सरकार की कृपा से देश के 72 हजार करोड़ रुपए दबाए बैठे हैं अडाणी

जनता जनार्दन संवाददाता , May 06, 2016, 11:23 am IST
Keywords: Adani Group   Adani Group debt   Adani Group debt 72000 crore   Indian farmers   Indian farmers debt   Pavan Kumar Verma   Corporate loans   Rajya Sabha   अडाणी समूह   अडाणी समूह पर कर्ज  
फ़ॉन्ट साइज :
सरकार की कृपा से देश के 72 हजार करोड़ रुपए दबाए बैठे हैं अडाणी नई दिल्ली: जनता दल यूनाइटेड के सांसद पवन वर्मा ने गुरुवार को राज्य सभा में सरकारी बैंकों के कॉरपोरेट घरानों पर बकाए कर्ज का मुद्दा उठाया। उन्होंने कहा कि अडाणी समूह पर 72 हजार करोड़ रुपये बकाया हैं.

उन्होंने कहा, मुझे नहीं पता इस व्यापारिक घराने से सरकार के क्या रिश्ते हैं? पवन वर्मा ने कहा कि मुझे यह भी नहीं पता कि सरकार इन्हें जानती है कि नहीं लेकिन इस ग्रुप के मालिक अडाणी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के चीन, ब्रिटेन, अमेरिका, यूरोप और जापान हर यात्रा में उनके साथ नजर आए.

पवन वर्मा ने शून्‍य काल में यह मुद्दा उठाया. उन्‍होंने उच्च सदन में बकाएदारों की पूरी रिपोर्ट पढ़ते हुए कहा कि अडाणी ग्रुप नाम के इस समूह पर लगभग 72 हजार करोड़ रुपये का कर्ज बकाया है.

उन्होंने कहा कि सरकारी बैंकों पर ऐसे लोगों को लोन देने के लिए दबाव डाला जाता है, जो कर्ज चुका पाने में सक्षम नहीं हैं, सरकारी बैंकों का लगभग 5 लाख करोड़ रुपये बकाया है. गुजरात में इनके सेज को हाईकोर्ट की बाध्‍यता के बावजूद मान्‍यता दी गई.’

राज्‍य सभा के उपसभापति पीजे कूरियन ने वर्मा को चेताया कि वे आरोप न लगाएं. इस पर वर्मा ने कहा,’ मैं आपको तथ्‍यात्‍मक जानकारी दे रहा हूं. यह हाईकोर्ट का आदेश है. यूपीए सरकार ने इसे मान्‍यता नहीं दी और जब यह सरकार सत्‍ता में आई तो इसे मान्‍यता मिल गई.’
अन्य उद्योग घरानें लेख
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack