Monday, 18 October 2021  |   जनता जनार्दन को बुकमार्क बनाएं
आपका स्वागत [लॉग इन ] / [पंजीकरण]   
 

अखिलेश यादव ने बताया M-Y फॉर्मूले का नया मतलब

जनता जनार्दन संवाददाता , Sep 17, 2021, 19:15 pm IST
Keywords: Uttar Pradesh   Samajwadi Party   Akhilesh Yadav   Akhilesh Yadav on M-Y Formula   समाजवादी पार्टी   प्रगतिशील समाजवादी पार्टी लोहिया  
फ़ॉन्ट साइज :
अखिलेश यादव ने बताया M-Y फॉर्मूले का नया मतलब

उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) की नई टैग लाइन 'नई हवा है, नया सपना है' है. इसका मुकाबला करने के लिए, पार्टी अपने (मुस्लिम-यादव) फॉर्मूले को एक नया अर्थ दे रही है, जिसने उसे उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में एक से अधिक बार सत्ता में पहुंचाया है. सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने कहा, "नई सपा में एम-वाई का मतलब महिला और युवा है. हम अब बड़े परिप्रेक्ष्य में मुद्दों को संबोधित कर रहे हैं और जातिवाद से बंधे नहीं हैं."

अखिलेश ने कहा कि समाजवादी पार्टी जाहिर तौर पर, जाति की रेखाओं से ऊपर उठकर महिलाओं और युवाओं को एक समुदाय के रूप में संबोधित करना चाहती है. उन्होंने कहा कि बीजेपी ने किसानों के मुद्दों को पूरी तरह से नजरअंदाज किया है और युवाओं को रोजगार से वंचित रखा गया है. उन्होंने कहा, "ये मुद्दे आगामी चुनावों में चुनावी मुद्दा होंगे."

महिलाओं के बारे में बात करते हुए उन्होंने कहा कि महिलाओं के खिलाफ अपराध के मामलों ने साबित कर दिया कि वे इस शासन में सुरक्षित नहीं हैं. उन्होंने कहा, "हमने महिलाओं के लिए हेल्पलाइन स्थापित की थी, लेकिन इस सरकार ने उन्हें अप्रभावी बना दिया. महिलाओं के बारे में सारी बातें कागजों पर होती हैं, हकीकत में नहीं." उन्होंने दावा किया कि जनता भारतीय जनता पार्टी सरकार से निराश है और सपा को सत्ता में वापस लाएगी. उन्होंने कहा, 'सपा पार्टी संरक्षक मुलायम सिंह यादव की विचारधारा और नई रणनीतियों के साथ सरकार बनाएगी.'

सपा बड़ी पार्टियों से हाथ नहीं मिलाएगी- अखिलेश

अपने चाचा और प्रगतिशील समाजवादी पार्टी लोहिया के प्रमुख शिवपाल यादव के बारे में बोलते हुए उन्होंने कहा कि एक ही विचारधारा वाले सभी दलों के साथ गठबंधन संभव है, लेकिन सपा बड़ी पार्टियों से हाथ नहीं मिलाएगी क्योंकि उनके साथ अनुभव बहुत अच्छा नहीं रहा है. उन्होंने आगे कहा कि सपा शासन के दौरान रणनीतिक विकास कार्यों का श्रेय बीजेपी ले रही है.

अन्य चुनाव लेख
वोट दें

क्या आप कोरोना संकट में केंद्र व राज्य सरकारों की कोशिशों से संतुष्ट हैं?

हां
नहीं
बताना मुश्किल