विज्ञान-तकनीक
  • खबरें
  • लेख
WhatsApp पर बिना टाइप किए लिखें मैसेज जनता जनार्दन संवाददाता ,  Mar 02, 2021
पूरी दुनिया में करोड़ों लोग इंस्टेंट मैसेजिंग एप व्हाट्सएप का इस्तेमाल कर रहे हैं. व्हाट्सऐप अपने यूजर्स की जरूरत के हिसाब से नए-नए फीचर्स भी लेकर आता है. व्हाट्सऐप पर लोग लंबी लंबी चैट करते हैं. ऐसे में कई लोगों को व्हाट्सऐप पर चैट करने में सिर्फ इसलिए परेशानी होती है क्योंकि उन्हें जल्दी-जल्दी टाइप करना नहीं आता है. ऐसे में व्हाट्सऐप में एक खास ....  समाचार पढ़ें
WhatsApp के ये दो फीचर हैं बेहद शानदार जनता जनार्दन संवाददाता ,  Feb 28, 2021
व्हाट्सएप ने एडवांस सर्च नाम का एक फीचर लॉन्च किया था, जिसका इस्तेमाल करके यूज़र काफी समय बचा सकते हैं. यह फीचर व्हाट्सएप में सबसे ऊपर दिखाई देता है. इसके जरिए आप फोटो, ऑडियो, वीडियो, डॉक्यूमेंट, लिंक समेत तमाम चीजों ....  समाचार पढ़ें
तेजी से बदलती आज की दुनिया में रोजगार के लिए कौशल जनता जनार्दन संवाददाता ,  Feb 09, 2021
सॉफ्ट स्किल्स का आशय ऐसे गैर-तकनीकी कौशलों हैं जिनका संबंध आपके काम करने के तरीके से होता है। इनमें संचार जैसे विषय शामिल हैं, जिसमें अच्छे संचार कौशल वाले लोग गलतफहमियों से बचने के लिए किसी बात को ध्यान से सुनने की और दूसरे कर्मचारियों, पर्यवेक्षकों अथवा साथियों से कार्यस्थल पर अपेक्षित कार्यों के बारे में प्रभावी तरीके से चर्चा कर सकने की योग्यता र ....  समाचार पढ़ें
दिल्ली HC ने WhatsApp की नई प्राइवेसी पॉलिसी पर की सुनवाई जनता जनार्दन संवाददाता ,  Jan 18, 2021
नई दिल्ली: दिल्ली हाई कोर्ट ने वाट्सएप की नई प्राइवेसी पॉलिसी को चुनौती देने वाली याचिका पर सुनवाई के दौरान टिप्पणी करते हुए कहा कि अगर वाट्सएप की नई पॉलिसी से किसी की निजता का हनन हो रहा है, तो सबसे आसान तरीका ये है कि वाट्सएप को डिलीट किया जा सकता है. इसके विकल्प के तौर पर ऐसी किसी दूसरी एप्लिकेशन को इस्तेमाल किया जा सकता है, जिसके लिए यह माना जा सकता हो कि उसे निजता का हनन नहीं हो रहा. ....  समाचार पढ़ें
WhatsApp पर आप भी करते हैं पर्सनल चैट जनता जनार्दन संवाददाता ,  Jan 05, 2021
आजकल हम सभी इंस्टेंट मैसेजिंग एप व्हाट्सऐप का सबसे ज्यादा इस्तेमाल करते हैं. फ्रेंड्स, फैमिली या गर्लफ्रेंड बॉयफ्रेंड से चैटिंग भी व्हाट्सऐप की जरिए ही की जाती है. ऐसे में हमारी बहुत सी पर्सनल बातें होती है. व्हाट्सऐप में ऐसे कई कॉन्टेक्ट्स होते हैं जिनकी चैट हम किसी के साथ शेयर नहीं करना चाहते. कभी कोई गलती से हमारा फोन छू ले तो डर लगा रहता है कि कहीं हमारी पर्सन चैट न पढ़ ले. लेकिन अब आपको परेशान होने की जरूरत नहीं है आज हम आपको एक ट्रिक बता रहे हैं जिससे आप कि ....  समाचार पढ़ें
ऐसे क्रिएट करें पर्सनल वॉट्सएप बिजनेस अकाउंट जनता जनार्दन संवाददाता ,  Dec 26, 2020
अगर आप बिजनेस करते हैं और रुटीन में अपने बिजनेस रेलेटेड मैसेज पर्सनल वॉट्सएप से भेजते हैं तो आप वॉट्सएप अकाउंट को बिजनेस वॉट्सएप अकाउंट में बदल सकते हैं. ये अकाउंट भी पर्सनल वॉट्सएप की तरह फ्री है और इसमें कई फीचर भी हैं, जो आपके बिजनेस कम्युनिकेशन को आसान बना देंगे. ....  समाचार पढ़ें
इन मोबाइल फ़ोन में नही चलेगा व्हाट्सअप, कही आपका भी मोबाइल तो नही? जनता जनार्दन संवाददाता ,  Dec 18, 2020
नया साल आने वाला है. नए साल के साथ कई पुरानी चीजें पीछे छूट जाएंगी. नया साल आते ही WhatsApp पुराने ऑपरेटिंग सिस्टम के लिए अपना सपोर्ट बंद कर देता है और इस बार भी कंपन. ....  समाचार पढ़ें
वृष राशि में साल का अंतिम चंद्र ग्रहण लगने जा रहा है जनता जनार्दन संवाददाता ,  Oct 10, 2020
वृष राशि में लगने वाला चंद्र ग्रहण उपच्छाया है. इसे पेनुमब्रल भी कहा जाता है. ऐसी मान्यता है कि उपच्छाया चंद्र ग्रहण में सूतक काल मान्य नहीं होता है. साल का अंतिम चंद्र ग्रहण की कुल अवधि 04 घंटे 21 मिनट की होगी. ग्रहण भारत, अमेरिका, प्रशांत महासागर, एशिया और आस्ट्रेलिया में दिखाई देगा. ....  समाचार पढ़ें
कोरोना काल में नौकरी ढूंढना होगा आसान जनता जनार्दन संवाददाता ,  Aug 20, 2020
दिग्गज टेक कंपनी गूगल भारत में एक ऐप लेकर आ रही है, जिसकी मदद से लोगों को नौकरी ढूंढने और उसके लिए अप्लाई करने में आसानी होगी. इस एंड्रायड ऐप का नाम 'कोरमो जॉब्स' होगी. गूगल के इस ऐप के जरिए देशभर में खाली पदों को तलाशने में मदद मिलेगी. ....  समाचार पढ़ें
फोन में मौजूद Unused App को ऐसे करें चेक जनता जनार्दन संवाददाता ,  Jun 08, 2020
आजकल स्मार्टफोन में हैंग होने की समस्या बहुत ही कॉमन हो गई है. इसकी एक बड़ी वजह ये भी है कि हम अपने फोन में ऐसे कई ऐप्स रखते हैं जिनका हम बहुत ही कम इस्तेमाल करते हैं. ये अनयूज्ड ऐप ना सिर्फ हमारे फोन में स्पेस बढ़ाते हैं बल्कि समय-समय पर इन्हें अपडेट करने में डेटा भी यूज होता है. ....  समाचार पढ़ें
कल्पाक्कम! जहां प्रकृति के साथ हंसता है 'परम अणु' भी जय प्रकाश पाण्डेय ,  May 21, 2018
कल्पाक्कम में लगता है समुद्र और धरती ने जैसे आपस में तालमेल कर यह जगह वैज्ञानिकों को सौंपी है. प्रकृति और विज्ञान यहां सहोदर हैं. दोनों एक साथ जगते, अंगड़ाइयां लेते और खिलखिलाकर हंसते हैं, अपनी उर्जा से भरपूर. प्रकृति जहां यह नैसर्गिक रूप में करती है, वहीं विज्ञान हमारे कर्मठ वैज्ञानिकों के ज्ञान और शोध से जगता है. ....  लेख पढ़ें
एक मशीन ऐसी भी, जो हवा से बनाती है पानी जनता जनार्दन डेस्क ,  Nov 01, 2017
जल को लेकर विभिन्न प्रांतों और देशों में तकरार होता ही रहता है, ऐसे में कोलकाता की कंपनी एकेवीओ ने नवाचार के क्षेत्र में पहल करते हुए पानी की समस्या को हल करने की पहल की है। कंपनी ने हवा की नमी से पानी बनाने वाली मशीन लांच की है। ऐसे में, जब कहा जा रहा हो कि तीसरा विश्वयुद्ध अगर हुआ तो पानी को लेकर होगा, ऐसे में एकेवीओ ने अभी शुरुआती तौर पर व्यावसायिक उपयोग के लिए 500 लीटर और 1000 लीटर क्षमता की मशीनें लांच की गई हैं। ....  लेख पढ़ें
ऐतिहासिक पीएसएलवी मिशन का नकारात्मक पहलू भी है: माधवन नायर के एस जयरामन ,  Feb 27, 2017
भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने हाल ही में एक साथ 104 उपग्रह प्रक्षेपित कर इतिहास रच दिया है और उसे दुनियाभर से बधाई संदेश मिल रहे हैं. लेकिन इस अभियान का एक नकारात्मक पहलू भी है, जो चिंता का विषय है. इस अभियान को लेकर भारत ने दुनियाभर में अंतरिक्ष कार्यक्रमों में अपना डंका पीटा है, लेकिन इसरो के पूर्व अध्यक्ष जी. माधवन नायर ने इस पर कुछ चिंता प्रकट की है. ....  लेख पढ़ें
'पीएसएलवी के प्रक्षेपण का उद्देश्य रिकॉर्ड बनाना नहीं' जनता जनार्दन डेस्क ,  Feb 21, 2017
भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने पिछले सप्ताह ध्रुवीय उपग्रह प्रक्षेपण यान (पीएसएलवी) के माध्यम से एक साथ 104 उपग्रहों को छोड़ कर रूस के 37 उपग्रहों के रिकॉर्ड को तोड़ते हुए इतिहास रच दिया। लेकिन इसरो के वैज्ञानिकों का कहना है कि यह महज रिकॉर्ड बनाने के मकसद से नहीं किया गया। ....  लेख पढ़ें
इसरोः बैलगाड़ी से विश्वरिकॉर्ड तक कि वे उपलब्धियां, जिन्होंने दुनिया में  बनाई भारत की पहचान जनता जनार्दन संवाददाता ,  Feb 15, 2017
पिछले कुछ सालों में इसरो ने विज्ञान के क्षेत्र में राष्ट्रीय- अंतरराष्ट्रीय स्तर पर काफी कामयाबी दर्ज की है. एसएलवी-3 भारत का पहला स्वदेशी सैटेलाइट लॉन्च वेहिकल था. इस प्रोजेक्ट के डायरेक्टर पूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम थे. ....  लेख पढ़ें
ट्रंप की वीजा पाबंदी: वैज्ञानिकों ने प्रयोगशालाओं के द्वार खोले जनता जनार्दन डेस्क ,  Feb 07, 2017
अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के कठोर आव्रजन नियमों को लेकर एक तरफ जहां पूरी दुनिया में हड़कंप मचा हुआ है, वहीं दूसरी तरफ इन नियमों के आगे न झुकते हुए भारत सहित दुनिया की वैज्ञानिक बिरादरी ने अमेरिका के बाहर फंसे वैज्ञानिकों की मदद के लिए अपनी प्रयोगशालाओं के दरवाजे खोल दिए हैं. ....  लेख पढ़ें
अगली पीढ़ी की सुरक्षा कंपनियों को साइबर हमले से बचाएगी जनता जनार्दन डेस्क ,  Sep 22, 2016
भारतीय कंपनियां जहां दुनिया भर में लोकप्रिय हो रही हैं, वहीं उन पर साइबर हमले का खतरा बढ़ता ही जा रहा है। क्योंकि यहां ज्यादातर कंपनियां पुराने घिसेपिटे सुरक्षा समाधानों का ही इस्तेमाल कर रही हैं। विशेषज्ञों ने यह चेतावनी दी है।भारत में इंटरनेट प्रयोक्ताओं की संख्या पिछले साल 23.8 करोड़ थी, जो इस साल बढ़कर 36 करोड़ हो चुकी है। लेकिन इसके साथ ही साइबर सुरक्षा को लेकर चिंताएं भी बढ़ गई हैं। ....  लेख पढ़ें
लड़खड़ाते ट्विटर को भारत दे सकता है नया जीवन: विशेषज्ञ जनता जनार्दन डेस्क ,  May 05, 2016
दस साल पुरानी माइक्रोब्लागिग वेबसाइट ट्विटर के उपयोगकर्ताओं की रफ्तार ठहर सी गई है और राजस्व में भारी गिरावट आ चुकी है। अब इसके खत्म होने की भविष्यवाणी की जाने लगी है। लेकिन विशेषज्ञों का कहना है कि ट्विटर में अभी बहुत जान बाकी है और सैन फ्रांसिसको की इस कंपनी को भारत में दोबारा जीवन मिल सकता है. ....  लेख पढ़ें
क्या है नेट निरपेक्षता? जनता जनार्दन डेस्क ,  Apr 24, 2015
इंटरनेट ने दुनिया में क्रांतिकारी परिवर्तन का सूत्रपात किया है। मनुष्य के जीवन में यह व्यक्तिगत, सार्वजनिक तथा आर्थिक मोर्चे पर बेहद क्रांतिकारी बदलाव लाने वाला स्रोत बन सकता है, लेकिन यह सबको इंटरनेट की पहुंच समान रूप से उपलब्ध होने पर ही निर्भर करेगा। मतलब, लोग बिना किसी भेदभाव या कीमतों में किसी अंतर के जो चाहें इंटरनेट पर खोज सकें और देख सकें। यहीं से 'इंटरनेट निरपेक्षता' का सिद्धांत निकला है। ....  लेख पढ़ें
आर्यभट्ट के 40 वर्ष बाद मंगल तक पहुंच चुका है भारत जनता जनार्दन डेस्क ,  Apr 21, 2015
भारत ने 40 वर्ष पहले रूसी रॉकेट की मदद से अपना पहला उपग्रह आर्यभट्ट सफलतापूर्वक छोडा और इसके साथ ही अंतरिक्ष में भारत का अभूतपूर्व सफर शुरू हुआ जो आज चंद्रमा और मंगल तक जा पहुंचा है। भारतीय अंतरिक्ष कार्यक्रम के लिहाज से वर्ष 2015 और खासकर अप्रैल का महीना विशेष अहमियत रखता है। आज से 40 वर्ष पहले 1975 में अप्रैल महीने में ही भारत का पहला उपग्रह 358 किलोग्राम वजनी आर्यभट्ट सफलतापूर्वक छोडा गया। ....  लेख पढ़ें
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल