चीन भी बोला- भारत से अच्छे संबंधों में ही भलाई

जनता जनार्दन संवाददाता , Apr 11, 2024, 21:16 pm IST
Keywords: PM Narendra Modi   प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी   अमेरिकी पत्रिका न्यूजवीक   पीएम मोदी   Modi Ji  
फ़ॉन्ट साइज :
चीन भी बोला- भारत से अच्छे संबंधों में ही भलाई हाल ही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अमेरिकी पत्रिका न्यूजवीक को दिए इंटरव्यू में कई मुद्दों पर बात की. पीएम ने भारत और चीन के बीच स्थिर और शांतिपूर्ण संबंधों को पूरे क्षेत्र एवं दुनिया के लिए महत्वपूर्ण बताया है. पीएम ने कहा कि भारत के लिए चीन के साथ संबंध महत्वपूर्ण है. पीएम मोदी ने कहा कि भारत और चीन के बीच स्थिर और शांतिपूर्ण संबंध न केवल हम दोनों देशों के लिए बल्कि पूरे क्षेत्र और दुनिया के लिए महत्वपूर्ण हैं. अब पीएम मोदी के इस जिक्र के बाद चीन की भी प्रतिक्रिया सामने आई है. चीन ने गुरुवार को सीमा विवाद से जुड़ी प्रधानमंत्री पीएम मोदी की टिप्पणियों पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि ‘मजबूत और स्थिर संबंध’ चीन और भारत के साझा हितों की पूर्ति करते हैं. 

असल में चीनी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता माओ निंग से एक प्रेसवार्ता के दौरान जब पीएम मोदी के बयान पर प्रतिक्रिया मांगी गई तो उन्होंने कहा कि चीन ने प्रधानमंत्री की टिप्पणियों पर गौर किया है. हमारा मानना है कि मजबूत और स्थिर चीन-भारत संबंध दोनों पक्षों के साझा हितों की पूर्ति करते हैं और शांति तथा क्षेत्र और उससे परे के विकास के लिए अनुकूल हैं.

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता माओ ने यह भी कहा कि बॉर्डर से जुड़े सवाल को द्विपक्षीय संबंधों में उचित रूप से रखा जाना चाहिए. उन्होंने कहा कि दोनों देश राजनयिक और सैन्य माध्यमों से करीबी संपर्क में हैं. हमें उम्मीद है कि भारत समान दिशा में चीन के साथ काम करेगा, द्विपक्षीय संबंधों को रणनीतिक ऊंचाइयों और दीर्घकालिक परिप्रेक्ष्य के लिहाज से संभालेगा, आपसी विश्वास बढ़ाएगा, बातचीत और सहयोग पर कायम रहेगा, मतभेदों को ठीक से संभालेगा और द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत और स्थिर बनाने की राह पर चलेगा.

चीन की यह प्रतिक्रिया तब आई जब पीएम मोदी ने अपने इंटरव्यू में कहा कि भारत के लिए चीन के साथ संबंध महत्वपूर्ण और अहम हैं. मोदी ने कहा कि मेरा मानना है कि हमें अपनी सीमाओं पर लंबे समय से बरकरार हालात का तत्काल समाधान करने की आवश्यकता है ताकि हमारी द्विपक्षीय बातचीत में असहजता को पीछे छोड़ा जा सके. पीएम ने यह भी कहा कि भारत और चीन के बीच स्थिर और शांतिपूर्ण संबंध न केवल हमारे दोनों देशों के लिए बल्कि पूरे क्षेत्र और विश्व के लिए महत्वपूर्ण हैं.
वोट दें

क्या आप कोरोना संकट में केंद्र व राज्य सरकारों की कोशिशों से संतुष्ट हैं?

हां
नहीं
बताना मुश्किल