Tuesday, 12 November 2019  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 
खोजें
Dec 06, 2017, 11:18 am    by : जनता जनार्दन संवाददाता
बाबरी विध्वंस के पच्चीस साल बीत गए. 6 दिसंबर 1992 का दिन जिसने भारत के इतिहास में ऐसा नाम दर्ज किया, जिसे शायद ही कोई भारतीय भूले. तब से लेकर चली आ रही कश्माकश आज भी जारी है. अयोध्या में बाबरी विध्वंस