Monday, 30 November 2020  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 
खोजें
Sep 12, 2020, 18:02 pm    by : त्रिभुवन
अग्निवेश एक अलग तरह के साधु और एक विलक्षण तरह कर सामाजिक नेता थे। उनके व्यक्तित्व में सम्मोहन और उनकी भाषा में एक आज था। वे विवादास्पद भी थे। वे विवादों को निमंत्रित भी करते थे। लेकिन सच में व
Jul 27, 2020, 20:06 pm    by : अशोक पांडे
जब तक शरीर में ताकत रही, अमला दास कलकत्ता के उस नृत्य संस्थान में अगले पचास वर्षों तक उदय शंकर घराने की नृत्य शैली को जीवित रखे रहीं. अमला को जानने वाले उन्हें शक्ति के ऐसे पुंज के रूप में याद रख
Jul 19, 2020, 17:38 pm    by : गौरव अवस्थी
मैं विकास दूबे..कानपुर वाला..फिल्म वाला या नेताओं वाला.. विकास तो हर काल में हिट रहा है..फिट रहा है. पहचान तो गए हुईहो. इत्ती जल्दी भूलिहो तो कईसे भूलिहो? अपने चैनल हैं ना..यह विकास हो
Jun 24, 2020, 16:05 pm    by : त्रिभुवन
न दिनों दुनिया भर के अख़बार हर मोबाइल में घूम रहे हैं। ऐसा लग रहा है कि हर देश कलह, वेदना, आँसू और असंतोष के अनचीन्हे रास्तों पर है। हर देश अपने भीतर एक अघोषित गृहयुद्ध युद्ध लड़ रहा है। अख़बार में,
Jun 02, 2020, 9:52 am    by : पार्थ बैनर्जी
1968 में रेवरेंड मार्टिन लूथर किंग की हत्या के बाद अमेरिकी अंतरात्मा को झकझोर देने वाली भारी जन-आक्रोश अब 2020 के कोरोनावायरस संकट में अचंभित कर रही है
Aug 05, 2019, 18:20 pm    by : जनता जनार्दन संवाददाता
संसद से पारित कानून अब सीधे लागू होंगे, अब तक भारतीय संसद के अधिकार जम्मू कश्मीर को लेकर सीमित थे. अब तक ये होता था कि डिफेंस, विदेश और वित्तीय मामले को छोड़कर अगर संसद कोई भी कानून बनाती थी तो वो
May 30, 2019, 11:08 am    by : जनता जनार्दन संवाददाता
भारतीय संविधान में मंत्रिमंडल के गठन से जुड़े संविधान के अनुच्छेद 74, 75 और 77 बेहद महत्वपूर्ण है. अनुच्छेद 74 के मुताबिक राष्ट्रपति द्वारा मंत्रिपरिषद का गठन किया जाता है. अनुच्छेद 74 के मुताबिक ए
Feb 21, 2019, 17:15 pm    by : गोपाल जी राय
ह ठीक है कि उनके जीते जी जमींदारी प्रथा का अंत नहीं हो सका। लेकिन यह उनके द्वारा ही प्रज्ज्वलित की गई ज्योति की लौ ही है जो आज भी बुझी नहीं है, और चौराहे पर खड़े किसान आंदोलन को मूक अभिप्रेरित कर र
Oct 20, 2018, 18:25 pm    by : अमित मौर्या
महिलाओं को राजनीति में आरक्षण चाहिए .-- क्यों ? कैसा ? आखिर यह करना क्या चाहती हैं ? देश के लिए कुछ करने के लिए आरक्षण की जरूरत नहीं जहाँ जिसे आरक्षण चाहिए उसे राष्ट्र भक्षण के लिए आरक्षण चाहिए राष
Oct 18, 2018, 20:47 pm    by : अमित मौर्या
रावण उत्तम कुल का था. वह वह पुलत्स्कर का नाती और विशेश्रवा का बेटा था. पुलत्स्कर ने विश्व संस्कृत को प्रथम रंगमंच दिया था और ग्रीक नाट्य साहित्य में उसका उल्लेख "पुलित्ज़र" के नाम से मिलता है. र