अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के उपलक्ष्य में वर्ल्ड ओडिशा सोसायटी ने की तीसरे शक्ति उत्सव की मेजबानी

जनता जनार्दन संवाददाता , Mar 21, 2024, 18:27 pm IST
Keywords: Third Shakti Utsava   Women Power   International Women's Day Honourable   शक्ति उत्सव  
फ़ॉन्ट साइज :
अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के उपलक्ष्य में वर्ल्ड ओडिशा सोसायटी ने की तीसरे शक्ति उत्सव की मेजबानी
नई दिल्ली: अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के उपलक्ष्य में वर्ल्ड ओडिशा सोसाइटी (डब्ल्यूओएस) ने तीसरे शक्ति उत्सव का आयोजन किया । उत्सव में शामिल वक्ताओं ने समाज में महिला भागीदारी की विशेषता पर प्रकाश डाला।
 
समारोह में एफसीए (सामुदायिक विकास समिति) के अध्यक्ष डॉ मनोरंजन मोहंती समेत अग्रणी महिला हस्तियों और प्रसिद्ध 
सामाजिक कार्यकर्ताओं ने बढ़ चढकर हिस्सा लिया। यह कार्यक्रम भारत के सबसे बड़े उत्सव के अध्याय को चिह्नित करता है।
 
प्रख्यात हस्तियों की राय है कि नारी शक्ति का सार मुख्य रूप से उत्कृष्टता और तेजस्विता है। हाइब्रिड मोड में आयोजित इस महोत्सव में डब्ल्यूओएस के सदस्यों, प्रमुख उड़िया हस्तियों और विभिन्न राज्यों एवं दुनिया के कई देशों से उड़िया समाज के प्रतिनिधियों ने भाग लिया।
 
मुख्य समारोह राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के गाजियाबाद में आयोजित किया गया। सैकड़ों वैश्विक ओडिया समाज के प्रतिनिधि डिजिटल नेटवर्किंग के माध्यम से ऑनलाइन उत्सव में शामिल हुए।
 
बैठक को संबोधित करते हुए विशिष्ट अतिथि "संवाद" के संपादक तानया पटनायक ने दुनिया भर में उड़िया प्रवासियों को एक मंच पर एकजुट करने के लिए विश्व ओडिशा सोसायटी की भूमिका की सराहना की। यह देखते हुए कि वर्तमान सदी महिलाओं की है, श्रीमती पटनायक ने समाज में महिला समुदाय की आजादी के लिए हर संभव संरक्षण प्रदान करने का आह्वान किया।
 
सभा का स्वागत करते हुए डब्ल्यूओएस के अध्यक्ष किशोर द्विवेदी ने कहा कि चूंकि महिलाएं पृथ्वी से अंतरिक्ष तक उत्कृष्टता हासिल करने में सक्षम हैं, वे पूर्ण और परम ऊर्जा का प्रतीक हैं। महिलाओं के साथ किए जाने वाले घटिया व्यवहार पर गंभीर चिंता व्यक्त करते हुए डब्ल्यूओएस की संस्थापक डॉ. अरुंधति देबी ने सभी से उनके साथ सम्मान और शालीनता से व्यवहार करने की अपील की।
 
डब्ल्यूओएस की महिला अधिकारिता समिति की संयोजक सुभास्मिता मिश्रा ने सही मायने में महिलाओं के संवैधानिक और कानूनी अधिकारों की सुरक्षा पर जोर दिया। डब्ल्यूओएस महिला विंग की अध्यक्ष डॉ. सुनंदा मिश्रा पांडा ने कहा कि नारीत्व की श्रेष्ठता युगों-युगों तक सिद्ध होती रही है।
 
इस अवसर पर प्रसिद्ध सामाजिक कार्यकर्ता और डब्ल्यूओएस की महिला विंग की महासचिव डॉ चिदात्मिका खाटुआ को दुनिया भर में महिला जाति के सर्वांगीण कल्याण में उनके उत्कृष्ट योगदान के लिए प्रथम महानारी सम्मान से सम्मानित किया गया। सम्मान स्वीकार करते हुए डॉ. खटुआ ने प्रतिष्ठित उपाधि के लिए डब्ल्यूओएस के प्रति आभार व्यक्त किया और घोषणा की कि महिलाओं को सशक्त बनाने का उनका मिशन भविष्य में और अधिक केंद्रित और तेज होगा।
 
प्रतिभाशाली युवा फैशन डिजाइनर प्रियंका जेना, प्रतिष्ठित चार्टर्ड अकाउंटेंट सुधीर दाश और वरिष्ठ ब्यूरोक्रेट डॉ. देबेंद्र माझी को उनकी सराहनीय सेवाओं के लिए डब्ल्यूओएस द्वारा सम्मानित किया गया। डब्ल्यूओएस
की नई दिल्ली और एनसीआर शाखा के मुख्य समन्वयक उमाकांत जेना ने धन्यवाद प्रस्ताव दिया। 
प्रसिद्ध कवि कुलमणि बिस्वाल और प्रसिद्ध कवयित्री लक्ष्मीप्रिया दास ने अपने काव्य पाठ से दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर दिया।
 
इस अवसर पर सुप्रसिद्ध कथावाचक डॉ. मधुस्मिता मिश्र ने अपनी छोटी सी कहानी 'अनिंदिता' अद्भुत ढंग से पढ़कर श्रोताओं को मंत्रमुग्ध कर दिया।
मेगा इवेंट का विशेष आकर्षण सुधीर दाश, सुधा कालरा, शोभा नारंग और मोनिका चौधरी का शानदार गायन सत्र था।
 
यूएसए की मशहूर एंकर बनोजिनी नायक ने पूरे कार्यक्रम का सुचारू और निर्बाध तरीके से संचालन किया और नंदन द्विबेदी ने डिजिटल कंट्रोल रूम को कुशलतापूर्वक संभाला।
विचार-विमर्श में भाग लेने वाले अन्य लोगों में अल्पना पटनायक, अजय कुमार दास, डॉ. देबेंद्र माझी और रीता पात्रा शामिल रहे।
 
उपस्थित अन्य प्रमुख हस्तियों में डॉ. नलिनी पति, सिबा रंजन बिस्वाल, अक्षय मोहंती, यशोधरा मिश्रा, दिलीप मोहंती, पुष्पांजलि बारिक, प्रावती पाणिग्रही, श्रीबानी मोहंती, लिली जेनामणि, मनोरंजन मोहंती, प्रबोध सामंतरा, डॉ. सरोजिनी पाणि, डॉ. सागर रंजन त्रिपाठी, सुबास साहू शामिल थीं।
अन्य राष्ट्रीय लेख
वोट दें

क्या आप कोरोना संकट में केंद्र व राज्य सरकारों की कोशिशों से संतुष्ट हैं?

हां
नहीं
बताना मुश्किल