Wednesday, 23 January 2019  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 
राजनीति
  • खबरें
  • लेख
CM केजरीवाल को फोन पर मिली धमकी, कॉलर ने कहा- देख लेंगे जनता जनार्दन संवाददाता ,  Jan 21, 2019
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को उनके घर के लैंड लाइन फोन पर धमकी दिए जाने का मामला सामने आया है. सोमवार की सुबह किसी ने उनके फोन पर कॉल किया और धमकी भरे लहजे में कहा कि वो जल्द केजरीवाल को देख लेगा. केजरीवाल के दफ्तर की तरफ से डीसीपी नॉर्थ को इस बारे में सूचना दी गई है. पुलिस मामले की छानबीन में जुट गई है. ....  समाचार पढ़ें
मुगलसराय बीजेपी विधायक साधना सिंह ने पत्र जारी कर कहां, गेस्ट हाउस कांड में मदद की याद दिलाना था मकसद जनता जनार्दन संवाददाता ,  Jan 20, 2019
जनपद के बबुरी थाना के परनपुरा गांव में किसान कुंभ अभियान कार्यक्रम में बीजेपी विधायक साधना सिंह ने मायावती पर अमर्यादित टिप्पणी कल की थी. जिसको देखते हुए जनपद में आज रिएक्शन भी देखने को मिला ....  समाचार पढ़ें
गठबंधन के बाद बोले अखिलेश यादव- BJP नेता- कार्यकर्ता पस्त, साथ आने को बेचैन जनता जनार्दन संवाददाता ,  Jan 13, 2019
समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने रविवार को भारतीय जनता पार्टी पर निशाना साधा. अखिलेश ने अपने ट्वीट में लिखा कि हमारे गठबंधन के बाद बीजेपी का बूथ चकनाचूर हो गया है. अब बीजेपी के लोग सपा-बसपा में शामिल होना चाहते हैं. बता दें, शनिवार को सपा ने मायावती की पार्टी बहुजन समाज पार्टी के साथ गठबंधन का ऐलान किया था. दोनों पार्टियां उत्तर प्रदेश की 80 लोकसभा सीटों में से 38-38 सीटों पर चुनाव लड़ेंगी ....  समाचार पढ़ें
मायावती-अखिलेश ने दिया राहुल गांधी को झटका, अब ये रणनीति अपनाएगी कांग्रेस जनता जनार्दन संवाददाता ,  Jan 12, 2019
लोकसभा चुनाव में अभी समय है, लेकिन देश की राजनीति इस आम चुनाव से पहले लगातार गरमाती जा रही है. शनिवार को उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी के बीच गठबंधन हो गया, लेकिन इस गठबंधन में कांग्रेस को शामिल नहीं किया गया. ऐसे में अब सबकी नजर इस पर है कि कभी महागठबंधन बनाने की कोशिश करने वाली कांग्रेस की अगली रणनीति क्या होगी ....  समाचार पढ़ें
मायावती-अखिलेश के बीच हो गया गठबंधन, कर सकते हैं सीटों का ऐलान जनता जनार्दन संवाददाता ,  Jan 11, 2019
आगामी लोकसभा चुनाव को लेकर उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी की सीटों और गठबंधन का औपचारिक ऐलान कल यानी शनिवार को हो सकता है. समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव और बसपा सुप्रीमो मायावती लखनऊ में ज्वॉइंट प्रेस कॉन्फ्रेंस में इसका ऐलान कर सकते हैं. 26 साल पहले हुए गेस्ट हाउस कांड के बाद दोनों पार्टियों में आई दूरी के बाद यह पहला मौका है जब दोनों नेता एक साथ पत्रकारों के सामने बैठे दिखेंगे. ....  समाचार पढ़ें
लोकसभा चुनाव में जनता को छलने वाली सरकार का सफाया तय: अमित सोनकर जनता जनार्दन संवाददाता ,  Jan 10, 2019
पूर्व मुख्यमंत्री एवं समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के निर्देश पर आज विधान सभा चकिया के अध्यक्ष और जिला पंचायत सदस्य अमित सोनकर ने आज मुख्यमंत्री विजन के तहत दादरा एवं सिकटियां गांवों में लोगों से सघन जनसंपर्क किया. ....  समाचार पढ़ें
अयोध्या मसले पर सुनवाई के लिए बेंच का गठन जनता जनार्दन संवाददाता ,  Jan 08, 2019
सुप्रीम कोर्ट में अयोध्या मामले की सुनवाई के लिए संविधान पीठ का गठन कर दिया गया है. इसमें चीफ जस्टिस समेत 5 जज शामिल किए गए हैं. मामले की सुनवाई शीर्ष कोर्ट में 10 जनवरी को सुबह 10.30 बजे से शुरू होगी. शीर्ष कोर्ट ने 3 जनवरी को अयोध्या में विवादित जमीन के मालिकाना हक से ....  समाचार पढ़ें
अखिलेश यादव से सीबीआई पूछताछ के मुद्दे पर राज्यसभा में जोरदार हंगामा जनता जनार्दन संवाददाता ,  Jan 07, 2019
संसद के शीतकालीन सत्र का आज 16वां दिन हैं और आज भी राफेल के मुद्दे पर हंगामा होने के आसार है. शीतकालीन सत्र की सिर्फ एक और बैठक बची है. लोकसभा में आज कांग्रेस सांसद मल्लिकार्जुन खड़गे ने राफेल डील की जेपीसी जांच के लिए नियम 193 के तहत चर्चा का नोटिस दिया है. इसके अलावा कांग्रेस सांसद की ओर से रक्षा मंत्री के खिलाफ विशेषाधिकार हनन प्रस्ताव का नोटस भी दिया गया है. ....  समाचार पढ़ें
रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण और राहुल गांधी आमने-सामने जनता जनार्दन संवाददाता ,  Jan 06, 2019
हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (एचएएल) को एक लाख करोड़ रुपए का सरकारी ऑर्डर देने के मामले में रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी आमने सामने हैं. सरकार के बयान के अनुसार एचएएल को एक लाख करोड़ रुपए का ऑर्डर दिया गया. इस पर राहुल गांधी ने रक्षामंत्री पर झूठ बोलने का आरोप जड़ दिया है. राहुल गांधी का कहना है ....  समाचार पढ़ें
बी चंद्रकला समेत कई अधिकारियों के यहां CBI की रेड, अखिलेश से हो सकती है पूछताछ जनता जनार्दन संवाददाता ,  Jan 05, 2019
उत्तर प्रदेश के अवैध रेत खनन मामले में सीबीआई (CBI) की ताबड़तोड़ छापेमारी जारी है. शनिवार को मामले में सीबीआई ने उत्तर प्रदेश और दिल्ली के 14 ठिकानों पर छापेमारी की और तलाशी अभियान चलाया. जांच एजेंसी ने उत्तर प्रदेश के हमीरपुर, नोएडा, लखनऊ और कानपुर समेत अन्य इलाकों में छापेमारी की. यह अवैध खनन का मामला उस समय का है, जब समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के पास खनन मंत्री की जिम्मेदारी थी.सीबीआई सूत्रों का ....  समाचार पढ़ें
2019 लोकसभा चुनाव से भारतीय लोकतंत्र एवं राजनीति का रोडमैप होगा निर्धारित प्रोफेसर शशिकान्त पाण्डेय, डॉ अमित सिंह ,  Jan 13, 2019
भाजपा बनाम कांग्रेस और मोदी बनाम राहुल गांधी के चर्चित और लोकप्रिय विमर्श के बजाय भारतीय राजनीतिक परिदृश्य में किसानों की ऋणमाफी के मुद्दों के माध्यम से किसानों और किसानी मुद्दा भारतीय राजनीति के चुनावी-विमर्श में छा जाना वर्ष 2018 की सबसे सुखद राजनीतिक मोड़ है और उपलब्धि भी ....  लेख पढ़ें
महिला आरक्षण: भारत की राजनीति में  अमित मौर्या ,  Oct 20, 2018
महिलाओं को राजनीति में आरक्षण चाहिए .-- क्यों ? कैसा ? आखिर यह करना क्या चाहती हैं ? देश के लिए कुछ करने के लिए आरक्षण की जरूरत नहीं जहाँ जिसे आरक्षण चाहिए उसे राष्ट्र भक्षण के लिए आरक्षण चाहिए राष्ट्र संरक्षण के लिए आरक्षण कोई नहीं माँगता .जो राजनीति में सफल है बस वो फाइलों पर हस्ताक्षर के लिए है चाहे प्रधान ,ब्लाक प्रमुख ,जिला पंचायत अध्यक्ष ,विधायक ,सांसद या मंत्री सब कार्य इन सबके पतिदेव ही करते है कितनी महिलायें हैं जो देश राजनीति के कारण आज राजनीतिक पटल पर पर ....  लेख पढ़ें
संसद का मानसून सत्रः कामकाज के लिहाज से 18 सालों में सबसे अच्छा, लोकसभा में 118 प्रतिशत काम हुआ जनता जनार्दन संवाददाता ,  Aug 11, 2018
संसद का मौजूदा मॉनसून सत्र कामकाज के लिहाज से पिछले 18 सालों में सबसे अच्छा रहा. इस दौरान 12 विधेयक पारित किए गए. संसदीय कार्य मंत्रालय के अनुसार 18 जुलाई से 10 अगस्त के बीच लोकसभा में 118 प्रतिशत काम हुआ. प्रश्नकाल में 84 प्रतिशत काम हुआ. वहीं, राज्यसभा में भी नियत समय के मुताबिक 68 प्रतिशत काम हुआ. ....  लेख पढ़ें
आखिर हम नेता किसे कहें ? अमित मौर्य ,  Jul 31, 2018
नेता" किसे कहा जाए ? आखिर "नेता" की परिभाषा क्या है ? नेता शब्द संस्कृति से आया है "नेता" वह जो नयन व्यापार करे यानी किसी चिन्हित लक्ष्य तक ले जाने का काम करे . Some time "actual meaning" of a word is different than the "notional meaning" . "Leader" is also one of the same . यहाँ "संगठन" और "गिरोह" के अंतर को भी समझना जरूरी है . संगठन सिद्धांतनिष्ठ होता है और गिरोह व्यक्तिनिष्ठ . नेता या Leader वह व्यक्ति होता है जो उस संदर्भगत तात्कालिक समाज को ऊष्मा का सुचालक बना कर अपने द्वारा लागू सांगठनिक अनुशाशन का अनुपालन करने को प्रेरित कर पालन भी करवाए . नेता वह व्यक्ति इकाई है जिस पर किसी चिन्हित उद्देश्य या विश्वास को लेकर अन्य बिखरी हुयी व्यक्ति इकाईयां आलाम्बित और घनीभूत (polarize ) होती हैं . नेता संगठन और संगठन के विघटन का कारक तत्व होता है पर गिरोह का नहीं . गिरोह में नेता नहीं होता सरगना होता है . आज कल प्रायः सभी राजनीतिक दल "संगठन ....  लेख पढ़ें
अविश्वास प्रस्ताव पर बहसः सियासत के सांपों की सभा में सिर्फ़ जीभों की लपालप त्रिभुवन ,  Jul 21, 2018
आपके पास चार साल पहले वोट थे 336 और अब रह गए हैं 325 वोट। और अविश्वास भी आपके ही सहयोगी लेकर आये। क्या आप सिर्फ़ नेहरू-गांधी परिवार को कोस-कोस कर ही अपना शासन चलाएंगे? इस देश को एक जिम्मेदार भाजपा, एक जिम्मेदार कांग्रेस, एक जिम्मेदार वामपंथी दल चाहिए, जो कम से कम अपने आप शासित होता हो और किसी बाहरी या संविधानेतर संगठन से संचालित, प्रशासित और शासित नहीं होता हो। ....  लेख पढ़ें
अविश्वास प्रस्ताव: अब मोदी सरकार के खिलाफ, पर क्या है इतिहास, कब गिरी सरकारें, बहस, मतदान और संख्याबल जनता जनार्दन डेस्क ,  Jul 19, 2018
भारतीय संसद में पहली बार अविश्वास प्रस्ताव 1963 में तत्कालीन प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू के खिलाफ आया था. प्रजा सोशलिस्ट पार्टी के तत्कालीन सांसद जेबी कृपलानी द्वारा नेहरू सरकार के खिलाफ लाए गए अविश्वास प्रस्ताव के पक्ष में 62 वोट और विरोध में 347 वोट पड़े. इस तरह से ये अविश्वास प्रस्ताव औंधे मुंह गिर गया. ....  लेख पढ़ें
भोपाल में नेताओं के स्वागत में लटकी जूतों की माला जनता जनार्दन डेस्क ,  Jul 12, 2018
आमतौर पर नेताओं के स्वागत में वंदनवार, स्वागत-द्वार और फूल-मालाओं के गजरों का सहारा लिया जाता है, मगर मध्य प्रदेश की राजधानी की एक बस्ती के लोगों ने सड़कों पर जूते-चप्पल की माला लटका रखी है। वे अपनी सड़क संबंधी समस्या का निदान न होने से नेताओं से बेहद खफा हैं और उनका निराले अंदाज में स्वागत कर रहे हैं। ....  लेख पढ़ें
राहुल गांधी की अगुआई में यह टिकी रहने वाली कांग्रेस है जनता जनार्दन संवाददाता ,  Jun 10, 2018
कांग्रेस के राष्ट्रीय सम्मलेन में राहुल गांधी की विरोधी चाहे जिस भी रूप में जितनी भी आलोचना करें, सियासत के मैदान में उनका धैर्यपूर्वक टिका होना और हर मोरचे पर भाजपा को घेरने के साथ ही अपने कार्यकर्ताओं को एकजुट रखना, कांग्रेस को मजबूती दिला रहा है. ....  लेख पढ़ें
कर्नाटक में कांग्रेस की वह तरकीब और लोग, जिससे बहुमत में पिछड़ने के बाद भी उसने आखिरी बाजी जीती जनता जनार्दन संवाददाता ,  May 19, 2018
मणिपुर और गोवा में सबसे बड़े दल होने और कुछ विधायकों की कमी केर बावजूद सत्ता से महज इसलिए मरहूम रही कांग्रेस क्योंकि भाजपा मनोनित राज्यपाल ने वहां आननफानन में बने बहुमत वाले गठबंधन को बुला सत्ता सौंप दी थी. कांग्रेस यह गलती नहीं दोहराना चहती थी, इसलिए जैसे ही वह विधानसभा चुनाव में भाजपा से पिछड़ी उसने जनतादल सेकुलर को समर्थन दे साथ देने का फैसला किया जिसका उसे लाभ भी मिला. ....  लेख पढ़ें
क्या कांग्रेस मुग़ल साम्राज्य का अंतिम अध्याय और राहुल गांधी बहादुर शाह ज़फ़र के ताज़ा संस्करण हैं? त्रिभुवन ,  May 16, 2018
कांग्रेस के पास न तो कूटनीति दिखाई देती है और न शूटनीति और हूटनीति। इस सबमें भाजपा नेता और उनका विशालकाय कैडर बहुत ही माहिर है। कांग्रेस के पास न तो वैचारिक तपिश दिखाई देती है और न ही आंदोलन की आग है। भाजपा नेता अपनी सीटों और सरकारों के लिए जैसा दमख़म लगाते हैं, वैसा तो कांग्रेस के लोग सोच भी नहीं पाते। ....  लेख पढ़ें
Indian Political System
INDIA is a Union of States. It is a Sovereign Socialist Democratic Republic with a parliamentary system of government. The Republic is governed in terms of the Constitution of India which was adopted by the Constituent Assembly on 26th November 1949 and came into force on 26th January 1950. It is a representative democracy, "in which majority rule is tempered by minority rights protected by law."<...आगे पढ़ें
वोट दें

क्या 2019 लोकसभा चुनाव में NDA पूर्ण बहुमत से सत्ता में आ सकती है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल