Saturday, 17 April 2021  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 
खोजें
Aug 18, 2016, 14:14 pm    by : जनता जनार्दन डेस्क
स्वतंत्रता दिवस के अपने भाषण के अंत में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा की गई एक सामान्य टिप्पणी ने पाकिस्तान के रिसते बलूचिस्तान के घाव को सबके सामने लाकर रख दिया।