Friday, 28 January 2022  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 

तांत्रिक क्रियाओं के लिए उल्‍लुओं पर नजर, बचाने के लिए प्रशासन ने लिया ये फैसला

जनता जनार्दन संवाददाता , Nov 03, 2021, 18:23 pm IST
Keywords: Diwali 2021   Shubh Diwali   Happy Diwali Diwali India   Dipawal   Diwali Tantra Kriya on Owls     
फ़ॉन्ट साइज :
तांत्रिक क्रियाओं के लिए उल्‍लुओं पर नजर, बचाने के लिए प्रशासन ने लिया ये फैसला

देश-दुनिया में गुरुवार को हिंदुओ का सबसे बड़ा त्योहार दिवाली मनाया जाएगा. इस त्योहार पर सभी लोग घर-मंदिरों में पूजा पाठ कर अपने परिवार और देश की समृद्धि की कामना करते हुए पूजा पाठ करते है. इस दिन कुछ लोग उल्लुओं को पकड़कर उन पर तंत्र क्रिया (Diwali Tantra Kriya on Owls) भी करते हैं. 

मान्यताओं के अनुसार दिवाली (Diwali 2021) का यह त्योहार तांत्रिक क्रियाओं (Diwali Tantra Kriya on Owls) के लिए भी शुभ माना जाता है. इस त्योहार पर तांत्रिक उल्लुओं की बलि देते हैं. जिसके पहले से ही लुप्त प्राय: हो चुके इस पक्षी का बड़े पैमाने पर शिकार होता है. इस बार की दिवाली पर ऐसा न हो, इसे रोकने के लिए हरिद्वार वन विभाग की टीम पूरी तरह अलर्ट है. 

तंत्र क्रिया के लिए किया जाता है उल्लू का शिकार

हरिद्वार वन विभाग के प्रभागीय वनाधिकारी नीरज शर्मा ने बताया कि दिवाली (Diwali 2021) के अवसर पर कुछ लोग तांत्रिक क्रियाओं के लिए उल्लू का शिकार करते है. उनकी टीम ऐसी किसी घटना को रोकने के लिए पूरी तरह मुस्तैद है. वनाधिकारी के मुताबिक हरिद्वार रीजन के करीब 150 कर्मचारी और उनके साथ दैनिक कर्मचारियों की करीब 45 टीमें अलग अलग स्थानों पर वायरलेस ओर अन्य उपकरणों से लैस हैं. 

सभी वन कर्मियों की छुट्टियां की गई रद्द

उन्होंने बताया कि उल्लुओं (Owls) की सुरक्षा के लिए फील्ड में तैनात सभी वन कर्मियों की छुट्टियों को रद्द कर दिया गया है. उन्होंने चेतावनी दी कि अगर कोई व्यक्ति उल्लू का शिकार करता पाया गया तो उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी. इसमें उसके खिलाफ भारी जुर्माने के साथ ही जेल की सजा भी शामिल है. 

अन्य त्यौहार लेख
वोट दें

क्या आप कोरोना संकट में केंद्र व राज्य सरकारों की कोशिशों से संतुष्ट हैं?

हां
नहीं
बताना मुश्किल