दिल्ली: भीषण आग से फैक्ट्री में सो रहे 43 लोगों की मौत

जनता जनार्दन संवाददाता , Dec 08, 2019, 12:47 pm IST
Keywords: Delhi fire   43 killed in delhi   delhi aag hadsa   delhi   दिल्ली भीषण आग   
फ़ॉन्ट साइज :
दिल्ली: भीषण आग से फैक्ट्री में सो रहे 43 लोगों की मौत

दिल्ली: दिल्ली में रानी झांसी रोड पर अनाज मंडी स्थित एक फैक्ट्री में आज सुबह आग लगने से 43 लोगों की मौत हो गई और कई लोग झुलस गए हैं. गंभीर रूप से झुलसे लोगों को एलएनजेपी, लेडी हार्डिंग और सफदरजंग अस्पताल में भर्ती कराया गया है. पुलिस ने फैक्ट्री मालिक के भाई को हिरासत में ले लिया है. बताया जा रहा है कि आग शॉर्ट सर्किट की वजह से लगी.

जानिए इस मामले में अब तक क्या-क्या हुआ

पुलिस ने बताया कि एक आवासीय इलाके में चल रही फैक्ट्री में आग लगने के समय 59 लोग अंदर थे. आग लगने की जानकारी सुबह पांच बजकर 22 मिनट पर मिली जिसके बाद दमकल के 30 वाहन घटनास्थल पर पहुंचे.

इलाके की गलियां बहुत सकरी थी इसलिए ज्यादा गाड़ियां अंदर नहीं जा पा रही थी. इस वजह से ज्यादातर लोगों की मौत दम घुटने की वजह से हुई.


एक प्रत्यक्षदर्शी का कहना है फैक्ट्री में देर रात काम करने के बाद लोग सो रहे थे. कुछ देर बाद जब धुएं से उनका दम घुटने लगा तो उन्होंने खिड़की के पास जाकर मदद के लिए आवाज लगाई. आसपास के लोगों ने पुलिस और फायर सर्विस को इसकी जानकारी दी. उसने बताया कि यहां काम करने वाले मजदूर ज्यादातर दूर-दराज से आए हुए हैं.


जिस फैक्ट्री में आग लगी है, वो 600 गज में फैली है और वहां स्कूल बैग पैकेजिंग का काम होता है. पहले एक इमारत में आग लगी और देखते ही देखते आग ने अगल-बगल की दो और इमारतों को अपनी चपेट में ले लिया. ये फैक्ट्रियां बेहद भीड़भाड़ वाले और रिहायशी इलाके में चल रही थीं.

आग पर काबू पा लिया गया और रेस्क्यू ऑपरेशन भी पूरा हो गया.

एलएनजेपी के चिकित्सा अधीक्षक डॉक्टर किशोर सिंह ने बताया कि इस अस्पताल में 34 लोगों को मृत लाया गया था और लोगों के मरने की पीछे की मुख्य वजह धुएं की चपेट में आकर दम घुटना है. कुछ शव जले हुए थे.


व हादसे वाली जगह पहुंचे सीएम अरविंद केजरीवाल ने मजिस्ट्रेट जांच के आदेश दिए हैं. मरने वालों के परिजनों को 10 लाख का मुआवजा मिलेगा. दिल्ली सरकार झुलसे लोगों को एक लाख रुपये मुआवजा देगी.

 राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और वायनाड से सांसद राहुल गांधी समेत देश के कई बड़े नेताओं ने इस घटना पर गहरा दुख व्यक्त किया है.

दिल्ली पुलिस की डीसीपी नॉर्थ मोनिका भारद्वाज ने कहा है कि बिल्डिंग के मालिक रेहान के खिलाफ धारा 304 आईपीसी के तहत मामला दर्ज किया गया है, वो फिलहाल फरार है.


खबरों के मुताबिक ये पिछले दो-तीन दशक में दिल्ली में लगी सबसे भीषण आग है.

अन्य हादसा लेख
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack