Saturday, 19 October 2019  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 
खोजें
Jun 07, 2017, 5:57 am    by : त्रिभुवन
आप 15 अगस्त 1947 से ऐसा का ऐसा कर रहे हो। आपकी सत्ता की दुकान वही की वही रहती है और हर पांच, दस या पंद्रह साल में एक बार उस दुकान का बोर्ड बदलते हो। सत्ता की आपकी यह दुकान किसी राज्य में किसी के नाम से च
Apr 30, 2017, 14:05 pm    by : जनता जनार्दन संवाददाता
ईसाई ईसा को ही पूजते हैं। मुसलमान मुहम्मद साहब को ही आख़िरी पैग़ंबर मानते हैं और अल्लाह के अलावा किसी अन्य में कोई विश्वास नहीं करते। बौद्धों के लिए बुद्ध के अलावा कुछ भी मान्य नहीं हैं। हर धर्म