Wednesday, 19 September 2018  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 
अपराध
  • खबरें
  • लेख
माल्या के खिलाफ सीबीआई का आरोप पत्र एक महीने के भीतर जनता जनार्दन संवाददाता ,  Sep 16, 2018
केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) विजय माल्या के खिलाफ एक माह के भीतर आरोपपत्र दाखिल कर सकती है। एजेंसी शराब कारोबारी विजय माल्या की कंपनी किंगफिशर एयरलाइन्स को दिये गए ऋण से जुड़े बैंक के वरिष्ठ अधिकारियों को भी मामले में आरोपी बना सकती है। ....  समाचार पढ़ें
भीमा कोरेगांव हिंसा केस: बड़े दावे करने वाली पुना पुलिस को चार्जशीट के लिए चाहिए और 90 दिन जनता जनार्दन संवाददाता ,  Sep 02, 2018
भीमा कोरेगांव हिंसा मामले में यलगार परिषद की भूमिका की जांच कर रही पुने पुलिस ने देश भर से वामपंथी विचारकों को गिरफ्तार कर अंतरिम ही सही सुप्रीम कोर्ट से मुंह की खाने के बाद अब आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल करने के लिए पुने सेशन कोर्ट से 90 दिन यानी 3 महीने का समय मांगा है, जो उन्हें अदालत से मिल गया है. ....  समाचार पढ़ें
जेल में बंद मुजफ्फरपुर बलात्कार कांड के मुखिया ब्रजेश ठाकुर के पास मिले 40 नंबर, बेटे को सीबीआई ने धरा जनता जनार्दन संवाददाता ,  Aug 12, 2018
15 अगस्त के मद्देनजर बिहार के सभी जेलों में एक साथ छापेमारी की गयी. छापेमारी के दौरान सभी वार्डों की सघन जांच की गयी. इस दौरान सबसे चौकाने वाली चीजें मुजफ्फरपुर जेल से मिलीं. मुजफ्फरपुर के खुदीराम बोस जेल में छापेमारी की गयी. जहां, मुजफ्फरपुर बालिका गृह दुष्कर्म कांड का मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर बंद है. यहां, जब जिला अधिकारी और एसएसपी छापा मारने पहुंचे तब बालिका गृह रेप कांड का मुख्‍य आरोपी ब्रजेश ठाकुर मुलाकातियों से मिलने वाले एरिया में दिखा. ....  समाचार पढ़ें
लेफ्ट, राइट, सेंटर हर जगह रेप हो रहे हैं, देश में ये चल क्या रहा है? नाराज उच्चतम न्यायालय की तल्ख टिप्पणी जनता जनार्दन संवाददाता ,  Aug 07, 2018
उच्चतम न्यायालय ने देश में बलात्कार की बढ़ती घटनाओं पर मंगलवार को गंभीर चिंता व्यक्त की और कहा कि जिधर देखो, उधर ही, महिलाओं का बलात्कार हो रहा है. कोर्ट ने बिहार सरकार को फटकार लगाते हुए कहा, 'लेफ्ट, राइट, सेंटर... हर जगह रेप हो रहे हैं. देश में ये चल क्या रहा है? ....  समाचार पढ़ें
मुजफ्फरपुर घटना से हम शर्मसार हैं: नीतीश कुमार ने यौन शोषण कांड पर तोड़ी चुप्पी जनता जनार्दन संवाददाता ,  Aug 03, 2018
बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मुजफ्फरपुर बालिका गृह में हुए यौन शोषण की घटना की घृणित और शर्मसार करने वाला बताया है. साथ ही उन्होंने कहा कि इस घटना से बहुत पीड़ा हो रही है. सीएम नीतीश ने कहा कि सिस्टम में कमी की वजह से ऐसा होता है. ....  समाचार पढ़ें
अलवर भीड़ हत्याकांडः पोस्टमार्टम से खुलासा, रबकर खान की सदमे से हुई मौत, टूटी थी हड्डियां जनता जनार्दन संवाददाता ,  Jul 24, 2018
राजस्थान के अलवर में मॉब लिचिंग के शिकार रकबर उर्फ अकबर खान की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आ गई है. पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में शरीर पर अंदरूनी चोट लगने और उसके बाद सदमे को मौत का कारण बताया गया है. बता दें कि पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में यह सामने आई है कि रकबर की पसलियां टूटी हुई थीं और फेफड़ों में पानी जमा हो गया था. ....  समाचार पढ़ें
यूपी की बागपत जेल में माफिया डॉन मुन्ना बजरंगी की गोली मारकर हत्या जनता जनार्दन संवाददाता ,  Jul 09, 2018
यूपी के कुख्यात माफिया डॉन प्रेम प्रकाश सिंह उर्फ मुन्ना बजरंगी की बागपत जेल में हत्या कर दी गई है. पूर्व बसपा विधायक लोकेश दीक्षित से रंगदारी मांगने के आरोप में बागपत कोर्ट में मुन्ना बजरंगी की पेशी होनी थी. उसको इसी रविवार झांसी से बागपत लाया गया था. इसी दौरान आज सुबह जेल में उसकी हत्या कर दी गई. ....  समाचार पढ़ें
दिल्ली सामूहिक मृत्यु कांडः पुलिस का अनुमान, हफ्ते भर चला 'धन्यवाद' कर्म, फिर भाटिया परिवार ने की खुदकुशी जनता जनार्दन संवाददाता ,  Jul 05, 2018
देश की राजधानी दिल्ली की दिल दहलाने वाले बुराड़ी सामूहिक मृत्यु कांड की गुत्थी दिल्ली पुलिस ने करीब-करीब सुलझा ली है. सूत्रों के मुताबिक कई सीसीटीवी फुटेज की जांच के बाद पुलिस इस नतीजे पर पहुंचती दिख रही है कि फंदे से लटके मिले 11 शवों के पीछे कोई साजिश नहीं थी, बल्कि पूरा परिवार धार्मिक अंधविश्वास के चक्कर में खुद फंदे से लटक गया. ....  समाचार पढ़ें
दिल्ली में एक ही परिवार के 11 सदस्यों की रहस्यमयी मौतः रिश्तेदार का दावा, ये पढ़ेलिखे मोक्ष के लिए नहीं मर सकते, पुलिस जांच में जुटी जनता जनार्दन संवाददाता ,  Jul 02, 2018
देश की राजधानी दिल्ली में उत्तरी दिल्ली के बुराड़ी में एक ही परिवार के 11 सदस्यों के रहस्यमयी परिस्थितियों में मृत पाए जाने का मामला उलझता जा रहा है. रिश्तेदार इसमें साजिश देख रहे हैं, तो पुलिस इसमें हत्या और आत्महत्या के साथ अब तंत्र-मंत्र अंधविश्वास का पहलू भी टटोल रही है. इस मामले में पुलिस ने कुछ नोट बरामद किए हैं. ....  समाचार पढ़ें
साइबर ठगी का शिकार हेड कांस्टेबल, साइबर सेल चंदौली ने दिलाया पैसा वापस अमिय पाण्डेय ,  Jun 22, 2018
हे0का अमरनाथ सिंह चौकी धरौली थाना सैयदराजा जनपद चन्दौली के मोबाइल पर अनजान न0 से फोन आया एवं उनके लाटरी लगने की बात कहकर उनसे उनका बैंक का खाता नं0 पूछा गया । उक्त हे0का0 द्वारा खाता न0 देने के बाद कालर द्वारा उनके खाते से 5 बार में कुल 47968 रु0 उनके खाते से काट लिया गया तथा Phone Pay नामक कंपनी को ट्रान्सफर हो गया। इ ....  समाचार पढ़ें
कौन था मुन्ना बजरंगी? माफिया, दबंग, हत्यारा, जिसके नाम से कांपता था पूर्वांचल जनता जनार्दन संवाददाता ,  Jul 09, 2018
पूर्वांचल में आतंक का पर्याय रहे मुन्ना बजरंगी का असली नाम प्रेम प्रकाश सिंह था. उसका जन्म 1967 में उत्तर प्रदेश के जौनपुर जिले के पूरेदयाल गांव में हुआ था. उसके पिता पारसनाथ सिंह उसे पढ़ा लिखाकर बड़ा आदमी बनाने का सपना संजोए थे. मगर प्रेम प्रकाश उर्फ मुन्ना बजरंगी ने उनके अरमानों को कुचल दिया. उसने पांचवीं कक्षा के बाद पढ़ाई छोड़ दी. किशोर अवस्था तक आते आते उसे कई ऐसे शौक लग गए जो उसे जुर्म की दुनिया में ले जाने के लिए काफी थे. ....  लेख पढ़ें
आरुषि-हेमराज मर्डर केस: कत्ल के 'काली रात' की पूरी दास्तान जनता जनार्दन डेस्क ,  Oct 12, 2017
सब के बावजूद अब भी रहस्य. पूरा देश एक शहरी परिवार में इस विचित्र अपराध कथा की हर बारीकी पर नजर रखता रहा है. लेकिन, अंत में ऐसा फैसला आया, जो महज दो मिनट में सुना दिया गया और जिससे सवाल ही ज्यादा खड़े हुए. कोर्ट ने आरुष तलवार के मां-बाप को दोषी मानते हुए 26 नवंबर, 2013 को उम्रकैद की सजा सुनाई. इसके बाद दोनों को डासना जेल भेज दिया गया ....  लेख पढ़ें
