खोजें
Jul 24, 2018, 16:44 pm    by : त्रिभुवन
यह एक ख़तरनाक़ समानता है कि देश में निरीह मुस्लिमों के मॉब लिंचिंग मर्डर, ज्ञान-विज्ञान और विवेकवाद की बात करने वालों की हत्याएं और उन पर हमले और सुकुमार और असहाय बालिकाओं से नृशंस बलात्कार की घ
May 18, 2017, 19:09 pm    by : जनता जनार्दन संवाददाता
ऐसी दास्तान दुनिया के किसी देश में नहीं दिख रही थी कि अपने ही नागरिकों को अपने ही देश में गुस्ताख़ निगाही से देखा जा रहा था और अपने ही स्वर में स्वर साधने वाले आपराधिक वैताल परमप्रिय हो रहे थे। इ
Mar 08, 2016, 12:28 pm    by : प्रभुनाथ शुक्ल
आधुनिक भारतीय समाज में स्त्रियों की सुरक्षा अधिक चिंता और बहस का केंद्रबिंदु बन गया है। यह सवाल संसद से लेकर सड़क तक तैर रहा है। नारी मर्यादा को उघाड़ने वाली कुछ वारदातों ने हमारी संस्कृति क
Feb 27, 2016, 11:45 am    by : जनता जनार्दन डेस्क
पूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिदंबरम ने देश में कायम हो चुके गहरे ध्रुवीकरण और सांप्रदायिक एवं अन्य लाइनों पर बहसों को गढ़े जाने के चलन पर गंभीर चिंता जताई।चिदंबरम ने कहा कि अब तक सिर्फ तीन मौके ऐ
Dec 15, 2015, 13:17 pm    by : जनता जनार्दन डेस्क
भारतीय इतिहास के पन्नों में शूरवीरों की गाथाओं के साथ 16 दिसंबर, 2012 का वह काला पन्ना भी दर्ज हो गया है, जिसने पुरुषसत्ता और सामंती मानसिकता के लिजलिजे कीचड़ में मदमस्त डूबे भारतीय समाज को झकझोर
Feb 08, 2015, 16:59 pm    by : जनता जनार्दन डेस्क
मशहूर बाल अधिकार कार्यकर्ता और नोबेल विजेता कैलाश सत्यार्थी ने कहा है कि बाल श्रम पर भारतीय संसद में रखा गया विधेयक नई सरकार के लिए एक परीक्षा साबित होगा और यह देखना दिलचस्प होगा कि वे सर्वाध
Sep 02, 2014, 11:44 am    by : जनता जनार्दन डेस्क
परमाणु अप्रसार संधि पर भारत के हस्ताक्षर न करने की वजह से अंतरराष्ट्रीय समुदाय में व्याप्त चिंता को दूर करने की कोशिश करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज कहा कि शांति और अहिंसा के लिए द
Jan 21, 2014, 16:33 pm    by : अनंत विजय
दिल्ली में आम आदमी पार्टी की सरकार बनने से लेकर उसके मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के बंगले और मंत्रियों की गाड़ी पर मचे कोलाहल और शोरगुल के बीच राष्ट्रीय मीडिया ने कई बड़ी खबरों की या तो अनदे
Aug 31, 2013, 10:24 am    by : जनता जनार्दन डेस्क
गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी ने माताओं और बहनों की सुरक्षा को भारतीय समाज के समक्ष एक बड़ा मुद्दा बताते हुए कहा कि यदि महिलाएं अपने को असुरक्षित महसूस करती हैं तो भारतीय पुरुषों को स्व
Mar 25, 2013, 16:53 pm    by : आशुतोष
बड़े दिनों के बाद महेंद्र सिंह धोनी और सचिन तेंडुलकर को एक साथ एक मंच पर देखा। मौका था विमल कुमार की सचिन पर आई किताब - सचिन-ए क्रिकेटर ऑफ सेंचुरी के विमोचन का। इस मौके पर सचिन तो नहीं बोले लेकिन