अनुराग की उपलब्धि : अभियोजन अधिकारी परीक्षा में 14वीं रैंक

अनुराग की उपलब्धि : अभियोजन अधिकारी परीक्षा में 14वीं रैंक वाराणसी: पंख से कुछ नहीं होता हौसलों  उड़ान होती,सफलता उन्हें मिलती जिनके सपनो  में जान होती हैं जिहा इस कहावत को चरितार्थ किया है मूलरूप वाराणसी के शिवनगर कॉलोनी रहने वाले अनुराग त्रिपाठी ने अनुराग त्रिपाठी को सहायक अभियोजन अधिकारी परीक्षा 2015 में 14 वी रैंक प्राप्त हुआ है.

मूल रूप से सहज और सरल स्वभाव के धनी अनुराग ने अपने जीवन मे जो रास्ता चुना उसी पर चलते रहे और मेहनत से कभी पीछे नहीं हटे अंततः अपने लक्ष्य  प्राप्त किया किसी भी  इंसान के लिए यह दिन और समय अच्छा माना जायेगा  लक्ष्य  ससमय प्राप्त कर लिया हो। 

इससे पूर्व अनुराग ने पूर्वांचल विश्वविद्यालय से एल.एल.बी के पढ़ाई के दौरान गोल्ड मेडल भी प्राप्त किया था,पूर्व उपजिलाधिकारी वाराणसी पिता ओमप्रकाश त्रिपाठी जी के सपनो को सच करने वाला इस नौजवान से जब हमने संपर्क किया तो इन्होंने अपने इस सफलता का पूरा श्रेय पिता कि प्रेरणा एवं माता का आशीर्वाद को दिया।

इससे पूर्व अनुराग कि 2016 में ग्राम पंचायत अधिकारी के पद पे नियुक्ति हो चुकी थी और वर्तमान में वाराणसी के हरहुआ ब्लॉक में कार्यरत भी है लेकिन उनका मन  हमेशा पूर्व में दी गयी सर्वोच्च प्रतियोगी परीक्षाओ के परिणाम में ही लगा रहता था,अनुराग को 14वी रैंक प्राप्त करने पे वाराणसी के जिलाधिकारी ने फोन करके बधाई दी एवं उज्जवल भविष्य कि कामना के साथ ही कर्तब्य परायणता का बोध भी कराया।
अन्य दो टूक बात लेख
वोट दें

क्या विजातीय प्रेम विवाहों को लेकर टीवी पर तमाशा बनाना उचित है?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
 
stack