Wednesday, 14 April 2021  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 

प्रॉमिस डे पर इंडियन केयर सोशल फाउंडेशन द्वारा बच्चों को घर की मर्यादा मान सम्मान बनाए रखने की प्रॉमिस कराया गया

जनता जनार्दन संवाददाता , Feb 12, 2021, 13:45 pm IST
Keywords: Promise Day   Rose Day   Chocolate Day   Indian Care Social Foundation   Social Media   Indian   Child Care   वैलेंटाइन डे   रोज डे   चॉकलेट डे   वैलेंटाइन   समाज   घर समाज  
फ़ॉन्ट साइज :
प्रॉमिस डे पर इंडियन केयर सोशल फाउंडेशन द्वारा बच्चों को घर की मर्यादा मान सम्मान बनाए रखने की प्रॉमिस कराया गया
बच्चों से प्रॉमिस डे के बारे में पूछा गया, बच्चों ने तरह-तरह के अपने प्रॉमिस बताएं पापा चॉकलेट लाने की प्रॉमिस करते हैं ,पापा साइकल दिलाने की प्रॉमिस करते हैंl पर आज की युग को देखते हुए बच्चों को सारे डे मालूम है बच्चों को संस्था द्वारा बताया गया वह प्रॉमिस अपने कैरियर बनाने के लिए करें ना की फिजूल कामों के लिए lअपने माता-पिता से प्रॉमिस करें अपने संस्कारों को मर्यादाओं को निभाएंगे lलड़कों से भी प्रॉमिस कराया गया वह दूसरे की बहनों को अपनी बहनों की तरह ही आदर सम्मान देंगेl जरूरत पड़ने पर उनकी मदद करेंगे l लड़कियां अपने माता-पिता का मान सम्मान बढ़ाएंगी वह आज के जो डे चल रहे हैं उनमें नहीं आएंगी l अपने संस्कारों को बनाए रखेंगी और अपने साथ हो रहे अत्याचार के खिलाफ आवाज उठाएंगी अपने संस्कारों को कायम रखेंगी.
 
छोटे बच्चे जब बड़े हो रहे होते हैं उनको अच्छे बुरे की खबर नहीं होती वह तो हवा में उड़ रहे होते हैं और जो मार्केट में चल रहा होता है उस पर ज्यादा प्रभावित होते हैं और यही वजह है और मासूमों के ऊपर दुष्प्रभाव पड़ने की क्योंकि वह बच्चे अच्छे बुरे को नहीं पहचानते उनको नई नई चीजें ज्यादा प्रभावित करती है उन्हीं बच्चों के साथ ज्यादा घटनाएं होती है माता पिता अभिभावक को चाहिए बच्चों को आगाह करें और अपने संस्कारों में बांध कर रखें और सही गलत की पहचान कराएं नन्हे फूल वह क्या जाने कौन उनका अपना है कौन उनका दुश्मन गार्जियन अभिभावक को बच्चों को इनकी पहचान करानी चाहिए ताकि बच्चे इन चीजों से बच सके और घर के मान मर्यादाओं का पालन कर सकें और खुद का मान सम्मान बचा सके.
 
वैलेंटाइन डे रोज डे चॉकलेट डे यह सब डे मासूम के साथ खिलवाड़ है और बच्चों को आगाह करना एक गार्जियन की जिम्मेदारी है संस्था में सिर्फ आत्मनिर्भर की ट्रेनिंग ही नहीं दी जाती यहां बच्चों को अच्छी से अच्छी शिक्षा कोचिंग क्लासेस और मान सम्मान मर्यादाओं का पालन करना भी सिखाया जाता है जहां बच्चे आदर्श सीखते हैं.
अन्य शिक्षा लेख
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack