इंटरनेट से जानकारी तो ठीक पर खरीददारी से तौबा

जनता जनार्दन संवाददाता , Jul 06, 2011, 16:11 pm IST
Keywords: Indian   भारतीय   Consumers   ग्राहक   lest interested   भरोसा नहीं   Online   ऑनलाइन   Shopping   खरीददारी   
फ़ॉन्ट साइज :
इंटरनेट से जानकारी तो ठीक पर खरीददारी से तौबा नई दिल्ली: हम भारतीय हर चीज में अजूबे हैं. दुनिया भर में जहाँ ऑनलाइन शोपिंग का चलन बढ़ा  है, वहीं भारतीय ग्राहक जानकारी के लिए तो इंटरनेट का इस्तेमाल करते हैं, पर इससे खरीदारी करने में हिचकते हैं. ऐसा लगता है कि भारतीय ग्राहकों को खरीददारी के लिए इंटरनेट माध्यम पर अधिक भरोसा नहीं है।

इंटरनेट एंड मोबाइल एसोसिएशन ऑफ इंडिया (आईएएमएआई) की एक रिपोर्ट के मुताबिक भारतीय ग्राहक इंटरनेट से अधिकतर टिकटों और होटलों की ही बुकिंग करते हैं। बाकी खरीददारी के लिए वे ऑनलाइन शॉपिंग पर भरोसा नहीं करते हैं। वे सिर्फ सामानों या सेवाओं के लिए इंटरनेट से सूचना लेना ही पसंद करते हैं।

रिपोर्ट के मुताबिक देश में कुल खरीददारी में इंटरनेट माध्यम से की जाने वाली खरीददारी यानी ई-टेलिंग का योगदान सिर्फ आठ फीसदी ही है। इसके लिए भारत में आन लाइन मार्केटिंग एंड सेल्स की दिशा में काम कर रही कंपनियों का अव्यावसायिक बरताव भी जिम्मेदार है.

मीनाक्षी राणा ने एक प्रतिष्ठित ऑनलाइन रिटेलिंग कम्पनी को एक गाउन के लिए ऑर्डर दिया था। जब उन्हें गाउन मिला, तो वह उनकी आशा के अनुरूप नहीं था। वह कहती हैं, "अंतर्राष्ट्रीय ब्रांड आधी कीमत पर मिलने के लालच में कभी भी इन ऑनलाइन वेबसाइट के जाल में नहीं फंसना चाहिए। वे घटिया सामान रखते हैं। उनके सामान में छिद्र हो सकती है और जिस सामान का आपने ऑर्डर दिया है, उसकी जगह आपको कोई और सामान भी मिल सकता है।"

डिजाइनर शांतनु मेहरा सलाह देते हैं कि ऑनलाइन माध्यम से सामान का ऑर्डर देने से पहले सामान की पूरी जानकारी जुटा लेनी चाहिए और हर शंका का समाधान कर लेना चाहिए।

हर वेबसाइट की अपनी शर्ते होती हैं। किसी भी सामान का ऑर्डर देने से पहले उन शर्तो से अवगत हो जाना चाहिए।

अन्य डिजाइनर मनीष अरोरा की सलाह है कि चूंकि आप ऑनलाइन सामान खरीदते वक्त उसे आजमा नहीं सकते, इसलिए पूरी तरह विश्वसनीय होने पर ही सामान का ऑर्डर दें।

आईएएमएआई के सहायक उपाध्यक्ष मेहुल गुप्ता हालांकि भारत में ऑनलाइन खरीददारी को लेकर आशावान हैं। उनका मानना है कि पिछले कुछ सालों में देश में ऑनलाइन खरीददारी में तेजी से वृद्धि दर्ज की गई है। देश में इंटरनेट से खरीददारी का बाजार दिसम्बर 2011 तक बढ़कर 46,520 करोड़ का हो जाने का अनुमान लगाया जा रहा है, जो 2007 में सिर्फ 8,146 करोड़ रुपये का था।

फैशनएंडयू डॉट कॉम, एक्सक्लूसिवली डॉट इन, मिंत्रा डॉट कॉम और 99लेबल्स डॉट कॉम इंटरनेट माध्यम से खरीददारी के लिए कुछ प्रमुख वेबसाइट हैं। 
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack