Monday, 30 November 2020  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 
खोजें
Dec 31, 2011, 6:59 am    by : जय प्रकाश पांडेय
हर साल पहली जनवरी को नए साल के स्वागत से पहले दिसंबर की आख़िरी तारीखों के आते ही बीतने वाले साल की घटनाओं व उपलब्धियों के लेखेजोखे के साथ, नए साल की चुनौतियों पर चर्चा करना मीडिया की कितनी पुरात
Apr 18, 2011, 12:55 pm    by : आशुतोष
अन्ना न हुए, जी का जंजाल हो गए। पूरे सत्ता प्रतिष्ठान को यही लगता है। लिहाजा अन्ना और आंदोलन से जुड़े लोगों को बदनाम करने की साजिशें रची जाने लगीं। ऐसे-ऐसे तर्क दिए जा रहे हैं कि हंसी आ रही है। ए
Apr 15, 2011, 12:09 pm    by : आशुतोष
अन्ना के मंच पर सभी धर्मों के लोग थे, सभी धर्मों की प्रार्थनाएं हुईं और इकट्ठा हुए लोग सौ-सौ रुपये देकर ट्रकों में बंधक बना के नहीं लाए गए। ये वो लोग थे जो ये नहीं देखना चाहते कि एक राष्ट्रीय पार
Apr 08, 2011, 5:02 am    by : जय प्रकाश पांडेय
आज देश के लगभग सभी बड़े अख़बारों का पहला पन्ना नई दिल्ली के जंतर-मंतर पर भ्रष्टाचार के सवाल पर 4 दिनों से आमरण अनशन पर बैठे 73 साल के गाँधीवादी अन्ना हज़ारे के अनशन पर नहीं, बल्कि टी20 के आईपीएल मैं