Sunday, 20 September 2020  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 

फीफा विश्व कप 2018: स्विट्जरलैंड बनाम कोस्टा रिका; 2-2 के साथ ड्रॉ खेलकर स्विट्जरलैंड अंतिम-16 में

फीफा विश्व कप 2018: स्विट्जरलैंड बनाम कोस्टा रिका; 2-2 के साथ ड्रॉ खेलकर स्विट्जरलैंड अंतिम-16 में नोवोगोराडः फीफा विश्व कप 2018 में बुधवार को स्विट्जरलैंड और कोस्टा रिका के बीच खेला गया मुकाबला 2-2 की बराबरी पर खत्म हुआ। ग्रुप ई के तहत नोवोगोराड स्टेडियम में खेले गए इस मुकाबले में स्विट्जरलैंड ने ड्रॉ के साथ ही अंतिम-16 में अपनी जगह बना ली है, जहां उसका मुकाबला 3 जुलाई को स्वीडन से होगा।

इस मुकाबले में स्विट्जरलैंड की तरफ से पहला गोल बेलरिम जेमाली ने 31वें मिनट में, जबकि दूसरा गोल जोसेफ डरमिक ने 88वें मिनट में किया। वहीं, कोस्टा रिका की तरफ से पहला गोल केंडल वाटसन ने 56वें मिनट में किया। 90+3 मिनट में स्विट्जरलैंड के गोलकीपर यान सोमेर के आत्मघाती गोल से दोनों टीमों के बीच का मैच 2-2 से ड्रॉ रहा।

गौरतलब है कि स्विट्जरलैंड ग्रुप-ई से अंतिम-16 में जाने वाली दूसरी टीम बन गई है। ब्राजील इस ग्रुप में सात अंकों के साथ अगले दौर में प्रवेश किया तो, वहीं स्विट्जरलैंड ने पांच अंकों के साथ दूसरे स्थान पर रहकर प्री-क्वार्टर फाइनल में प्रवेश किया। वहीं, तीसरे नंबर पर सर्बिया 3 अंकों के साथ मौजूद हैं, जबकि कोस्ट रिका 1 अंकों के साथ सबसे निचली पायदान पर है। मैच के शुरुआती में कोस्टा रिका ने लगातार मौके बनाए,लेकिन इस मैच का पहला गोल स्विट्जरलैंड की तरफ से बेलरिम जेमाली (31')  ने किया। इस गोल के साथ ही स्विट्जरलैंड की टीम कोस्टा रिका पर 1-0 की बढ़त बना ली। 1-0 की बढ़त के बावजूद भी कोस्टा रिका गोल करने की सतत प्रयास करती रही। मगर पहले हाफ का खेल खत्म हो गया। इस तरह हाफ टाइम तक स्विट्जरलैंड 1-0 से आगे रही।

दूसरे हाफ का खेल शुरू होते ही कोस्टा रिका की टीम ने खेल दिखाना शुरू किया और 56वें मिनट में केंडल वाटसन ने शानदार गोल दागकर स्कोर को 1-1 से बराबरी कर दिया। दरअसल, जोएल कैम्पवेल ने कॉनर्र किक पर गेंद बॉक्स में डाली जिसे वाटसन ने हेडर के जरिए नेट में डाल दिया। कोस्टा रिका का इस विश्व कप में यह पहला गोल है। इससे पहले दोनों मैचों में वह गोल नहीं कर पाई थी। 1-1 की बराबरी के बाद दोनों ही टीमें आगे बढ़त बनाने के फिराक में थे।

हालांकि, स्विट्जरलैंड को यह बता था कि एक ड्रॉ भी उसे अगले राउंड में पहुंचा सकता है और इसिलए वह कुछ देर कत रक्षात्मक तरीके से खेलना शुरू कर दिया। वह समय को निकालना चाह रही थी। इसी बीच 88वें मिनट में डरमिक को गोल करने का मौका मिला, जिसका फायदा उठाते हुए उसने शानदार गोलकर अपनी टीम को 2-1 से बढ़त दिला दी। यहां से ऐसा लगा रहा था कि यह मुकाबला स्विट्जरलैंड जीत जाएगी लेकिन 90+3 मिनट में उसके गोलकीपर यान सोमेर के आत्मघाती गोल से मुकाबला 2-2 की बराबरी पर खत्म हुआ।
अन्य खेल- खिलाड़ी लेख
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack