Thursday, 12 December 2019  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 
चर्चा में
कश्मीरियों के ही विरुद्ध है धारा 370 बी.पी. गौतम ,  May 28, 2014
भारतीय जनता पार्टी के नेतृत्व में एनडीए की सरकार के अस्तित्व में आते ही कश्मीर और अनुच्छेद 370 पर बहस शुरू हो गई है। इस मुददे पर जैसी प्रतिक्रिया की आशा की जाती रही है, दोनों ही पक्षों से वैसी ही प्रतिक्रियायें आनी शुरू हो गई हैं, लेकिन प्रतिक्रियायें राष्ट्रवादी और अलगाववादी के रूप में देखी जा रही हैं। सामान्यतः अधिकाँश लोगों को कश्मीर के इतिहास और उसके भारत के साथ बने संबंध को लेकर बहुत अधिक जानकारी नहीं है। ....  लेख पढ़ें
फैसले पर उठते सवाल अनंत विजय ,  Feb 26, 2014
हिंदू धर्म पर कई किताब लिखनेवाली मशहूर लेखिका वेंडी डोनिगर की किताब- द हिंदूज, एन अल्टरनेटिव हिस्ट्री को पेंग्विन बुक्स ने भारतीय बाजार से वापस लेने और छपी हुई अनबिकी प्रतियों को नष्ट करने का फैसला लिया । प्रकाशक के इस फैसले के बाद लेखकों के एक बड़े समुदाय में इस बात को लेकर खासी निराशा और क्षोभ है । पेंग्विन के कोर्ट के बाहर किए गए इस समझौते पर लेखकों ने विरोध जताना शुरू कर दिया है । ....  लेख पढ़ें
छद्मनामी लेखन का तिलिस्म अंनत विजय ,  Jul 28, 2013
अंग्रेजी साहित्य में इन दिनों एक दिलचस्प वाकए पर जमकर चर्चा हो रही है, चुटकी ली जा रही है, क्षोभ प्रकट किया जा रहा है, आश्चर्य जताया जा रहा है । वाकया जुड़ा है एक खुलासे से । खुलासा भी जुड़ा है अंग्रेजी की बेहद लोकप्रिय लेखिकाओं में से एक से । उसका नाम है जे के रॉलिंग । जे के रॉलिंग ब्रिटिश उपन्यासकार हैं और उनके हैरी पॉटर सीरीज ने दुनिया भर में धूम मचाई हुई है । हैरी पॉटर सीरीज के नए उपन्यास के उपन्यास का पाठक बेसब्री से इंतजार करते हैं और उसकी महीनों पहले से एडवांस बुकिंग भी होती है । ....  लेख पढ़ें
एक समझदार की नासमझी, और दलित विमर्श आशुतोष ,  Feb 04, 2013
मुझे आपत्ति है। समाजशास्त्री आशीष आशीष नंदी के बयान पर जयपुर फेस्टिवल में मैंने आपत्ति की थी। काफी हंगामा मचा। अंग्रेजी बुद्धिजीवी वर्ग ने काफी नाक-भौं सिकोड़ी, मुझे खलनायक बनाने की कोशिश की गई। कहा गया कि मैंने आशीष नंदी को 'मिसकोट' किया। ....  लेख पढ़ें
'स्कूलों में लैंगिक शिष्टाचार सिखाना जरुरी' जनता जनार्दन डेस्क ,  Dec 23, 2012
दिल्ली में सामूहिक दुष्कर्म का शिकार हुई पीड़ित लड़की अस्पताल में अभी भी जिंदगी की जंग लड़ रही है और इस बीच स्तम्भकार, उपन्यासकार और डाक्यूमेंट्री फिल्म के लिए अवार्ड जीत चुकी माधुरी बनर्जी ऐसी घटनाओं के लिए समाज में लड़के और लड़कियों के बीच किए जाने वाले अंतर को जिम्मेदार मान रही हैं। ....  लेख पढ़ें
क्या रूस में हुई थी नेताजी की मौत? जनता जनार्दन डेस्क ,  Nov 18, 2012
ब्रिटेन द्वारा नेताजी सुभाष चंद्र बोस के निधन की जांच कराए जाने से यह तथ्य सामने आया था कि वह रूस में पनाह लेने की कोशिश कर रहे थे। यह खुलासा एक नई किताब से सामने आया है। पत्रकार अनुज धर ने अपनी किताब में नेताजी के निधन के सम्बंध में चौंका देने वाला खुलासा किया है। ....  लेख पढ़ें
बदन बना विज्ञापन का मंच ! जनता जनार्दन डेस्क ,  Aug 28, 2012
डोमिनिक मूल की मार्गरिटा डोमींगेज़ ने अपने बदन को विज्ञापन का मंच बनाकर विज्ञापन की दुनिया में एक अनूठा प्रयोग किया है। उनकी कंपनी ऐसे नायाब विज्ञापन के लिए चर्चा में है। उनके इस प्रयोग में बॉडी पेंटिंग कलाकार फर्नेलो की अहम भूमिका है, जो मार्गरिटा एवं उनकी कंपनी के कर्मचारियों के बदन को आकर्षक विज्ञापनों में तब्दील करते हैं। बचपन में अपने माता-पिता के साथ न्यूयार्क आकर बसने वाली मार्गरिटा कहती हैं ....  लेख पढ़ें
47 बरस से एक ही परिवार बांध रहा है तिरंगा जनता जनार्दन संवाददाता ,  Jan 25, 2012
बिहार में राजधानी पटना के गांधी मैदान में गणतंत्र दिवस और स्वतंत्रता दिवस पर होने वाले ध्वजारोहण में एक परिवार का खास योगदान है। यह परिवार पिछले 47 साल से ध्वजारोहण के लिए तिरंगा बांधता आ रहा है। ....  लेख पढ़ें
लिव इन रिलेशन एक सनक, जो शहरों में दिखती है जनता जनार्दन संवाददाता ,  Jan 18, 2012
एक छत के नीचे दो बालिग रजामंदी से रहें तो कानून उसे नाजायज कैसे ठहरा सकता है। सुप्रीम कोर्ट ने भी दो वयस्कों के इस रिश्ते को जायज माना। लेकिन मंगलवार को दिल्ली की एक अदालत ने कहा कि कानूनी मान्यता मिलने के बावजूद अनैतिक है। अदालत के मुताबिक लिव इन रिलेशन एक सनक है जो सिर्फ शहरी इलाकों में ही देखा जाता है। अदालत ने लिव-इन को एक अलोकप्रिय पश्चिमी सांस्कृतिक उत्पाद करार दिया। ....  लेख पढ़ें
विदेशों में भी प्रसिद्ध है गया का तिलकुट जनता जनार्दन संवाददाता ,  Jan 13, 2012
मकर संक्रांति करीब आते ही धर्म नगरी के रूप में मशहूर गया की सड़कों पर तिल और गुड़ की सोंधी खुशबू और कई घरों से निकलने वाली तिलकुट कूटने की धम-धम की आवाज फिजां में रच-बस जाती है। ....  लेख पढ़ें
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
सप्ताह की सबसे चर्चित खबर / लेख
  • खबरें
  • लेख