Monday, 06 December 2021  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 

पूरी दुनिया में कोरोना वायरस संक्रमण में आई गिरावट: WHO

जनता जनार्दन संवाददाता , Sep 23, 2021, 19:49 pm IST
Keywords: World Health Organization   Mankind   Spanish Flu   Europe   United States   India   कोरोना वायरस  
फ़ॉन्ट साइज :
पूरी दुनिया में कोरोना वायरस संक्रमण में आई गिरावट: WHO

WHO ने पूरे दुनिया के कोरोना के मामले को लेकर एक राहत भरी खबर दी है. विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कोरोना के मामले को लेकर एक अच्छी खबर दी है. विश्व स्वास्थ्य  संगठन के रिपोर्ट के अनुसार पूरे दुनिया में कोरोना के मामले में कमी देखी गई है.

WHO ने बताया कम हुए कोविड के मामले

WHO के रिपोर्ट के अनुसार पिछले सप्ताह से कोविड-19 के मामलों में गिरावट जारी है. विश्व स्तर पर पिछले सप्ताह कोरोना के 3.6 मिलियन नए मामले सामने आए. जो पिछले सप्ताह मिले 4 मिलियन मामलों से कम थे.

मंगलवार को जारी महामारी पर अपने नवीनतम अपडेट में WHO ने बताया कि दो क्षेत्रों में मामलों में बड़ी कमी देखी गई है. यह क्षेत्र है मध्य पूर्व और दक्षिण पूर्व एशिया. मध्य पूर्व एशिया में जहां 22 प्रतिशत कोविड के मामलों में कमी देखी गई वहीं दक्षिण पूर्व एशिया में 16 प्रतिशत कोविड के मामलों में कमी देखी गई.

संयुक्त राष्ट्र की स्वास्थ्य एजेंसी ने कहा कि पिछले एक सप्ताह में 60,000 से कम मौतें हुई हैं, जो 7 प्रतिशत की गिरावट है.  इसने कहा कि जहां दक्षिण पूर्व एशिया में COVID-19 मौतों में 30 प्रतिशत की कमी दर्ज की गई, वहीं पश्चिमी प्रशांत क्षेत्र में 7 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई.

भारत, अमेरिका ब्रिटेन, तुर्की में बढ़े मामले

कोरोना वायरस के मामले सबसे ज्यादा अमेरिका, भारत, ब्रिटेन, तुर्की और फिलीपींस में देखे गए. डब्ल्यूएचओ ने कहा कि तेजी से फैलने वाला डेल्टा संस्करण अब 185 देशों में देखा गया है और यह दुनिया के हर हिस्से में मौजूद है.

WHO ने कहा कि एमयू वेरिएंट और लैम्ब्डा वैरिएंट पर नजर बनाए हुए है जो लैटिन अमेरिका में पैदा हुआ है. हालांकि अब तक व्यापक महामारी का कारण नहीं बने हैं. सभी देशों में कोरोना के प्रसार का सबसे बड़ा कारण डेल्टा वेरिएंट बन गया है.  

अन्य अंतरराष्ट्रीय लेख
वोट दें

क्या आप कोरोना संकट में केंद्र व राज्य सरकारों की कोशिशों से संतुष्ट हैं?

हां
नहीं
बताना मुश्किल
सप्ताह की सबसे चर्चित खबर / लेख