Thursday, 14 November 2019  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 

छात्र नवीन राय की सराहनीय पहल का जिलाधिकारी कुमार प्रशांत ने नौगढ़ में दिया साथ

अमिय पाण्डेय , Feb 13, 2017, 12:24 pm IST
Keywords: Chandauli   Naugarh   chandauli   photo with selfie   primary schools   चंदौली   नैगढ़   चंदौली उत्तरप्रदेश  
फ़ॉन्ट साइज :
छात्र नवीन राय की सराहनीय पहल का जिलाधिकारी कुमार प्रशांत ने नौगढ़ में दिया साथ

चंदौली: कौन कहता है कि आसमां में सुराख़ नहीं हो सकता,एक पत्थर तो तबियत से उछालों यारों। 
इस कहावत को चरितार्थ किया है दो युवाओं ने जिसमें एक चन्दौली जिले के जिलाधिकारी कुमार प्रशान्त तथा दूसरे एमएमएमयूटी गोरखपुर के  छात्र नवीन राय हैं.

नवीन इंजीनियरिंग की पढाई किएँ हुए है. नवीन ने दिमाग में एक ऐसा आईडिया आया जिसको लेकर चंदौली के लोग काफी उत्साहित हैं.

जनपद चंदौली के नक्सल प्रभावित क्षेत्र नौगढ़ तहसील मे शिक्षा की गुणवता को सुधारने के लिए जिलधिकरी कुमार प्रशांत ने मिशन मार्गदर्शन कार्यक्रम के तहत  'एटेंडेंश विथ सेल्फी' की शुरूआत की है.

इसको लागू करने के लिए जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी सन्तोष कुमार सिह बीते कुछ दिन पूर्व नौगढ़ बीआरसी पर सभी प्राइमरी और पूर्व मा.वि. के प्रधानाचार्यो के साथ बैठक कर इस कार्यक्रम को लागू करने का निर्देश दिया हैं.

इसके तहत सभी विद्यालयों को एक व्हाट्सएप ग्रुप से जोड़ दिया गया हैं और सभी विद्यालयों को रोजाना अपने विद्यालय में सभी अध्यापक और बच्चों के साथ एक फोटों खींच कर उस ग्रुप मे भेजना होता हैं।  इसका नाम  'एटेंडेंश विथ सेल्फी'  रखा गया है.

इस कार्यक्रम के समन्वयक नवीन राय हैं. सोमवार से इस ग्रुप में फोटो आने लगे हैं, जिससे कि यह सुनिश्चित हो पा रहा हैं कि सभी अध्यापक समय पर विद्यालय रोजना पहुंचें.

इस मिशन के संयोजक नवीन कृष्ण राय हैं. नवीन राय वर्ष 2015-16 में ही गोरखपुर के मदन मोहन मालवीय तकनीकी विश्वविद्यालय से इंजीनियरिंग की पढ़ाई के साथ ही कुछ अलग जज्बे के साथ समाज में कुछ अलग करने निकल पड़े. 

नवीन का भरपूर साथ मिला युवा आईएएस कुमार प्रशान्त का. कुमार प्रशान्त और नवीन की मुलाकात गोरखपुर में ही हुई थी, जब कुमार प्रशान्त बतौर मुख्य विकास अधिकारी पद पर कार्यरत थे.

कुमार प्रशान्त ने सदैव युवाओं को इस प्रकार के कार्यों में प्रेरित करते रहते हैं. नवीन गोरखपुर में पढ़ाई के दौरान ही गोरखपुर के तत्कालीन जिलाधिकारी रंजन कुमार और कुमार प्रशान्त की मार्गदर्शन में रुरल यूथ लीडरशिप का कार्यक्रम चलाया था, जिसमें 100 गरीब परिवार के बच्चों को निशुल्क अंग्रेजी और करियर काउन्सिलिंग कराया.

कार्यक्रम का समापन और प्रमाण पत्र वितरण कमिश्नर पी.गुरुप्रसाद ने किया था. तत्पश्चात नवीन ने गोरखपुर के बाद कुमार प्रशान्त जिलाधिकारी चन्दौली के मार्गदर्शन में नक्सली प्रभावित क्षेत्र चन्दौली के नौगढ़ तहसील में रोजगार मेले का आयोजन किया, जिसमें गरीब परिवारों के 35 बच्चों को नौकरी मिली.

नवीन ने जिले की शिक्षा व्यवस्था ठीक करने के लिए चन्दौली के बेसिक शिक्षा अधिकारी के साथ मिलकर विद्यालयों में विद्यालय प्रबंध समिति की निगरानी शुरू की और लोगों को जागरूक करना प्रारंभ किया.

इसके साथ उन्होंने अध्यापकों के उपस्थिति के लिए "व्हाट्सएप विथ सेल्फी" कार्यक्रम की शुरुआत की जिसे काफी सफलता मिल रही है।

सामाजिक निगरानी व्यवस्था के लिए प्रत्येक गांव में नौजवानों की कमेटी बनाई है, जो विद्यालय के पठन पाठन पर ध्यान देते हैं. इसका पूरा श्रेय जिलाधिकारी कुमार प्रशान्त को जाता है, जिन्होंने नवीन राय को हौसला दिया.

अन्य मिसाल लेख
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack