Tuesday, 19 November 2019  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 
खोजें
Sep 01, 2018, 16:18 pm    by : जनता जनार्दन संवाददाता
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को कहा कि 2019 का लोकसभा चुनाव प्रधानमंत्री मोदी की उपलब्धियों पर होगा, जिसमें राष्ट्रीय मुद्दे हावी रहेंगे. उन्होंने राम मंदिर के सवाल पर
Dec 04, 2017, 10:06 am    by : सौरभ कत्कुर्वार
हिंदू धर्म व जनमानस के गहरे तक रचे-बसे शहर अयोध्या की बीते कुछ वर्षो में हिंदू-मुस्लिम के बीच बैरभाव और धार्मिक व राजनीतिक संघर्ष की शरण स्थली के रूप में पहचान बनने लगी और इसकी गूंज देश और दुनि
Sep 20, 2017, 7:27 am    by : दिनेश्वर मिश्र
वही गुणी है, वही ज्ञानी है, वही पृथ्वी का भूषण है, वही पंडित है, वही दानी है, वही धर्म परायण है, वही कुल का रक्षक है, वही नीतिज्ञ है, वही परम बुद्धिमान है, वही वेदज्ञ है, वही कवि है, वही विद्वान है तथा
Sep 19, 2017, 7:02 am    by : दिनेश्वर मिश्र
श्रीमद्भागवत् में वर्णन आता है कि जब ब्रज में मक्खन चुराते हुए भगवान को एक गोपी पकड़ लेती है, तो भगवान बड़े भोलेपन से कहते हैं--गोपी! क्या यह तुम्हारा घर है? मैं इसे अपना घर समझकर भीतर आ गया था। इसक
Sep 18, 2017, 7:23 am    by : राकेश उपाध्याय
जो भी लोग भागवत धर्म का पालन करने वाले है, चाहे वे बहुत ज्ञानी हों, महापंडित हों, सन्यासी हों, तपस्वी हों, सिद्ध महापुरुष हों, विरक्ति हों और चाहे बहुत बड़े विज्ञानी ही क्यों न हों पर श्री राम के भ
Sep 16, 2017, 7:34 am    by : रामवीर सिंह
भुशुण्डिजी कह रहे हैं कि गरुड़जी! भगवान शिव (जो जगद्गुरू हैं), ब्रह्माजी (सृष्टि के रचयिता), शुकदेवजी (भगवान व्यास के गर्भज्ञानी पुत्र ), सनकादिक मुनि (जो आदिज्ञानी हैं और ब्रह्माजी के पुत्र हैं),
Sep 16, 2017, 7:11 am    by : दिनेश्वर मिश्र
बाल्मीकिजी राम के समकालीन थे। उन्हें कहीं- कहीं दशरथ के मंत्रियों के समूह में सम्मिलित होना भी बताया गया है। अतः वे सर्वश्रेष्ठ राजा के रूप में राम को सर्व सद्गुण-संपन्नता के साथ अधिष्ठापित
Sep 15, 2017, 9:06 am    by : दिनेश्वर मिश्र
दक्षिण तो दक्षिण, उत्तर में भी राम निर्विवाद नहीं हैं । यहाँ भी उन्हें एक ओर वर्ण-ब्यवस्था के आधार पर आलोचना का विषय बनाया जा रहा है। राम शुद्र बिरोधी और ब्राह्मणवादी हैं. कोई आश्चर्य नहीं होग
Sep 15, 2017, 8:50 am    by : रामवीर सिंह
व्यक्ति में सही सही आत्मावलोकन की शक्ति पैदा करने की सामर्थ्य केवल सनातन वैदिक धर्म के पास है। जब व्यक्ति अपनी आंतरिक वृत्तियों का अवलोकन दृढ़ता से निष्पक्ष होकर करेगा तो संभव है कि समझ पड़े
Sep 14, 2017, 7:33 am    by : रामवीर सिंह
गरुड़जी ने सात प्रश्न किए थे। छ: प्रश्नों के उत्तर देने के बाद अब मानस रोग संबंधित सातवें प्रश्न का उत्तर भुशुण्डिजी दे रहे. भुशुण्डिजी कह रहे हैं कि व्यक्ति के दुख का कारण कोई अन्य व्यक्ति या