Monday, 18 October 2021  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 

अफगानिस्तान और आतंकवाद का जिक्र करते हुए क्या बोले पीएम मोदी?

जनता जनार्दन संवाददाता , Sep 17, 2021, 19:19 pm IST
Keywords: Afghanistan Crisis   PM Modi   Narendra Modi   PM   अफगानिस्तान    तालिबान   PM Modi on Afghanistan  
फ़ॉन्ट साइज :
अफगानिस्तान और आतंकवाद का जिक्र करते हुए क्या बोले पीएम मोदी?

अफगानिस्तान की स्थिति पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज कहा कि अगर अस्थिरता और कट्टरवाद कायम रहता है, तो यह पूरी दुनिया में आतंकवादी और चरमपंथी विचारधाराओं को प्रोत्साहित करेगा. अन्य उग्रवादी समूहों को हिंसा के माध्यम से सत्ता पाने का प्रोत्साहन भी मिल सकता है.

पीएम मोदी ने ताजिकिस्तान की राजधानी दुशांबे में आयोजित शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) की वार्षिक शिखर बैठक को संबोधित करते हुए कहा, ''अफगानिस्तान में सत्ता परिवर्तन समावेशी नहीं है और बिना बातचीत के हुआ है.''

पीएम मोदी ने कहा कि अफगानिस्तान के घटनाक्रम से मादक पदार्थ, अवैध हथियारों का अनियंत्रित प्रवाह और मानव तस्करी की घटनाएं बढ़ सकती हैं. साथ ही उन्होंने कहा कि हमें मिलकर यह सुनिश्चित करना चाहिए कि मानवीय सहायता अफगानिस्तान तक निर्बाध रूप से पहुंचे.

पीएम मोदी ने कहा, ''अफ़ग़ानिस्तान में हाल के घटनाक्रम का सबसे अधिक प्रभाव हम जैसे पड़ोसी देशों पर होगा. और इसलिए, इस मुद्दे पर क्षेत्रीय फोकस और सहयोग आवश्यक है.''

पीएम ने कहा, ''आज भी हम अपने अफ़ग़ान मित्रों तक खाद्य सामग्री, दवाइयां आदि पहुंचाने के लिए इच्छुक हैं.  हम सभी को मिल कर यह सुनिश्चित करना चाहिए कि अफ़ग़ानिस्तान तक मानवीय सहायता निर्बद्ध तरीके से पहुँच सके.''

बता दें कि पिछले महीने 15 अगस्त को तालिबान ने पंजशीर को छोड़कर पूरे अफगानिस्तान पर कब्जा कर लिया था. इसके बाद तालिबान ने सात सितंबर को सरकार बनाने का एलान किया. तालिबान के कब्जे के बाद हजारों-हजार की संख्या में लोग अफगानिस्तान छोड़ चुके हैं. अफगानिस्तान के सामने मानवीय संकट खड़ा हो गया है. 

अन्य राष्ट्रीय लेख
वोट दें

क्या आप कोरोना संकट में केंद्र व राज्य सरकारों की कोशिशों से संतुष्ट हैं?

हां
नहीं
बताना मुश्किल