Thursday, 21 January 2021  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 
खोजें
Dec 23, 2020, 17:37 pm    by : जनता जनार्दन संवाददाता
कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय के अंतर्गत सहकारी समितियों के वित्तीय पॉवरहाउस राष्ट्रीय सहकारी विकास निगम तथा स्वामी विवेकानंद योग अनुसंधान संस्थान (एस-व्यास), बेंगलुरु के अनूठे वैश्विक य
Nov 28, 2020, 22:15 pm    by : जनता जनार्दन संवाददाता
ग्रामीण क्षेत्रों में किसानों के लिए स्वास्थ्य सेवा मुहैया कराने की 'आयुष्मान सहकार योजना' को बल देने के लिए राष्ट्रीय सहकारी विकास निगम 'एनसीडीसी' के प्रबंध निदेशक संदीप नायक और छत्
Nov 24, 2020, 17:23 pm    by : जनता जनार्दन संवाददाता
दिल्ली: सहकार प्रज्ञा का अनावरण केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने किया।कृषि मंत्री ने एनसीडीसी को समर्पित एवं नवीनतम प्रशिक्षण कार्यक्रमों के माध्यम से प्राथमिक सहकारी समितियों म
Oct 19, 2020, 18:56 pm    by : जनता जनार्दन संवाददाता
राष्ट्रीय सहकारी विकास निगम (एनसीडीसी) ने देश के सुदूरवर्ती ग्रामीण क्षेत्रों में स्वास्थ्य सेवाओं को मजबूत बनाने के लिए एक अहम परियोजना आयुष्मान सहकार सोमवार को लांच किया. एक ऑनलाइन कार्य
Sep 27, 2020, 18:50 pm    by : जनता जनार्दन संवाददाता
केंद्रीय कृषि मंत्रालय के शीर्ष वित्त पोषण संगठन राष्ट्रीय सहकारी विकास निगम (एनसीडीसी) ने न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) संचालन के तहत खरीफ धान की खरीद के लिए छत्तीसगढ़, हरियाणा और तेलंगाना
Sep 10, 2020, 19:33 pm    by : जनता जनार्दन संवाददाता
नई दिल्ली में राष्ट्रीय सहकारी विकास निगम (एनसीडीसी) के सहयोग से मेघालय में देश की पहली सबसे बड़ी सूअर पालन परियोजना का शुभारंभ किया गया। इस परियोजना पर 220 करोड़ रुपये खर्च किये जाएंगे
Sep 04, 2020, 11:02 am    by : जनता जनार्दन संवाददाता
भारतीय अर्थव्यवस्था कृषि पर अत्यधिक निर्भर है. 70% से अधिक ग्रामीण परिवार कृषि पर निर्भर हैं. यह कुल जीडीपी में लगभग 18% का योगदान देता है और 60% से अधिक आबादी को रोजगार प्रदान करता है. भारत सरकार के
Aug 04, 2020, 20:44 pm    by : जनता जनार्दन संवाददाता
सहकारिता से नई पीढ़ी के भी ज्यादा से ज्यादा लोगों के जुड़ने का आव्हान करते हुए कहा कि नए चैनल जैसी पहल से इस दिशा में जागरूकता आएगी। सहकारिता के माध्यम से युवाओं के लिए रोजगार के अवसर भी काफी ब