Thursday, 19 September 2019  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 

माँ खंडवारी पीजी कालेज चहनियां में राजश्री टंडन यूनिवर्सिटी की मदद से आप भी पा सकते रोजगारपरक शिक्षा

माँ खंडवारी पीजी कालेज चहनियां में राजश्री टंडन यूनिवर्सिटी की मदद से आप भी पा सकते रोजगारपरक शिक्षा चन्दौली: माँ खंडवारी डिग्री कॉलेज उत्कृष्ठ शिक्षण संस्थान तो है ही इसका जिक्र वहां के पढ़ने वाले लड़को द्वारा आप अक्सर सुनते आ रहे होंगे,कारण जनपद के पुराने और लगभग हर कोर्स की पढ़ाई एक जगह एक ही कालेज में अलग अलग कैंपस फ़ैकल्टी द्वारा निर्धारित होती रहती हैं.

खंडवारी देवी पीजी कॉलेज को राजश्री टंडन से भी मान्यता लगभग 2 वर्ष पहले से मिल चुका है राजश्री टंडन एक ओपन यूनिवर्सिटी है उत्तरप्रदेश का अपना राज्य विश्वविद्यालय है जैसे इग्नू है दिल्ली से जुड़ा ठीक वैसे यहाँ भी डिस्टेंस लर्निंग आप नौकरी करते हुए जब चाहे तब आप एक अच्छी डिग्री ले सकते हैं.

फिलहाल राजश्री टण्डन 100 से अधिक कोर्स डिप्लोमा/ डिग्री/ रेगुलर कोर्स,बीएड एमए चला रहा हैं इसमे सबसे ज्यादा पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन योगा, मास्टर डिग्री की योगा कोर्स, और पत्रकारिता मास कम्युनिकेशन की पढ़ाई के सबसे ज्यादा विद्यार्थी माँ खंडवारी पीजी कालेज में एडमिशन लेने आ रहे हैं.इसके अलावा बीए,एमए के लिए लोग पहुच रहे हैं.और माँ खंडवारी पीजी कालेज के रिजल्ट 95% प्रति वर्ष बन रहे है जो किसी भी कालेज के लिए अच्छा माना जाता हैं.
 
राजश्री टंडन यूनिवर्सिटी प्रयागराज से तो मान्यता खंडवारी पीजी कॉलेज को मिला ही हैं इसके साथ साथ आप यहां रेगुलर पढ़ाई भी कर सकते है यानी क्लास प्रतिदिन करके बाकायदा जिसकी मान्यता महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ वाराणसी विश्वविद्यालय से मिली हुई है.यहां आपको मिलेगा एलएलबी सहीत यूपीटीयू से मिली मान्यता त्रिदंडी देव हनुमत कॉलेज जो इसी संस्थान की अपनी कालेज हैं, जहां पॉलिटेक्निक डिप्लोमा भी आप कर सकते हैं और आसानी से नौकरी पा सकते हैं.
 
कॉलेज या कोर्स से संबंधित आप किसी जानकारी के लिए संस्थान के मोबाइल नंबर पर संपर्क कर सकते हैं.या आप 10 बजे से लेकर 2 बजे तक चहनियां पीजी कॉलेज या खंडवारी देवी इंटर कॉलेज के आफिस में संबंधित प्रिंसिपल या डायरेक्टर से सीधे मिल सकते हैं.
 
संस्थान ने सब पढ़े-सब बढ़े के तर्ज पर विशेष छूट भी खासकर उन विद्यार्थियों के लिए रखा हैं जो आर्थिक रूप से बेहद कमजोर हैं और दिव्यांग की श्रेणी में आते हैं. इसके अलावा संस्थान में मुफ्त लायब्रेरी की व्यवस्था भी मुहैया हैं.ट्रांसपोर्ट बस की सुविधा भी इस कॉलेज के पास अपना हैं.
 
मो. 8960373747, 9452570761
     9450242458, 9450715075
अन्य शिक्षा लेख
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack