Tuesday, 20 October 2020  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 
खोजें
Jul 11, 2018, 20:06 pm    by : जनता जनार्दन डेस्क
भारत अब दुनिया की छठी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन चुका है, ये जगह भारत ने फ्रांस को सातवें स्थान पर पीछे करके हासिल की है, ये दावा विश्व बैंक के साल 2017 में जारी किए गए आंकड़ों के अध्ययन से पता चला ह
Nov 06, 2017, 18:35 pm    by : जनता जनार्दन डेस्क
हाल ही में अहमदाबाद के प्रमुख सदर अस्पताल में तीन दिन में 18 नवजात शिशुओं की मौत के बाद इसके कारणों को लेकर पूरे देश में चर्चा होने लगी, जिसमें एक बात सामने आई कि उनमें से ज्यादातर बच्चे सामान्य
Jan 15, 2017, 16:25 pm    by : अपर्णा कालरा
एक सरकारी स्कूल जिसे 59 शिक्षकों की जरूरत है, वहां केवल दो अस्थाई तौर पर नियुक्त किए गए शिक्षक हैं। यह कहानी किसी दूरदराज के पिछड़े ग्रामीण क्षेत्र की नहीं है, बल्कि राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र
Apr 04, 2014, 17:18 pm    by : जनता जनार्दन डेस्क
सामाजिक प्रगति सूचकांक पर 132 देशों की सूची में भारत का स्थान 102वां रहा। यह मानवीय सुख का पैमाना है जो सकल घरेलू उत्पाद या प्रति व्यक्ति आय के पारंपरिक आर्थिक आकलन के पार जाता है। सामाजिक प्रगति
Jun 01, 2013, 13:18 pm    by : जनता जनार्दन डेस्क
देश की आर्थिक विकास दर ही पिछले एक दशक के तलहटी पर नहीं पहुंची है, बल्कि इसके साथ आम जनता की कमाई पर भी गहरी चपत लगी है। सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) की विकास दर के हिसाब से देखें तो वर्ष 2012-13 के दौरान
Mar 17, 2013, 17:35 pm    by : जनता जनार्दन डेस्क
बिहार को विशेष राज्य का दर्जा दिलाने की मांग को लेकर दिल्ली के रामलीला मैदान में जनतादल यूनाइटेड ने रविवार को विशाल अधिकार रैली आयोजित की। इस रैली में बड़ी संख्या में लोग शामिल हुए। रैली में न
Mar 03, 2013, 15:49 pm    by : निवेदिता
मशहूर फैशन डिजायनर रितु बेरी का कहना है कि इन दिनों खरीदारों की 'इच्छा', 'आवश्यक्ता' में बदल गई है, जो फैशन जगत में काम करने वालों के लिए अच्छा है।बेरी ने एक साक्षात्कार में बताया, "पिछले छ
May 25, 2012, 17:23 pm    by : जनता जनार्दन संवाददाता
भारी सब्सिडी के बोझ और राजस्व वसूली में कमी के कारण सरकार के ऋण में हो रही बढो़तरी से वित्त वर्ष 2011-12 में देश का प्रत्येक नागरिक 33 हजार रुपए का कर्जदार हो जाएगा। वित्त मंत्रालय के अनुमान के मुता
Nov 27, 2011, 14:04 pm    by : जनता जनार्दन संवाददाता
सॉफ्टवेयर कम्पनी डाटाविंड ने विद्यार्थियों के जेब का ख्याल करते हुए एक बेहतरीन कम्प्यूटर तैयार किया है जो मात्र तीन हजार रुपये में जनवरी से बाजार में उपलब्ध होगा। कंपनी के मुख्य कार्यकारी