स्थान
मधुबनी पेंटिंग से सजेंगे शहर के सभी सरकारी भवन जनता जनार्दन डेस्क ,  Nov 10, 2017
देश और दुनिया तक विख्यात लोककला मधुबनी पेंटिंग को शहर की पहचान बनाने के लिए जिला प्रशासन ने अनोखा कदम उठाया है। मधुबनी जिला प्रशासन ने सभी सरकारी भवनों की दीवारों को अब मधुबनी पेंटिंग से सजाने-संवारने की योजना बनाई है। इसके तहत सभी दीवारों में मधुबनी पेंटिंग उकेरी जाएगी। ....  लेख पढ़ें
भारतीय रेलवे ने 2022 तक बुलेट ट्रेन चलाने का रखा लक्ष्य जनता जनार्दन डेस्क ,  Nov 10, 2017
विपक्ष की आलोचनाओं से बेपरवाह भारतीय रेल बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट को पूरा करने के लिए ओवरटाइम कर रही है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा निर्धारित साल 2022 के अगस्त से पहले इसे पूरा करने का लक्ष्य रखा है. रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष अश्विनी लोहानी ने 1 लाख करोड़ रुपये की बुलेट ट्रेन परियोजना को समय पर पूरा करवाने का बीड़ा उठाया है. ....  लेख पढ़ें
गुजरात का विकास मॉडलः अस्पताल में शिशुओं की मौत बाद दिखी कुपोषण की तस्वीर जनता जनार्दन डेस्क ,  Nov 06, 2017
हाल ही में अहमदाबाद के प्रमुख सदर अस्पताल में तीन दिन में 18 नवजात शिशुओं की मौत के बाद इसके कारणों को लेकर पूरे देश में चर्चा होने लगी, जिसमें एक बात सामने आई कि उनमें से ज्यादातर बच्चे सामान्य से कम वजन के थे। इस तरह वे कमजोर भी थे। ....  लेख पढ़ें
वाह रे हमारा भारत महान! एसी बार में शराब पीएं या गुरू से पढ़ें ट्यूशन, टैक्स बराबर जनता जनार्दन डेस्क ,  Nov 03, 2017
देश की कर व्यवस्था सवालों के घेरे में है, क्योंकि वातानुकूलित रेस्टोरेंट में खाना खाएं और चाहे अपना भविष्य संवारने के लिए छात्र प्राइवेट कोचिंग या ट्यूशन पढ़ें, दोनों पर लगने वाला केंद्रीय सेवा कर (सर्विस टैक्स) अब जीएसटी जैसा है. शराब के जीएसटी से बाहर होने पर राज्य सरकारें लगभग 18 फीसदी कर वैट के जरिए वसूल रही हैं. ....  लेख पढ़ें
सोनपुरः दुनिया के सबसे बड़े पशु मेले में इस साल नहीं चहकेंगी चिड़ियां जनता जनार्दन डेस्क ,  Nov 01, 2017
बिहार के विश्व प्रसिद्ध हरिहर क्षेत्र सोनपुर मेले में इस बार आने वाले लोगों को न ही चिड़ियों की चहचहाहट सुनाई देगी और न ही खरीदार देश-विदेश की चिड़ियों को ही खरीद सकेंगे। यही नहीं, इस वर्ष हाथी दौड़ प्रतियोगिता भी नहीं होगी। हाथी केवल सांस्कृतिक कार्यक्रमों में ही दिखाई देंगे। न्यायालय के आदेश पर प्रशासन ने सोनपुर मेले में आकर्षण का केंद्र 'चिड़िया बाजार' पर रोक लगा दी गई है। सोनपुर में लगने वाला पशु मेला इस बार दो नवंबर से शुरू हो रहा है। ....  लेख पढ़ें
नोटबंदी के असर से अभी भी उबर नहीं पाए हैं पंजाब के किसान जयदीप सरीन ,  Oct 31, 2017
'हरित क्रांति' का नुमाइंदा कृषि प्रधान राज्य पंजाब अभी भी नोटबंदी के असर से उबर नहीं सका है। नरेंद्र मोदी सरकार द्वारा यह घोषणा अचानक की गई थी और पंजाब एवं इसके पड़ोसी राज्य हरियाणा में किसानों के लिए यह सबसे बुरा दौर था, क्योंकि उस समय धान की खरीद चरम पर थी। किसान समुदाय के 20,000 करोड़ रुपये से ज्यादा के लेन-देन किए जाने थे। ....  लेख पढ़ें
मधुबनी स्टेशन की पहचान बनेगी 'पेंटिंग' जनता जनार्दन डेस्क ,  Oct 08, 2017
अगर आप बिहार के मधुबनी रेलवे स्टेशन पर आने वाले हैं, तो आपको यहां का नजारा बदला बदला सा नजर आने वाला है। लोक चित्रकारी के लिए विख्यात मधुबनी का रेलवे स्टेशन आपको न केवल मधुबनी पेंटिंग के लिए आकर्षित करेगा, बल्कि इन पेंटिंग के जरिए आप इस क्षेत्र की पुरानी कहानियों और स्थानीय सामाजिक सरोकारों से भी रूबरू हो सकेंगे। ....  लेख पढ़ें
15 अगस्त का दिन कहता आजादी अभी अधूरी है जनता जनार्दन डेस्क ,  Aug 15, 2017
देश के पूर्व प्रधानमंत्री और मध्य प्रदेश के ग्वालियर से नाता रखने वाले अटल बिहारी वाजपेयी द्वारा आजादी के एक दिन पूर्व अर्थात 14 अगस्त, 1947 को लिखी कविता '15 अगस्त का दिन कहता आजादी अभी अधूरी है' आज भी उतनी ही प्रासांगिक है, जितनी तब रही होगी। ऐसा इसलिए, क्योंकि खेतों में हल में बैल की जगह किसान जुतने को मजबूर हैं। ....  लेख पढ़ें
...और तोड़ दिया गया गांधी का 'दूसरा राजघाट' जनता जनार्दन डेस्क ,  Jul 30, 2017
मध्यप्रदेश में नर्मदा तट पर स्थित महात्मा गांधी का दूसरा राजघाट गुरुवार को मिट्टी में मिल गया। यहां लोग सत्य, अहिंसा और शांति की प्रेरणा लेने आते थे। ऐसे गांधीवादियों को कुछ दिन बाद वहां सिर्फ पानी ही पानी नजर आएगा। प्रशासन ने दूसरे स्थान पर गांधी स्मारक बनाने के मकसद से इस राजघाट के अवशेषों को सुरक्षित निकाल लिया है। ....  लेख पढ़ें
राम नाथ कोविन्द, और भारत के राष्ट्रपति के रूप में उनके पहले भाषण का मूल पाठ जनता जनार्दन संवाददाता ,  Jul 25, 2017
एक वकील, अनुभवी राजनीतिक प्रतिनिधि तथा भारतीय सार्वजनिक जीवन और समाज के समतावाद और एकता के लंबे समय से समर्थक व्यक्ति श्री राम नाथ कोविंद का जन्म 1 अक्तूबर, 1945 में कानपुर के निकट, उत्तर प्रदेश के परौंख गांव में हुआ था। उनके पिता श्री मैकू लाल और माता श्रीमती कलावती थी। ....  लेख पढ़ें
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल