मीना कांथ, गूगल डूडल ने महिला अधिकारों से जुड़ी लेखिका को किया सलाम

जनता जनार्दन संवाददाता , Mar 19, 2017, 16:34 pm IST
Keywords: Minna Canth   Google Doodle   Minna Canth birth anniversary   Feminist icon   Minna Canth work   Minna Canth life   मीना कांथ   जन्मदिन   गूगल डूडल   मीना कांथ का जन्मदिवस  
फ़ॉन्ट साइज :
मीना कांथ, गूगल डूडल ने महिला अधिकारों से जुड़ी लेखिका को किया सलाम नई दिल्लीः मीना कांथ का आज जन्मदिन है. गूगल डूडल आज फिनिश राइटर, जर्नलिस्ट और सोशल एक्टिविस्ट मीना कांथ का 173वां जन्मदिवस मना रहा है.

उलरिका विल्हेल्मिना कांथ का जन्म 19 मार्च 1844 को फिनलैंड के टाम्परे में हुआ था. कांथ का जन्मदिन फिनलैंड में ‘सामाजिक समानता दिवस’ के रूप में मनाया जाता है.

कांथ को महिला अधिकारों के लिए किए गए काम और लिखे गए नाटकों के लिए जाना जाता है. कांथ दुनिया की पहली महिला पत्रकारों में से एक थीं.

शुरुआत में कांथ ‘केस्की-सुओमी’ के लिए लिखने और संपादन का काम करती थीं. बाद में उन्होंने अपने साथी अगस्त मकेला के साथ मिलकर खुद का अखबार ‘वपैटा आटिटा’ शुरू कर दिया था.

कांथ का लेखन महिला अधिकारों, अभिव्यक्ति और इच्छाओं को पाने की वकालत करता है. इसलिए कांथ की लेखनी उन्हें उस दौर से अलग बनाती है. अपनी लेखनी के कारण ही कांथ अक्सर विवादों में रहती थीं. लेकिन फिर भी वो विचारों के साथ मजबूती से बनी रहीं.

ल्यूसिना हैगमैन ने मीना कांथ पर 1906 में पहली जीवनी लिखी. कांथ की कृतियों को स्कूलों के सिलेबस में पढ़ाया जाता है. कांथ द्वारा लिखे गए नाटकों में ‘द पेस्टर्स फैमिली’ सबसे ज्यादा मशहूर है.

इसके अलावा ‘द वर्कर्स वाइफ’ (1885) और ‘एना लीजा’ (1895) भी कांथ की चर्चित कृतियां हैं.
अन्य चर्चित लेखक लेख
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack