Thursday, 17 October 2019  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 

भट्ठियों में गलाये जायेंगे हथियार

जनता जनार्दन संवाददाता , Oct 20, 2011, 13:34 pm IST
Keywords: Bihar   police station   malkhana   weapons   blacksmiths   furnaces   बिहार   पुलिस थाना   मालखाना   हथियार   लुहार   भट्ठियों     
फ़ॉन्ट साइज :
भट्ठियों में गलाये जायेंगे हथियार

पटना: बिहार में पुलिस थानों के मालखानों में रखे हथियार अब लुहारों की भट्ठियों में गलाए जाएंगे। कल तक जो हथियार किसी की जान लेने के काम आते थे उन्हें गलाकर जन उपयोगी सामान बना दिया जाएगा। बिहार पुलिस इस अनोखी पहल की शुरुआत कर चुकी है।

पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कल बताया कि अदालती प्रक्रियाओं को पूरा करते हुए दरभंगा में न केवल अपराधियों से जब्त हथियारों को नष्ट करने की प्रक्रिया प्रारम्भ कर दी गई है बल्कि भविष्य में अन्य स्थानों पर भी ऐसा करने की योजना बनाई गई है।

उन्होंने कहा कि वर्तमान समय में उन हथियारों को नष्ट करने की कार्रवाई की जा रही है जिनसे सम्बंधित मामलों की सुनवाई प्रक्रिया न्यायालय में पूरी हो चकी है।

राज्य के पुलिस महानिदेशक अभयानंद ने मीडिया को बताया कि हथियार किसी भी स्थिति में उचित नहीं है, वे नुकसानदेह ही होंगे। वह कहते हैं कि न्यायालय के आदेश के बाद हथियारों को लुहारों की भट्ठियों में गला कर कड़ाही, तवा सहित कई जन उपयोगी सामान बनाए जा रहे हैं।

उन्होंने बताया कि जल्द ही बिहार पुलिस अपराधियों से जब्त हथियारों का रिकार्ड भी नष्ट करने के लिए उच्च न्यायालय से इजाजत मांगेगी।

उन्होंने कहा कि थाने में रखे जाने वाले हथियारों के गलत उपयोग की भी आशंका बनी रहती है। वह बताते हैं कि अवैध हथियारों की बरामदगी के बाद मामले की सुनवाई के दौरान बतौर साक्ष्य इन हथियारों को न्यायालय में प्रस्तुत करना पड़ता है।

इसके बाद इन्हें थानों के मालखानों में रख दिया जाता है। इस कारण जब तक सुनवाई पूरी नहीं हो जाती तब तक उसे नष्ट नहीं किया जा सकता।

उन्होंने बताया कि दरभंगा में न्यायालय के आदेश के बाद मंगलवार को क्षेत्रीय पुलिस महानिरीक्षक की देखरेख में हथियारों को गलाने का कार्य किया गया। इसकी वीडियो रिकॉर्डिंग भी कराई गई जिसे साक्ष्य के रूप में न्यायालय को दिखाया जा सकेगा।

एक अन्य पुलिस अधिकारी के अनुसार वर्तमान समय में ऐसे हथियार नष्ट किए जा रहे हैं जिनसे सम्बंधित सुनवाई पूरी हो गई है परंतु जल्द ही न्यायालय से ऐसे हथियारों को भी नष्ट करने की इजाजत मांगी जाएगी जिनसे सम्बंधित मामलों की सुनवाई अभी न्यायालय में चल रही है।

वह कहते हैं कि इसके लिए जब्त हथियारों का रिकॉर्ड रखा जाएगा।

उल्लेखनीय है कि राज्य के करीब सभी थानों में बड़ी मात्रा में हथियार जमा हैं जिनमें कई हथियार उचित देखरेख के अभाव में बर्बाद हो चुके हैं या बेकार हो गए हैं।

वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack