. बुधवार को बाजार में लगातार दूसरे दिन तेजी रही और बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स 464 अंक उछलकर 24,243 अंक पर बंद हुआ जो एक माह का उच्चतम स्तर है.

रिजर्व बैंक द्वारा बैंकों पूंजी के न्यूनतम स्तर की गणना के नियमों को उदार बनाने के बाद बैंक शेयरों में आज अच्छी तेजी देखी गयी. तीस शेयरों वाला सेंसेक्स मजबूती के साथ खुला और अंत में 463.63 अंक या 1.95 प्रतिशत की तेजी के साथ 24,242.98 अंक पर बंद हुआ.

आठ फरवरी के बाद यह उच्चतम स्तर था. सेंसेक्स मंगलवार को 777.35 अंक मजबूत हुआ था. इस प्रकार, पिछले दो दिनों में सेंसेक्स में 1,240 अंक से अधिक की तेजी आ चुकी है.

पचास शेयरों वाला नेशनल स्टाक एक्सचेंज का निफ्टी भी 146.55 अंक या 2.03 प्रतिशत मजबूत होकर 7,368.85 अंक पर बंद हुआ. केंद्रीय बैंक ने बैंकों को बासेल-तीन नियमों के तहत पूंजी आधार की गणना में जो ढील दी है उससे बैंकों में ऋण के लिए 35,000 करोड रुपये की पूंजी मुक्त होगी.

तेल कीमतों में तेजी और अमेरिका में मजबूत आर्थिक आंकडों से एशियाई बाजारों में सकारात्मक रुख रहा. डालर के मुकाबले रुपये में मजबूती से भी धारणा मजबूत हुई. कारोबार के दौरान रुपया 67.59 पर आ गया था.
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack