खोजें
Mar 17, 2020, 16:57 pm    by : अमिय पाण्डेय
चंदौली: यूपी के चंदौली में ओम प्रकाश राजभर पहुँचे जहाँ मुुगलसराय में स्थाई सब्जी मंडी की मांग को लेकर चल रहे फल सब्जी व्यवसायियों के अनिश्चितकालीन हड़ताल के तीसरे दिन आज भारतीय समाज पार्टी
Dec 17, 2018, 19:10 pm    by : अमिय पाण्डेय
भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश सरकार में कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश राजभर आज चन्दौली में थे,यहाँ उन्होंने अपने सहयोगी भारतीय जनता पार्टी के खिलाफ एकबार फिर बागी तेवर दिखाए लेक
Sep 09, 2018, 13:25 pm    by : अमिय पाण्डेय
ओमप्रकाश राजभर को कौन नही जानता ओमप्रकाश राजभर अक्सर अपने बयानों को लेकर चर्चा में रहते है इस बार यह चर्चा और खास बन गया।ओमप्रकाश राजभर इस समय उत्तरप्रदेश के चंदौली जनपद में पहुँचे है और बतौ
May 22, 2018, 9:17 am    by : जनता जनार्दन संवाददाता
सर्च इंजन गूगल ने आज भारतीय समाजसुधार आंदोलन के जनक और ब्रह्म समाज के संस्थापक राजा राममोहन राय को अपना डूडल समर्पित किया है. आज राजा राममोहन राय की २४६वीं जयंती है. इस डूडल पर क्लिक करते ही रा
Apr 03, 2018, 12:14 pm    by : जनता जनार्दन संवाददाता
भारतीय समाज सुधारक और स्वतंत्रता सेनानी कमलादेवी चट्टोपाध्याय की 115वीं जयंती पर गूगल ने डूडल बनाकर याद किया है. कमलादेवी चट्टोपाध्याय का जन्म 3 अप्रैल, 1903 को हुआ था. गूगल ने कमलादेवी चट्टोपाध्
Jul 23, 2017, 19:38 pm    by : त्रिभुवन
कोली जाति के रामनाथ कोविंद के राष्ट्रपति और घांची जाति के नरेंद्र मोदी के प्रधानमंत्री बन जाने का साफ़ सा अर्थ यह है कि हिन्दुत्ववादी राजनीति के रणनीतिकारों ने भारी शिफ्ट किया है और अब वे जिस
Oct 11, 2016, 18:20 pm    by : जनता जनार्दन डेस्क
यह वाकई आश्चर्य की बात है कि मदर टेरेसा, कस्तूरबा गांधी और सरोजिनी नायडू के देश में बालिकाओं पर इतने अत्याचार हो रहे हैं व उनके साथ भेदभाव किया जाता है. सच तो यह है कि बालिका ही मां बनकर पूरे परि
Mar 08, 2016, 12:28 pm    by : प्रभुनाथ शुक्ल
आधुनिक भारतीय समाज में स्त्रियों की सुरक्षा अधिक चिंता और बहस का केंद्रबिंदु बन गया है। यह सवाल संसद से लेकर सड़क तक तैर रहा है। नारी मर्यादा को उघाड़ने वाली कुछ वारदातों ने हमारी संस्कृति क
Feb 27, 2016, 11:45 am    by : जनता जनार्दन डेस्क
पूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिदंबरम ने देश में कायम हो चुके गहरे ध्रुवीकरण और सांप्रदायिक एवं अन्य लाइनों पर बहसों को गढ़े जाने के चलन पर गंभीर चिंता जताई।चिदंबरम ने कहा कि अब तक सिर्फ तीन मौके ऐ
Dec 15, 2015, 13:17 pm    by : जनता जनार्दन डेस्क
भारतीय इतिहास के पन्नों में शूरवीरों की गाथाओं के साथ 16 दिसंबर, 2012 का वह काला पन्ना भी दर्ज हो गया है, जिसने पुरुषसत्ता और सामंती मानसिकता के लिजलिजे कीचड़ में मदमस्त डूबे भारतीय समाज को झकझोर