Monday, 18 October 2021  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 

यूपी सरकार ने अपने साढ़े चार साल के कामकाज का ब्यौरा जनता के सामने रखा

जनता जनार्दन संवाददाता , Sep 19, 2021, 18:45 pm IST
Keywords: CM Yogi   Yogi Adityanath   CM   Uttarpradesh   यूपी   मुख्यमंत्री  
फ़ॉन्ट साइज :
यूपी सरकार ने अपने साढ़े चार साल के कामकाज का ब्यौरा जनता के सामने रखा

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने आज अपनी सरकार के काम-काज का लेखाजोखा सामने रखा. इस दौरान उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) का आभार जताया. उन्होंने कहा कि, केंद्र से हमें लगातार सहयोग मिला जिससे हमने सभी योजनाओं को अच्छी तरह से लागू किया. सीएम योगी ने कहा कि, पहले की सरकारों के कार्यकाल में यूपी की क्या दशा थी, ये किसी से छिपी नहीं थी.

सीएम योगी ने कहा कि, पहले सरकारी योजना का हाल क्या होता था, ये सभी जानते हैं. हमारी सरकार ने सभी वर्गों तक पूरी इमानदारी के साथ सरकारी योजनाओं को पहुंचाया. आपदा के वक्त सरकार ने हर स्तर पर लोगों को सहायता पहुंचाई. उन्होंने बताया कि, कोरोना काल में 15 करोड़ लोगों को मुफ्त राशन दिया गया.

दंगा मुक्त हुआ यूपी

उन्होंने कहा कि, यूपी में पहले हर तीसरे चौथे दिन दंगा हुआ करता था, लेकिन हमारी सरकार ने प्रदेश को दंगामुक्त बनाया. वहीं, उन्होंने कहा कि हमने माफिया और अपराधियों पर कानून की दायरे में कार्रवाई की. सीएम योगी ने कहा कि, हमने 1800 करोड़ की सरकारी संपति जब्त की और अवैध निर्माण पर कार्रावाई की.

पारदर्शी भर्तियां

सरकारी नौकरियों को लेकर सीएम योगी ने कहा कि, पहले कुछ परिवारों को लिए ये वसूली का काम होता था. उन्होंने कहा कि, हमारी सरकार ने पार्दर्शी तरीके से सरकारी नौकरी में भर्ती शुरू की. सीएम ने कहा कि, साढ़े चार लाख युवाओं को हमारी सरकार ने नौकरी दी. किसी भी भर्ती में कोई दलाली नहीं हुई. उन्होंने कहा कि, पहले की सरकारों में वर्षों से नौकरी लंबित पड़ी थी.

इसके अलावा सीएम ने बताया कि, यूपी पुलिस में 30 हजार महिला आरक्षियों की भर्ती की गई. बेसिक शिक्षा परिषद में ज्यादातर महिलाओं की भर्ती की गई. उन्होंने बताया कि, प्रदेश में 50 नये महाविद्यालय बनाये जा रहे हैं. 

यूपी में तीन लाख करोड़ का निवेश

मुख्यमंत्री ने कहा कि, यूपी में कानून व्यवस्था ऐसी थी कि, निवेश नहीं था और इज ऑफ डुइंग के मामले में प्रदेश का 14वां स्थान था. लेकिन हमारी सरकार ने कानून-व्यवस्था में सुधार करते हुए यूपी में पहले इन्वेस्टर समिट का आयोजन किया गया. और खास बात ये है कि, अब देश और दुनिया का उद्योगपति प्रदेश में निवेश का इच्छुक है. उन्होंने जानकारी देते हुए कहा कि, यूपी में तीन लाख करोड़ का निवेश हुआ है. उन्होंने कहा कि यूपी अब इज ऑफ डुइंग में दूसरे स्थान पर आ गया है.

उन्होंने कहा कि, यूपी में सुरक्षा का वातावरण बनाया गया. बहन-बेटी की सुरक्षा के लिए एंटी रोमियो स्कवॉयड बनाया गया.

अन्य राज्य लेख
वोट दें

क्या आप कोरोना संकट में केंद्र व राज्य सरकारों की कोशिशों से संतुष्ट हैं?

हां
नहीं
बताना मुश्किल