वायनाड की जंग दिलचस्प, CPI ने एनी राजा को दिया टिकट

जनता जनार्दन संवाददाता , Feb 27, 2024, 17:21 pm IST
Keywords: लोकसभा चुनाव 2024   पीएम मोदी   Narendra Modi   Modi ji   Parliament News   इंडिया गठबंधन   कांग्रेस गुजरात   गोवा   दिल्ली   
फ़ॉन्ट साइज :
वायनाड की जंग दिलचस्प, CPI ने एनी राजा को दिया टिकट CPI लोकसभा चुनाव 2024 अब बेहद दिलचस्प हो गया है. एक तरफ कांग्रेस गुजरात,गोवा, दिल्ली में सपा और आप जैसी विपक्षी पार्टियों के साथ सीट शेयरिंग और उम्मीदवारों को लेकर रणनीति बना रही है वहीं बीजेपी का मुकाबला करने के लिए बने  INDIA गठबंधन की एक पार्टी ने केरल में कांग्रेस के साथ 'खेला' कर दिया है.

केरल में सत्ताधारी वाम लोकतांत्रिक मोर्चा (एलडीएफ) में शामिल भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (CPI) ने लोकसभा चुनावों के लिए चार अहम सीटों उम्मीदवार उतार दिए हैं. दिलचस्प बात है कि सीपीआई ने पार्टी की सीनियर नेता एनी राजा को वायनाड सीट से उम्मीदवार बनाया है. अभी फिलहाल कांग्रेस नेता राहुल गांधी वायनाड सीट से सांसद हैं. जबकि पूर्व सांसद पन्नियन रवींद्रन को तिरुवनंतपुरम से टिकट दिया गया है, जिससे अभी कांग्रेस के ही नेता शशि थरूर सांसद हैं. सीपीआई ने पूर्व कृषि मंत्री वी एस सुनिल कुमार और पार्टी की युवा इकाई ऑल इंडिया यूथ फेडरेशन के नेता सी ए अरुणकुमार को त्रिशूर और मवेलीक्कारा से उम्मीदवार बनाया है.

एनी राजा को वायनाड से टिकट मिलने के बाद अब सवाल उठ रहा है कि क्या राहुल गांधी वायनाड सीट छोड़ देंगे. साल 2004 से लेकर 2019 तक राहुल गांधी अमेठी से लोकसभा सांसद रहे. लेकिन 2019 में उन्होंने दो सीटों- अमेठी और वायनाड से चुनाव लड़ा था.

अमेठी से उनको करारी शिकस्त मिली थी, जबकि वायनाड की जनता ने उनको बंपर वोट दिया था. तब उन्होंने 4 लाख वोटों के अंतर से सीपीआई के ही उम्मीदवार पीपी सुनीर को मात दी थी. अगर मीडिया रिपोर्ट्स की माने तो राहुल गांधी वायनाड सीट छोड़ने का मन बना रहे हैं. राहुल गांधी के इस बार भी दो सीटों से चुनाव लड़ने की संभावना है. इनमें से एक सीट कर्नाटक या तेलंगाना से हो सकती है. जबकि दूसरी सीट यूपी से. 

सूत्रों के मुताबिक, केरल में सीट बंटवारे को लेकर बातचीत चल रही थी और इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग (IUML) कांग्रेस पर इस बार दो की जगह तीन सीट देने का दबाव डाल रही है. IUML वायनाड सीट से अपना प्रत्याशी खड़ा करना चाहती है क्योंकि इस सीट पर अधिकतर वोटर्स मुस्लिम समुदाय से हैं.

इसके अलावा सीपीआई के महासचिव डी राजा की पत्नी एनी राजा को वायनाड सीट से टिकट मिलने के बाद अजीबोगरीब स्थिति खड़ी हो गई है. क्योंकि सीपीआई इंडिया गठबंधन का हिस्सा है और पार्टी के महासचिव की पत्नी ही अगर राहुल गांधी के खिलाफ चुनाव लड़ेंगी तो असहज स्थिति पैदा हो जाएगी. करीब महीने भर पहले डी राजा ने कहा था कि पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में कांग्रेस से वायनाड सीट छोड़ने को लेकर कोई बातचीत नहीं हुई है. उन्होंने कहा था कि वायनाड उन चार सीटों का हिस्सा है, जो एलडीएफ के साथ सीट शेयरिंग के दौरान सीपीआई को मिली हैं. 

वोट दें

क्या आप कोरोना संकट में केंद्र व राज्य सरकारों की कोशिशों से संतुष्ट हैं?

हां
नहीं
बताना मुश्किल