दिल्ली! दुष्कर्म की नहीं, अपहरण की राजधानी जनता जनार्दन डेस्क ,  Sep 14, 2016
देश की राजधानी दिल्ली अब दुष्कर्म की नहीं अपहरण की राजधानी बनती जा रही है, क्योंकि यहां हर दिन 21 अपहरण होते हैं। नेशनल क्राइम रिकार्ड ब्यूरो (एनसीआरबी) के अनुसार, वर्ष 2015 में दिल्ली में देशभर के शहरों की तुलना में सर्वाधिक अपहरण की घटनाएं दर्ज की गईं। ....  लेख पढ़ें
इलाहाबाद के बराव में अब भी कैद हैं 400 से ज्यादा लड़कियां जनता जनार्दन डेस्क ,  Jul 13, 2016
इलाहाबाद के बराव से मानव तस्करों के चंगुल से छुड़ाकर यहां लाई गईं लड़कियों ने कई खुलासे किए हैं. बराव में देश के विभिन्न क्षेत्रों सहित कई देशों की चार सौ से अधिक लड़कियां मानव तस्करों के चंगुल में हैं. ....  लेख पढ़ें
पुलिस हिरासत में हर साल औसतन 98 मौतें जनता जनार्दन डेस्क ,  Jun 19, 2016
राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो के आंकड़े देश में पुलिस हिरासत में होने वाली मौतों के बारे में स्तब्ध कर देने वाली जानकारी दे रहे हैं. इन आंकड़ों के मुताबिक देश में साल 2001 से 2013 के बीच पुलिस हिरासत में 1275 लोगों की मौत हुई है. चौंकाने वाली बात यह है कि इन मौतों के आधे से भी कम मामले ही दर्ज किए गए. ....  लेख पढ़ें
अंडरवर्ल्ड डॉन अबू सलेम के नाम से आज भी कांपता है बॉलीवुड परवेज़ सागर ,  Jan 06, 2016
अंडरवर्ल्ड की दुनिया में कई ऐसे नाम हैं, जिन्होंने जुर्म को एक नई परिभाषा दे दी. जरायम की अंधेरी गलियों से निकलकर ये अपराधी दुनियाभर की नजरों में आ गए. इनके कारनामों ने आम जनता ही नहीं बल्कि पुलिस महकमे के लिए भी तमाम तरह की दुश्वारियां खड़ी की. ऐसा ही एक नाम है अंडरवर्ल्ड डॉन अबू सलेम का. जिसके नाम से आज भी बॉलीवुड कांप जाता है. ....  लेख पढ़ें
क्या सचमुच आतंकवाद का कोई मज़हब नहीं होता? डॉ. परवीन तिवारी ,  Aug 04, 2015
मुंबई धमाकों का गुनहगार फांसी पर चढ़ा दिया गया। भारतीय न्यायव्यवस्था और लोकतंत्र की सुंदरता भी दुनिया के सामने आई। इतने बड़े गुनाह के लिए किसी और मुल्क में पकड़े जाने के बाद ही सरेआम किसी को सजा दे दी जाती लेकिन ये हमारे लोकतंत्र की मजबूती है कि हमारे देश में गुनहगार को भी अपना पक्ष रखने का मौका मिलता है। ....  लेख पढ़ें
16/12 दुष्कर्म: अभी भी न्याय का इंतजार (2 वर्ष पूरे होने पर) जनता जनार्दन डेस्क ,  Dec 16, 2014
राष्ट्रीय राजधानी में 16 दिसंबर 2012 को चलती बस में एक 23 वर्षीय फिजियोथेरेपी की प्रशिक्षु के साथ हुई सामूहिक दुष्कर्म की हृदयविदारक घटना ने न सिर्फ पूरे देश को हिला कर रख दिया, बल्कि पूरी दुनिया में भारत की छवि को भी धूमिल किया। लेकिन पीड़िता के परिवार को आज भी न्याय का इंतजार है। ....  लेख पढ़ें
क्या आई कार्ड दिखाकर तेजाब खरीदने से रुक जाएंगे हमले? जनता जनार्दन डेस्क ,  Jul 18, 2013
तेजाब के हमलों पर सुप्रीम कोर्ट ने जो फैसला सुनाया है उससे अब भी कई सवाल अधूरे रहे गए हैं। इस फैसले से लड़कियों पर तेजाब के हमले कितने रुक पाएंगे ये भविष्य ही बता पाएगा। लेकिन कई ऐसे सवाल हैं जिनका अब भी जवाब मिलना बाकी है। ....  लेख पढ़ें
वोट दें

क्या बलात्कार जैसे घृणित अपराध का धार्मिक, जातीय वर्गीकरण होना चाहिए?

हां
नहीं
बताना मुश्किल